LJP Chirag Paswan vs Pasupati Paras News HIGHLIGHTS: पशुपति को राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष की जिम्‍मेदारी, चिराग लड़ाई को तैयार

LJP Chirag Paswan vs Pasupati Paras Updates HIGHLIGHTS लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के एक गुट ने पशुपति कुमार पारस को अपना नया राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चुन लिए जाने का एलान कर दिया है। पार्टी के पटना स्थित बिहार प्रदेश कार्यालय में इसका औपचारिक तौर पर एलान किया गया।

Vyas ChandraThu, 17 Jun 2021 08:11 AM (IST)
अध्‍यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल करते व उसके बाद पशुपति पारस। जागरण

पटना, जागरण टीम। HIGHLIGHTS Chirag Paswan & LJP Split Updates लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के एक गुट ने पशुपति कुमार पारस को अपना नया राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चुन लिए जाने का एलान कर दिया है। पार्टी के पटना स्थित बिहार प्रदेश कार्यालय में इसका औपचारिक तौर पर एलान किया गया। इसी के साथ लोजपा में राम विलास पासवान (Ram Vilas Paswan) की विरासत की जंग अब रोचक दौर में पहुंच गई है। भतीजे चिराग पासवान (Chirag Paswan) के खिलाफ चाचा पशुपति कुमार पारस (Pashupati Kumar Paras) ने मोर्चा खोल दिया है। बताया जाता है कि 71 सदस्‍यों ने कार्यसमिति की बैठक में उन्‍हें अपना अध्‍यक्ष चुन लिया है। हालांकि इसकी औपचारिक घोषणा नहीं की गई है। इधर, चिराग ने कहा कि उन्‍हें राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष पद से कोई नहीं हटा सकता है। पारस गुट के एलान को उन्‍होंने पार्टी के संविधान के विरुद्ध बताते हुए लंबी लड़ाई का एलान किया।

HIGHLIGHTS Chirag Paswan & LJP Split Updates

05:10 बजे: अब से थोड़ी देर में पशुपति कुमार पारस का गुट प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर उनके राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष चुने जाने की औपचारिक घोषणा कर देगा। पार्टी नेता प्रदेश कार्यालय में पहुंचने लगे हैं। कार्यकर्ताओं में काफी उत्‍साह देखने को मिल रहा है।

04:20 बजे: बिहार में लोजपा का पारस खेमा फिलहाल भारी पड़ता दिख रहा है। पारस के समर्थकों ने पार्टी दफ्तर पर भी कब्‍जा जमा लिया है। चिराग के समर्थकों ने बुधवार को विरोध जरूर किया था, लेकिन वे भीड़ के सामने मुकाबले में नजर नहीं आए। अब चिराग को लोकसभा अध्‍यक्ष को दिए आवेदन और न्‍यायालय के सहारे लड़ाई को आगे बढ़ाने का रास्‍ता बचता दिख रहा है।

03:45 बजे: लोजपा में चल रहे उठापटक के बीच चिराग पासवान के चचेरे भाई प्रिंस राज अलग ही मुश्‍क‍िल में फंसते दिख रहे हैं। लोजपा की पूर्व पार्टी कार्यकर्ता होने का दावा करने वाली एक लड़की उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए अड़ी हुई हैं। वह लगातार मीडिया के सामने आकर प्रिंस पर शारीरिक शोषण करने का आरोप लगा रही हैं। उनका यह भी कहना है कि चिराग पासवान ने उनका नाम सार्वजनिक तौर पर उछाल कर गलत किया है।

03:20 बजे: सूरजभान के भाई और लोजपा के सांसद चंदन सिंह ने दावा किया कि पशुपति पारस को राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष बनाया जाना पहले से तय हो गया था। पार्टी के 95 फीसद लोग इस पर सहमत थे। इ‍सलिए नतीजे को लेकर किसी को कोई संशय नहीं होना चाहिए।

03:00 बजे: दोपहर में सूरजभान के आवास पर शुरू हुई बैठक में दस प्रस्‍तावकों ने पारस के नाम का प्रस्‍ताव दिया। सूत्रों के अनुसार इसके बाद उन्‍होंने नामांकन का परचा भरा और उन्‍हें अध्‍यक्ष चुना गया। हालांकि इसकी औपचारिक घोषणा शाम पांच बजे के प्रेस कान्‍फ्रेंस में किए जाने की उम्‍मीद है। 

02:30 बजे: जिस आधार पर पशुपति पारस ने चिराग पासवान को लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाया, उसी को दरकिनार कर वह अब खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने जा रहे हैं। लोकसभा में लोजपा के नेता और संगठन में अध्यक्ष के पद दोनों अब पशुपति पारस के पास रहेंगे। यह एक व्यक्ति एक पद के नियम की अनदेखी होगी।

02.00 बजे:लोजपा कार्यकारिणी की बैठक में प्रिंस राज नहीं पहुंचे हैं। पांच बागियों में चार ही सूरजभान सिंह के आवास पर चल  रही बैठक में पहुंचे हैं। पशुपति कुमार पारस ने अध्यक्ष पद के लिए नामांकन कर दिया है।  

01.30 बजे: एक ओर पटना में पारस समर्थकों की बैठक चल रही है तो दूसरी ओर चिराग पासवान कानून विशेषज्ञों से सलाह ले रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि वे सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा सकते हैं। साथ ही और बागियों को भी बर्खास्‍त करने की तैयारी चल रही है। 

01.00 बजे: कंकड़बाग स्थित सूरजभान सिंह के आवास के बाहर समर्थकों की भीड़ जुट रही है। माहौल में राजनीतिक गरमाहट बढ़ती जा रही है। अंदर बैठक चल रही है। किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए पुलिस के जवान भी मौजूद हैं। 

12.00 बजे: सूरज भान सिंह के आवास पर पहुंचे लोजपा सांसद चंदन सिंह ने कहा है कि आज पशुप‍त‍ि पारस को पार्टी की कमान दी जाएगी। उन्‍होंने कहा है कि हर पार्टी और दल का नेतृत्‍व बदलता है उसी तरह हमारे यहां भी हो रहा है।  

11.30 बजे: कंकड़बाग स्थित सूरजभान सिंह के आवास पर होने वाली बैठक में सभी पांच सांसदों को बुलाए जाने की खबर है। इनमें दलित सेना के सभी जिलाध्‍यक्षों को भी बुलाया गया है। पारस दलित सेना के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष हैं। इसका कारण यह बताया जा रहा है कि संख्‍या बल के दृष्टिकोण से ऐसा किया गया है। 

11:00 बजे: जानकारी के अनुसार अध्‍यक्ष का चुनाव होने के बाद पारस गुट चुनाव आयोग के समक्ष असली लोजपा होने का दावा करेगा। सूत्रों का कहना है कि अध्‍यक्ष चुनाव के बाद पारस और समर्थक सांसद मुख्‍यमंत्री से मिलने भी जा सकते हैं। 

10:30 बजे: चिराग समर्थकों के हंगामे के आसार को देखते हुए ही चुनाव का जगह बदला गया है। कई जगहों से चिराग के समर्थन में कार्यकर्ताओं ने पुतला दहन और अन्‍य तरह का विरोध किया है।   

10:00 बजे: पशुपति कुमार पारस 11 बजे दिन में नामांकन करेंगे। बताया जा रहा है कि यह कंकड़बाग में सूरजभान सिंह के आवास पर होगा। नामांकन के लिए तीन बजे तक का समय रखा गया है। चिराग पासवान के समर्थन में कई जिलों के कार्यकर्ता आ गए हैं। औरंगाबाद के रफीगंज से विस चुनाव में लोजपा प्रत्‍याशी रह चुके मनोज कुमार सिंह ने कहा है कि पांचों सांसदों ने जो किया है, वह धोखा है। उन्‍होंने कहा कि यह पार्टी हित में भी  नहीं है।  

09:30 बजे: पटना में होने वाली पारस समर्थकों की बैठक पर सभी राजनीतिक दलों की नजरें टिकी हुई हैं। बैठक में क्‍या होता है, इसकी उत्‍कंठा सबको है। इस बीच वहां हंगामे के आसार को देखते हुए पुलिस भी चौकस है। 

09:00 बजे: आज बुलाई गई कार्यकारिणी की बैठक पर चिराग पासवान ने सवाल खड़े कर दिए हैं। उन्‍होंने कहा कि यह असंवैधानिक है। उनके फैसले भी सही नहीं हैं। गौरतलब है कि पारस ने आज पटना में कार्यकारिणी की बैठक बुलाई है। 

08:30 बजे: चिराग पासवान ने कहा है कि उन्‍होंने परिवार और पार्टी दोनों को साथ लेकर चलने का प्रयास किया। इसमें संघर्ष था लेकिन यह उनलोगों को पसंद नहीं था। उनलोगों ने ही धोखा दिया।  

08:00 बजे: चिराग पासवान ने एलजेपी पर अपना दावा करते हुए पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष पद से अपने चचेरे भाई प्रिंस राज की छुट्टी कर दी है। साथ ही राजू तिवारी को नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया है। प्रिंस राज के पशुपति कुमार पारस के खेमे में जाने के बाद चिराग ने यह कदम उठाया है।

07:30 बजे: एलजेपी में बगावत के बाद पार्टी के संसदीय दल के नेता बनाए गए पशुपति कुमार पारस ने बताया है कि चिराग पासवान ने उनपर जो भी आरोप लगाए हैं, उनका वे गुरुवार को जवाब देंगे। उन्होंने पार्टी के 99 फीसद लोगों के समर्थन का दावा किया। कहा कि वे अपने बड़े भाई रामविलास पासवान के सपनों को पूरा करेंगे।

07:00 बजे: चिराग पासवान ने कहा है कि पशुपति कुमार पारस का एलजेपी संसदीय दल का नेता बनाया जाना पार्टी संविधान के खिलाफ है। इसे लेकर उन्‍होंने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को पत्र लिखते हुए उसने अपने फैसले पर पुनर्विचार करने की अपील की है। साथ ही लोकसभा में एलजेपी के नेता के तौर पर उन्हें मान्यता देने से संबंधित पत्र जारी करने का आग्रह किया है। अब चिराग पासवान को लोकसभा अध्यक्ष के जवाब का इंतजार है।

यह भी पढ़ें: LJP Splits: पटना में आज LJP के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष का चुनाव करेंगे पारस समर्थक, पार्टी कार्यालय पर जमाया कब्‍जा

06:30 बजे: एलजेपी सांसद सूरजभान सिंह के आवास पर आज पूर्वाह्न 11 बजे पशुपति पारस के समर्थिक पार्टी की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक करने जा रहे हैं। इसमें नए राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव होगा। इसकी तैयारियों को लेकर पशुपति पारस अपने सहयोगी सूरजभान सिंह, सांसद चंदन सिंह एवं प्रवक्ता श्रवण कुमार अग्रवाल समेत अन्य नेताओं के साथ बुधवार को दिल्ली से पटना पहुंचे। सांसद प्रिंस राज आज आ रहे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.