वैशाली में शराब की बड़ी खेप बरामद, ट्रक से उतारते समय पहुंच गई महुआ पुलिस, फरार हो गए तस्‍कर

Liquor Ban in Bihar वैशाली जिले के महुआ थाना क्षेत्र के मधौल बड़ी चौक के निकट से पुलिस ने बरामद की शराब। राजस्थान नंबर के ट्रक के साथ पिकअप वैन एवं बाइक भी मौके से जब्त। बरामद शराब की कीमत अनुमानित 35 लाख रुपये।

Vyas ChandraPublish:Mon, 29 Nov 2021 04:01 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 04:01 PM (IST)
वैशाली में शराब की बड़ी खेप बरामद, ट्रक से उतारते समय पहुंच गई महुआ पुलिस, फरार हो गए तस्‍कर
वैशाली में शराब की बड़ी खेप बरामद, ट्रक से उतारते समय पहुंच गई महुआ पुलिस, फरार हो गए तस्‍कर

महुआ (वैशाली), संवाद सहयोगी। महुआ थाना क्षेत्र के मधौल बड़ी चौक के निकट से पुलिस टीम ने राजस्थान नंबर के ट्रक से 326 कार्टन विदेशी शराब बरामद की है। बरामद शराब की कीमत करीब 35 लाख रुपये बताई गई है। 14 चक्के वाले ट्रक से शराब लाने की सूचना पर महुआ थाना की पुलिस ने छापामारी की। पुलिस टीम को आते देख धंधेबाज भाग निकले। मौके से विदेशी शराब के साथ एक ट्रक, पिकअप और एक बाइक भी पुलिस ने जब्त की है। इस मामले में पुलिस टीम धंधेबाज की पहचान कर प्राथमिकी दर्ज करने की कार्रवाई कर रही है। 

राजस्‍थान से लाकर महुआ में उतारी जा रही थी शराब  

जानकारी के अनुसार महुआ थानाध्यक्ष कृष्णनंदन झा को सूचना मिली की मधौल पंचायत के बड़ी चौक के पास ट्रक से भारी मात्रा में विदेशी शराब उतारी जा रही है। इसके बाद पुलिस टीम ने त्‍वरित कार्रवाई करते हुए बड़ी चौक के पास छापेमारी की। वहां ट्रक तो नजर आया लेकिन शराब का कुछ पता नहीं था। फिर भी पुलिस की टीम शराब की सूचना पर वहां चक्कर काटती रही। शंका होने पर सड़क के किनारे खड़े ट्रक की तलाशी लेनी शुरू की तो हैरान रह गई। ट्रक पर बनाए गए तहखाने में काफी मात्रा में शराब थी। 

धंधेबाजों की पहचान में जुट गई पुलिस

शराब सहित ट्रक को जब्त कर लिया गया। इस दौरान वहां खड़ी एक पिकअप में भी शराब के कुछ कार्टन मिले। पुलिस का कहना है कि ट्रक से उतारकर उसे पिकअप में रखा जा रहा था। हालांकि, पुलिस को देख धंधेबाज वहां से अंधेरे का फायदा उठाकर चंपत हो गए। ट्रक से कुल 326 कार्टन शराब बरामद की गई। महुआ थानाध्यक्ष कृष्णनंदन झा ने कहा कि शराब के धंधेबाजों की पहचान कर उन पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। मालूम हो कि शराबबंदी को लेकर पुलिस बेहद सख्‍त है। बावजूद तस्‍कर अपनी आदत से बाज नहीं आ रहे।