एनएमसी का स्वर्ण जयंती समारोह होगा खास, तैयारी तेज

पटना सिटी। नालंदा मेडिकल कॉलेज दो अप्रैल को अपनी स्थापना की 50वीं सालगिरह मनाएगा। इस अवसर को यादगार बनाने के लिए कॉलेज प्रशासन से लेकर शिक्षक एवं छात्र-छात्राएं दिन रात लगे हैं। कॉलेज में जारी खेल सप्ताह के तहत मंगलवार को छात्र-छात्राओं ने कई खेल प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया। 29 मार्च को मेडिकल स्टूडेंट्स के बीच साहित्यिक प्रतियोगिता होगी। इसमें ज्वंलशील विषयों पर प्रतिभागी अपना पक्ष रखेंगे। कॉलेज के खुले मैदान में स्टार नाट्स का भी रंगारंग आयोजन होगा। इसकी तैयारी जोरों पर है।

आयोजक बैच 1995 के अमंग अग्रवाल, प्रभात जोशी, आशीष चौधरी, मिथिलेश यादव, दीपांशु सिंह, रितेश रंजन, विशाल चौधरी, प्रिस राज, शानू आनंद, इति शुभांगी, सोमन चौधरी, सृष्टि प्रकाश, श्वेता प्रसाद, मासूम श्रीवास्तव समेत अन्य मेडिकल छात्र-छात्राएं प्रतियोगिता में सक्रिय रहे। उन्होंने बताया कि पीएमएम विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. अखौरी पी के सिन्हा की निगरानी में साहित्यिक प्रतियोगिता की तैयारी चल रही है। प्रोटेक्शन ऑफ डॉक्टर्स इज द रिस्पांसिबिलिटी ऑफ द स्टेट विषय पर अंग्रेजी में विद्यार्थियों के बीच वाद-विवाद प्रतियोगिता होगी। वहीं वर्तमान परि²श्य में आतंकवाद पर काबू के लिए सैन्य कार्रवाई आवश्यक है, विषय पर हिन्दी में वाद विवाद होगा। इसके अलावा मेडिकल क्विज, सामान्य क्विज होगा। चल रही ऑनलाइन प्रतियोगिता का परिणाम 29 को सार्वजनिक होगा। इसी दिन विजेताओं को पुरस्कृत किया जाएगा। आयोजन बैच के विद्यार्थियों ने बताया कि नेत्र विभाग के प्रोफेसर डॉ. राजेश तिवारी, फॉरेंसिक मेडिसिन विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. राजीव रंजन दास और पीएसएम विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. अखौरी पीके सिन्हा का नाम निर्णायक मंडल के लिए प्रस्तावित किया गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.