पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी में पीएचडी के लिए इंटरव्यू 25 से, यहां जानिए साक्षात्‍कार से जुड़ी अहम बातें

पाटलिपुत्र विश्‍वविद्यालय में प्री-पीएचडी टेस्‍ट पास कर चुके छात्र-छात्राओं का इंटरव्‍यू 25 जून को शुरू होगा। इंटरव्‍यू में शामिल होने के लिए आवेदकों को अपने साथ जरूरी कागजात लाने का निर्देश दिया गया है। प्री पीएचडी टेस्‍ट में दो हजार अभ्‍यर्थी सफल हुए हैं।

Vyas ChandraThu, 17 Jun 2021 08:57 AM (IST)
पीपीयू में 25 जून से होगा साक्षात्‍कार। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

पटना, जागरण संवाददाता। पाटलिपुत्र विश्‍वविद्यालय (पीपीयू) में प्री-पीएचडी की परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों का साक्षात्कार 25 जून से आरंभ होगा। साक्षात्कार को लेकर प्रक्रिया आरंभ हो गई है। एकेडमिक रिकार्ड पर 75 फीसद वेटेज रहेगा। विश्‍वविद्यालय में पहली बार प्री-पीएचडी टेस्ट के माध्यम से पीएचडी में छात्रों के नामांकन की प्रक्रिया अपनाई जा रही है। विश्‍वविद्यालय के 18 पारंपरिक तथा आधा दर्जन एलायड विषयों में 800 से अधिक सीटों पर नामांकन होगा। इसमें एलायड विषयों के आवेदकों को भी पीएचडी कराई जाएगी, लेकिन उन्हें प्रमाणपत्र मुख्य विषय का दिया जाएगा।

महत्‍वपूर्ण तथ्‍य 

एकेडमिक रिकार्ड पर 75 फीसद वेटेज साक्षात्कार में छात्रों को लाना होगा प्रोजेक्ट या सिनाप्सिस पांच अंकों का होगा वाइवा पीआरटी परीक्षा या नेट आदि के लिए पांच अंक रहेंगे शोध सार व प्रेजेंटेशन पर मिलेंगे 15 अंक 18 विषयों में 800 से अधिक सीटों पर होना है पीएचडी में एडमिशन

4674 में से 2000 प्री पीएचडी टेस्‍ट में हुए सफल 

पीएचडी के लिए पाटलिपुत्र विवि में 4674 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। इनमें लगभग 2000 अभ्यर्थियों ने प्री-पीएचडी टेस्ट पास किया। इसके अतिरिक्त दो हजार वैसे अभ्यर्थी भी हैं जिन्हें यूजीसी के नियमानुसार प्री-एचडी परीक्षा से छूट दी गई है। इन्होंने नेट, बेट, स्लेट, सीएसआइआर की परीक्षा पास की है। 

शोध से मजबूत होती है विवि की बुनियाद

कुलपति प्रो. एसपी सिंह ने कहा कि विश्‍वविद्यालय छात्रों से ही चलते हैं। रिसर्च गतिविधि बढ़ने से छात्रों के साथ-साथ विवि का भी नाम होगा। कुलसचिव प्रो. जितेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि साक्षात्कार में सभी छात्र- छात्राओं को एक प्रोजेक्ट तैयार कर लाना होगा। जिस बिंदु पर अभ्यर्थी शोध करना चाहते हैं, उससे संबंधित एक शोध सार तैयार कर लाना होगा। यहां साक्षात्कार पैनल के समक्ष इसे प्रस्तुत करना होगा। उससे संबंधित उठने वाले सवालों का जवाब साक्षात्कार बोर्ड को देना होगा।

इंटरव्‍यू खत्‍म होने के एक सप्‍ताह के भीतर जारी होगा परिणाम

साक्षात्कार के खत्म होने के बाद एक सप्ताह के भीतर परिणाम जारी कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभ्यर्थी ऐसा शोध-सार (प्रोजेक्ट या सिनॉपसिस) बनाएं, जिस पर उनकी बेहतर पकड़ हो, साथ ही भविष्य में रोजगारोन्मुखी हों। मीडिया प्रभारी डॉ. बीके मंगलम ने बताया कि कुलपति प्रो. सुरेंद्र प्रताप सिंह पीएचडी रिसर्च वर्क में गति लाने के लिए लगातार अधिकारियों को निर्देश दे रहे हैं। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.