दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

बिहार में बेतहाशा मांग पर बोले मंगल पांडेय- इन शहरों में लगेंगे ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय। जागरण आर्काइव।

बिहार में 15 स्थानों पर ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाए जाएंगे। इस प्लांट की मॉनिटरिंग डीआरडीओ करेगी। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि केंद्र की मदद से यह प्लांट लगाए जाएंगे। 15 स्थानों पर ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाने का फैसला किया है।

Akshay PandeySat, 08 May 2021 05:08 PM (IST)

राज्य ब्यूरो, पटना : राज्य के 15 जिलों में केंद्र सरकार ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट स्थापित करेगी। प्लांट लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। यह जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने शुक्रवार को दी। मंत्री पांडेय ने बताया कि बिहार में कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की खपत और मांग में बेतहाशा वृद्धि हुई है। राज्य में संक्रमण की दर और ऑक्सीजन की जरूरत को देखते हुए केंद्र सरकार ने 15 स्थानों पर ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाने का फैसला किया है। इस दिश में कार्य शुरू भी कर दिए गए हैं। 

मंत्री के अनुसार केंद्र सरकार पटना के निकट मसौढ़ी में भी एक प्लांट स्थापित करेगी। पटना के अलावा 14 अन्य जिलों में भी ऐसे प्लांट लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग से बिहार में लगने वाले ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट के साथ ही जितने भी निजी मेडिकल कॉलेज अस्पताल हैं उन्हें भी यथाशीघ्र ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट लगाने के निर्देश दिए गए हैं।  स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि केंद्र की ओर से स्थापित किए जा रहे इन प्लांट की मॉनिटरिंग रक्षा मंत्रालय के डीआरडीओ द्वारा की जाएगी। जबकि विद्युत संबंधी कार्य राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा किए जाएंगे।  

यहां लगेंगे ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट 

डेहरी ऑनसोन (रोहतास)

महुआ (वैशाली)

रजौली (नवादा)

नरकटियागंज (पूर्वी चंपारण)

महाराजगंज (सिवान)

जयनगर (मधुबनी)

जगदीशपुर (भोजपुर)

डुमरांव (बक्सर)

मसौढ़ी (पटना)

शाहपुर पटौरी (समस्तीपुर)

बनमनखी (पूर्णिया)

फारबिसगंज (अररिया)

सिमरी बख्तियारपुर (सहरसा)

बलिया (बेगूसराय)

कहलगांव (भागलपुर) 

 

ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट का निर्माण कार्य तेजी से जारी

जागरण संवाददाता, पटना सिटी: कोविड अस्पताल एनएमसीएच के सेंटर ऑफ एक्सीलेंस परिसर स्थित रिकॉर्ड रूम के बगल में ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट का निर्माण तेजी से जारी है। उपाधीक्षक डॉ. सरोज कुमार ने शनिवार को बताया कि यह प्लांट अगले 25 दिनों में तैयार हो जाने की बात बीएमएसआइसीएल ने बताई है। इस प्लांट से प्रतिदिन लगभग एक हजार सिलेंडर की क्षमता के ऑक्सीजन का उत्पादन होगा। यहां से पाइप लाइन के माध्यम से अस्पताल के विभिन्न विभाग एवं वार्ड तक ऑक्सीजन मरीजों के लिए बेड पर भेजी जाएगी। उपाधीक्षक ने बताया कि मेडिसिन विभाग के समीप चल रहे ऑक्सीजन के मिनी प्लांट से हर दिन लगभग 45 सिलेंडर की क्षमता का ऑक्सीजन उत्पादन जारी है। यह ऑक्सीजन मेडिसिन विभाग में भर्ती मरीजों को आपूर्ति की जा रही है। उन्होंने बताया कि अस्पताल में भर्ती मरीजों की आवश्यकता अनुसार ऑक्सीजन की आपूर्ति हो रही है। कुछ सिलेंडर का बैंक भी तैयार हो गया है। अब ऑक्सीजन को लेकर कोई दिक्कत नहीं है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.