मोदी राज में कमजोर हो गए हैं मोहन भागवत? विकास छोड़, शाहरुख और रिया की हो रही बातः तेजस्वी

बिहार में पांच लाख से ज्यादा सरकारी पद रिक्त हैं। इस विषय को पुरजोर तरीके से उठाने के लिए राजद जल्द ही बेरोजगारी महारैला करेगा। तैयारी चल रही है। तेजस्वी शनिवार को दिल्ली में एक निजी चैनल से बात कर रहे थे।

Akshay PandeyPublish:Sat, 04 Dec 2021 08:48 PM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 08:48 PM (IST)
मोदी राज में कमजोर हो गए हैं मोहन भागवत? विकास छोड़, शाहरुख और रिया की हो रही बातः तेजस्वी
मोदी राज में कमजोर हो गए हैं मोहन भागवत? विकास छोड़, शाहरुख और रिया की हो रही बातः तेजस्वी

राज्य ब्यूरो, पटना : नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बेरोजगारी को सबसे बड़ा मुद्दा बताया और कहा कि बिहार में पांच लाख से ज्यादा सरकारी पद रिक्त हैं। इस विषय को पुरजोर तरीके से उठाने के लिए राजद जल्द ही बेरोजगारी महारैला करेगा। तैयारी चल रही है। तेजस्वी शनिवार को दिल्ली में एक निजी चैनल से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 2014 में मोहन भागवत ने कहा था कि कई सौ वर्षों बाद हिंदुओं का राज आया है। अब कह रहे हैं हिंदू पहले से कमजोर हुआ है। आखिर वह कहना क्या चाहते हैैं? क्या मोदी राज में वे कमजोर हो गए हैं? 

तेजस्वी ने कहा कि मैं चाहता हूं कि जाति-धर्म और क्षेत्र की बजाय नौकरी, रोजगार, महंगाई, उद्योग-धंधे, गरीबी, बेरोजगारी, किसान और विकास पर बातें हो, लेकिन बात होती है रिया चक्रवर्ती, तब्लिगी जमात, हिंदू-मुसलमान, लव जेहाद और शाहरुख खान के बेटे पर। जातिगत जनगणना के मुद्दे पर कहा कि हिंदू-मुस्लिम की गिनती होती है। पेड़ों की गिनती होती है। जंगल के जानवर गिन लिए जा रहे हैं। ऐसा क्यों होता है। योजना बनाने के लिए ही न? इसीलिए जाति आधारित गणना भी जरूरी है। यह लड़ाने के लिए नहीं है। सिख-ईसाई की गिनती होती है तो वे लड़ाई नहीं करते। बिना सही आंकड़े जुटाए कई वर्ग विशेष के सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक और राजनीतिक पिछड़ेपन को दूर करना संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि जो दल बिहार में 15 वर्षों से सत्ता में है, वह तीसरे स्थान पर चला गया है। स्वयं को दुनिया का सबसे बड़ा दल बताने वाली भाजपा तीसरे नंबर की पार्टी के हाथ में सत्ता सौंपने पर मजबूर है। जाहिर है, वे हमसे डरे हुए थे और डरे हुए हैं। तेजस्वी ने बिहार सरकार पर हमला करते हुए कहा कि राज्य की डबल इंजन सरकार फेल है। विकास राज्य से कोसों दूर भाग गया है।