top menutop menutop menu

पटना की बजाय गया डायवर्ट हो सकता है कोलकाता का विमान, बंद हो सकती है हैदराबाद की फ्लाइट

पटना, जेएनएन। कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए जारी लॉकडाउन व क्वारंटाइन को लेकर पटना से विभिन्न शहरों के लिए उड़ान भरने वाले विमानों में यात्रियों की घटती संख्या विमान कंपनियों के लिए चिंता का कारण बनते जा रहा है। अभी तो फिलहाल कुछ शहरों से आने वाली विमानों में काफी संख्या में यात्री पटना पहुंच रहे हैं जिसके कारण जाने में कम भी यात्री मिल रहे हैं तो विमान कंपनियां इसे सहन कर ले रही है।

हैदराबाद, कोलकाता, मुंबई आदि शहरों के लिए पटना से आगे की तिथि में बुकिंग काफी कम होने लगी है। कम बुकिंग होने से विमान कंपनियों को परेशानी होने लगी है। हैदराबाद से विमान सेवा शुरू होने के बाद मात्र 40 यात्री ही आए-गए थे। यही हालत रहा तो इस विमान को कंपनी रद कर सकती है। कोलकाता के लिए भी यात्री कम मिल रहे हैं। पटना से कोलकाता के लिए नए शिड्यूल में दो विमानों के उड़ान भरने की सूचना दी गई थी। 

हालांकि विमान कंपनियों को पहली जून से ही स्थिति में काफी सुधार होने की उम्मीद है। सबसे अधिक परेशानी क्वारंटाइन को लेकर अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नीति बनाई गई हैं। यात्रियों का मानना है कि जब पूरी तरह से जांच के बाद ही हमें यात्रा की अनुमति दी जा रही है फिर क्वारंटाइन क्यों? जबकि बिहार में विमान से आने वाले यात्रियों को क्वारंटइन नहीं किए जाने के कारण बाहर से यहां आने वाले यात्रियों की भीड़ देखने को मिल रही है। पटना आने वाली विमानों में 95 फीसद तक बुकिंग रह रहा है वहीं पटना से दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु व चेन्नई जाने वाले विमानों में मुश्किल से 35-40 फीसद यात्री ही यात्रा कर रहे हैं। 

 

तिथिवार स्थिति
 
25 मई - 11 जोड़ी विमान

     यात्री पहुंचे -   1570
   यात्री रवाना हुए -  789
26 मई -  10 जोड़ी विमान
   यात्री पहुंचे -    1491
   यात्री रवाना हुए - 584
27 मई -   10 जोड़ी विमान
     यात्री पहुंचे -   1728
   यात्री रवाना हुए -  687
28 मई - 11 जोड़ी विमान
      यात्री पहुंचे -   1903 
      यात्री रवाना हुए - 600
29 मई -  13 जोड़ी विमान
      यात्री पहुंचे - 2049
      यात्री रवाना हुए - 690

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.