अभिभावक चाहें तो कल से बच्चे को भेज सकेंगे स्कूल

अभिभावक चाहें तो कल से बच्चे को भेज सकेंगे स्कूल
Publish Date:Sun, 20 Sep 2020 06:31 AM (IST) Author: Jagran

पटना। अनलॉक में मिली रियायत के मुताबिक 21 सितंबर से नौवीं से लेकर 12वीं तक के बच्चे स्कूल जा सकेंगे। इसके लिए उनके अभिभावक की सहमति जरूरी होगी। स्कूल में फिलहाल सामान्य कक्षाओं का संचालन नहीं होगा। छात्र चाहें तो स्कूल जाकर शिक्षक से मिलकर अपनी जिज्ञासा का समाधान कर सकते हैं। स्कूल छात्रों को आने के लिए बाध्य नहीं करेंगे। फिलहाल कोई प्रार्थना सभा भी नहीं होगी।

स्कूलों में कोरोना संक्रमण रोकने की समुचित व्यवस्था की जाएगी। मास्क पहनने के उपरांत ही बच्चों को स्कूल में प्रवेश करने की अनुमति प्रदान की जाएगी। सीबीएसई के सिटी कोऑर्डिनेटर डॉ. राजीव रंजन सिन्हा का कहना है कि केंद्र सरकार के निर्देश के अनुसार स्कूल आने वाले बच्चों की शंका दूर करने की हर संभव कोशिश की जाएगी। अभी सीमित मात्रा में ही छात्रों को स्कूल आने की अनुमति प्रदान की जाएगी। हर शिक्षक के लिए समय निर्धारित कर दिया गया है। निर्धारित समय पर ही छात्र आकर अपनी शंका का समाधान शिक्षकों से पूछ सकते हैं। सामान्य क्लास चलाने में अभी समय लगेगा। सीबीएसई स्कूलों के संगठन पाटलिपुत्र सहोदय के पूर्व कोषाध्यक्ष एके नाग का कहना है कि शिक्षकों को निर्देश दिया गया है कि अभिभावक की अनुमति से स्कूल आने वाले छात्रों को शिक्षक विशेष कक्षा में बैठकर उनकी समस्या को दूर करने का प्रयास करेंगे। बिना अनुमति के किसी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। एक कक्षा में फिलहाल 12 छात्र को ही बैठने की अनुमति प्रदान की जाएगी। पाटलिपुत्र विवि में आज तक होगा स्नातक में नामांकन

पटना। पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय के अंगीभूत व संबद्ध महाविद्यालयों में नामांकन रविवार तक होगा। विवि प्रशासन ने छात्रहित में अंतिम तिथि को विस्तार दिया था। यह रविवार को पूरा होगा। स्नातक प्रथम वर्ष में छात्रों के नामाकन के लिए समय निर्धारित था। विवि के कॉलेजों में चयनित छात्र-छात्राओं के मोबाइल पर एसएमएस से सूचना भेजी गई है। छात्र-छात्राएं अपने मोबाइल से ही ऑनलाइन प्रक्रिया अपनाकर नामाकन करेंगे। पाटलिपुत्र विवि के अंतर्गत 25 सरकारी अंगीभूत कॉलेज और 44 संबद्ध महाविद्यालय हैं। इनकी 1.25 लाख सीटों पर नामाकन होना है। विवि की ओर से लगभग 80 हजार छात्रों की पहली मेधा सूची जारी की गई है। इसके आधार पर छात्र रविवार तक नामाकन करा सकेंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.