Maa Durga Puja Maha Ashtami : कोविड-19 के खतरे के बीच पट खुलते ही मां दुर्गा के दर्शन को उमड़ी भीड़

कोवडि-19 महामारी के बीच बचाव व सुरक्षा का संदेश देती मां दुर्गा की प्रतिमा।
Publish Date:Sat, 24 Oct 2020 08:21 AM (IST) Author: Sumita Jaiswal

पटना, जेएनएन। Maa Durga Puja Maha Ashtami : बिहार में कोविड-महामारी की परेशानी के बीच दुर्गा पूजा उत्‍सव बेहद सादगी के साथ मनाया जा रहा है। प्रशासन की मनाही के बाद बड़े पंडाल या मां दुर्गा की बड़ी प्रतिमाएं स्‍थापित नहीं की गई है। श्रद्धालु दुर्गा मंदिरों में ही दर्शन-पूजन कर रहे हैं। हालांकि श्रद्धालुओं में दुर्गा पूजा का उत्‍साह भी कम नहीं है।  कल सप्‍तमी से ही विभिन्‍न दुर्गा मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है। शनिवार को भी महाअष्टमी के दिन मां दुर्गा मंदिरों के पट खुलते ही मां का खोइंचा भरने विभिन्‍न दुर्गा मंदिरों में महिला श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा । थोड़ी छूट के साथ ही छोटे रूप में ही सही दुर्गा पूजा मेला का रंग दिख रहा है। हालांकि कोविड-गाइडलाइन को ध्‍यान में रखते हुए प्रशासन चौकस है।

छोटी पटनदेवी में 51 बेटियों ने की मां की महाआरती

 शक्तिपीठ श्री छोटी पटनदेवी मंदिर में नवरात्र की महासप्तमी के मौके पर जय बेटी अभियान की ओर से महाआरती का आयोजन शुक्रवार को किया गया। शक्ति स्वरूप 51 बेटियों ने मां की भव्य आरती कर देश में बेटियों की रक्षा की कामना की। अभियान से जुड़े संजय कुमार ने कहा कि बेटियां हमारी संस्कृति और मान-सम्मान हैं। इनकी रक्षा करना हमारा धर्म है। आरती कार्यक्रम का शुभारंभ मंत्र उच्चारण के साथ आचार्य अभिषेक अनंत द्विवेदी और बाबा विवेक द्विवेदी ने किया।

 यूपी से भी  आते हैं  श्रद्धालु

सोनपुर  के डुमरी बुजुर्ग स्थित मां कालरात्रि मंदिर में दर्शन करने के लिए श्रद्धालु भक्तों का तांता लगा हुआ है। बता दें कि इस मंदिर में वैशाली, पटना, मुजफ्फरपुर, सिवान के अलावा पड़ोसी राज्य यूपी के बलिया जनपद से ही भक्त शारदीय नवरात्र एवं भादो मास में अमावस्या तिथि के दिन वार्षिकोत्सव समारोह में शामिल होते हैं। हालांकि इस बात कोविड-19 के कारण मां कालरात्रि मंदिर सेवा समिति की ओर से दर्शन एवं पूजन के लिए विशेष गाइडलाइन जारी किया गया है। 

 बेगूसराय  में  खोंइछा भरने को महिलाएं कतार में  दिखी

बेगूसराय में शनिवार को जिले भर में महाअष्टमी के दिन मां दुर्गा मंदिरों के पट खुलते ही मां के दर्शन-पूजन को लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। बेगूसराय शहर, बखरी, बलिया, तेघड़ा, बछबाड़ा, भगवानपुर, मंझौल, भोजा, चलकी, शाहपुर, बरदाहा, छौड़ाही बाजार, बड़ैपुरा, सिहमा, एकंबा, परोड़ा, नारायणपीपड़ आदि दुर्गा स्थानों में मां दुर्गा की खोंइछा भरने हेतु महिलाएं कतार में लगी हैं। कोरोना बचाव के लिए मास्क, सैनिटाइजर की व्‍यवस्था नदारद है। लोग कोरोना की परवाह नहीं कर रहे , जो खतरनाक साबित हो सकता है।

    वहीं  डीएम अरविंद कुमार, एसपी अवकाश कुमार,  एसडीएम सदर संजीव कुमारसहित तमाम प्रतिनियुक्त अधिकारी लगातार इलाके का भ्रमण पर विधि व्यवस्था के संधारण का दावा कर रहे हैं। कोरोना दिशा निर्देश पालन कराने हेतु पूजा  पंडालों, समितियों को लगातार आवश्यक दिशा निर्देश देने की बात इन अधिकारियों ने बताई। अधिकारियों के अनुसार तमाम दुर्गा पूजा स्थलों एवं अन्य सार्वजनिक स्थलों पर पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारी एवं सशस्त्र बलों की तैनाती की गई है।

आज अष्टमी और नवमी की पूजा

 गया के टनकुप्पा में शनिवार को सुबह से ही माता दुर्गा की अष्टम रूप की पूजा अर्चना करने भक्त दुर्गा मंडप पहुंचने लगे हैं। श्रद्धालुओ ने कोरोना संकट में शारीरिक दूरी का पालन किया। पंडित श्यामसुंदर पांडेय ने बताया कि शनिवार को 11 बजकर 25 मिनट तक अष्टमी है। उसके बाद नवमी प्रवेश कर जाएगी। आज अष्टमी और नवमी की पूजा श्रद्धालु करेंगे।  कोरोना संकट एवं प्रसाशन के निर्देशानुसार प्रखंड में एक दो जगहों पर माता की छोटी प्रतिमा स्थापित कर सादगी से दुर्गा पूजा की जा रही है।

नवादा में मां की एक झलक को श्रद्धालु बेताब

नवादा  में शारदीय नवरात्र के अष्टमी यानी आज शनिवार की सुबह से दुर्गा पूजा पंडालों में माता की गोदभराई के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। इसके पूर्व शुक्रवार की शाम से रात 11 बजे के बीच शुभ मुहूर्त में पूजा पंडालों का पट्ट आम लोगो के दर्शन के लिए खोल दिया गया। माता की एक झलक पाने को श्रद्धालुओं का तांता लग गया।  नवादा के प्रसाद बिगहा देवी मंदिर में माता की गोद भराई के लिए महिलाओं की काफी भीड़ देखी गई। मंदिर के व्यवस्थापक बांस-बल्ली लगाकर श्रद्धालुओं को कतारबद्ध कर मंदिर में प्रवेश करा रहे थे। न्यू एरिया दुर्गा मंडप में भी काफी माता दर्शन और गोद भराई के लिए काफी भीड़ देखी गई। लोग नारियल-चुनरी, धूप, दीप, अगरबत्ती लिए पूजा अर्चना को पहुंच रहे थे। बच्चों में काफी उत्साह देखा जा रहा है।

हालांकि, कोरोना काल के कारण इसबार पूर्व की भांति बड़े और भव्य मूर्ति और पंडाल नहीं बनाए गए हैं, फिर भी लोगो की आस्था पर कोई असर नहीं देखा जा रहा है। जिले के सभी प्रखंडों में दशहरा पर्व शांति और उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। कोविड 19 और चुनावी मौसम में दशहरा पूजा को शांतिपूर्ण और व्यवस्थित आयोजित करने को ले जिला प्रशासन पूरी तरह से सतर्कता बरत रही है।

 

आक्रोशित ग्रामीणों ने विधायक को मां दुर्गा मंदिर का पट खोलने से रोका

 नालंदा  के अस्थावां बाज़ार में  स्थापित मां की प्रतिमा का पट खोलने के लिए पूजा समिति के सदस्यों ने स्थानीय विधायक व जदयू प्रत्याशी डॉ जितेंद्र को न्योता दिया था। चुनाव के दौरान लोगों से मेलजोल बढ़ाने का अच्छा मौका जान डॉ जितेंद्र तय समय पर पहुंच भी गए। वहां पूजा समिति के सदस्यों ने विधायक की आगवानी की परन्तु स्थानीय ग्रामीण भड़क गए। लोगों ने विधायक के हाथों मां का पट खोलने का विरोध कर दिया। अंततः पुजारी के हाथों ही मां का पट खोलवाया गया। इधर, विरोध को देखते हुए विधायक आहिस्ते से निकल लिए। इस बीच कुछ ग्रामीणों ने विधायक के वाहन पर लगे पोस्टरों पर गोबर पोत दिया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.