पप्पू यादव ने लगाया बड़ा आरोप, कहा- रूपेश सिंह की हत्या में बड़े नेता, अफसर और माफिया हैं शामिल

प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में मीडिया से बात करते जाप अध्‍यक्ष व पूर्व सांसद पप्‍पू यादव । जागरण फोटो ।

जाप के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष व पूर्व सांसद पप्‍पू यादव ने राज्‍य सरकार से सभी भ्रष्ट अधिकारियों को बर्खास्त करने की मांग की है। कहा- कई ठेकों में रुपेश की संलिप्‍तता थी। उन्‍हीं के इशारे पर रुपेश की हत्‍या की गई। अपराधियों को नेताओं और सरकारी पदाधिकारियों का संरक्षण प्राप्त है।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 04:19 PM (IST) Author: Sumita Jaiswal

पटना , राज्य ब्यूरो । जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व सांसद पप्पू यादव ने कहा है कि  इंडिगो एयरलाइन्स के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या के तार बड़े-बड़े नेताओं, अधिकारियों और माफिया से जुड़े हुए हैं। पीएचईडी और बिजली विभाग के ठेकों में रूपेश सिंह की संलिप्तता थी। दरभंगा में नहर का ठेका जिस कंपनी को मिला उसमें भी रूपेश सिंह शामिल थें। इन्हीं वजह से बड़े ठेकेदारों, नेताओं और अधिकारियों के इशारे पर रूपेश सिंह की हत्या करवाई गयी। इसकी पूरी जांच निष्पक्ष तरीके से होनी चाहिए। पप्पू रविवार को पार्टी कार्यालय में प्रेस से बात कर रहे थे।

शराब, जमीन और बालू माफिया पर हो कार्रवाई

पप्पू ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आग्रह किया है कि अगर बिहार से अपराध को ख़त्म करना है तो शराब, जमीन और बालू से धन कमाने वालों की संपत्ति की जांच प्रवर्तन निदेशालय के द्वारा हो। इन धंधों से जुड़े सभी तस्करों और माफिया को जेल भेजा जाए। बिहार में वर्तमान में जितनी बड़ी आपराधिक घटनाएं हो रही हैं उन सभी के पीछे इन्हीं लोगों का हाथ है। अपराधियों को नेताओं और सरकारी पदाधिकारियों का संरक्षण प्राप्त है।

कटिहार के डीएम पर भी आंच

सरकारी विभागों में प्रशासनिक अनियमितता का आरोप लगाते हुए पप्पू यादव ने कहा कि वर्ष 2018 में बिहार स्टेट पावर होल्डिंग काॅरपोरेशन लिमिटेड की ओर से पांच ऐसी महिलाओं को विदेश प्रशिक्षण के लिए भेजा गया जो योग्य नहीं थीं। ये सब कॉर्पोरेशन के सीएमडी के इशारों पर हुआ। कटिहार में जिस आई.ए.एस. अधिकारी को डीएम बनाया गया उनपर पहले से सीबीआई जांच चल रही थी। अब वे छुट्टी पर क्यों चले गए हैं? उन्हें जल्द से जल्द बर्खास्त किया जाए। नीतीश जी के शासन में सिर्फ भ्रष्ट अधिकारियों को बड़े पदों पर नियुक्त किया गया है।

सरकारी लोग की कर रहे शराब तस्‍करों की मदद

 पप्पू यादव ने कहा कि शराबबंदी से पहले बिहार सरकार को 4 हज़ार करोड़ की आय शराब से होती थी। अब इससे दोगुना नेताओं और अधिकारियों को मिल रहा है। सरकारी तंत्र के जुड़े लोग ही सरकार की नाक के नीचे से शराब तस्करों की मदद रहे हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राघवेन्द्र सिंह कुशवाहा, महासचिव प्रेमचंद सिंह, राजेश रंजन पप्पू, राजू दानवीर समेत पार्टी के अन्य नेता मौजूद थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.