90 प्रतिशत महिलाओं के बाल झड़ने की यह है वजह, अधिकतर लड़कियां करती हैं ये गलती

तनाव अनियमित खानपान और अन्य कारणों से यह समय से पूर्व हो सकता है। महिलाएं पहला-नाश्ता और अंतिम भोजन समय से लें। दोनों के बीच 11 घंटे से अधिक का अंतर नहीं हो। साथ ही सिर में तेल नहीं लगाएं।

Akshay PandeySun, 05 Dec 2021 10:25 PM (IST)
महिलाओं के बाल झड़ने की समस्या बढ़ रही हैं। सांकेतिक तस्वीर।

जागरण संवाददाता, पटना: कोरोना संक्रमण से मुक्त होने के बाद महिलाओं के बाल तेजी से झड़ रहे हैं। इनमें से 90 प्रतिशत लोगों में इसका कारण खून की कमी है। वहीं, 80 प्रतिशत पुरुषों में यह आनुवंशिक और 20 प्रतिशत में सामान्य प्रक्रिया है। तनाव, अनियमित खानपान और अन्य कारणों से यह समय से पूर्व हो सकता है। महिलाएं पहला-नाश्ता और अंतिम भोजन समय से लें। दोनों के बीच 11 घंटे से अधिक का अंतर नहीं हो। साथ ही सिर में तेल नहीं लगाएं, इससे त्वचा को हवा-नमी नहीं मिलती और सूखापन बढ़ने से बाल तेजी से झड़ते हैं। बालों में साबुन के बजाय किसी अच्छे एंटीफंगल शैंपू का इस्तेमाल करना चाहिए और ठंड में अधिक गर्म पानी से नहीं नहाना चाहिए। ये बातें रविवार को दैनिक जागरण के लोकप्रिय कार्यक्रम हेलो डाक्टर में पीएमसीएच के चर्म एवं रति रोग विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डा. अभिषेक कुमार झा ने कहीं।  

यह भी पढ़ें: DM G.Krishnaiah हत्याकांड में सजायाफ्ता आनंदमोहन की रिहाई के लिए इस फार्मूले पर होगा काम

ठंड में बढ़ते त्वचा संबंधी रोग  

डा. अभिषेक के अनुसार ठंड में सूखेपन से बालों में रूसी से बालों का झडऩा, सोरायसिस के कारण हाथ-पैर फटना, पैर की अंगुली में सूजन या काला पडऩा, ठंडे पानी में काम करने या हवा में नमी की कमी के कारण ओंठ और अंगुलियों का फटना जैसी समस्याएं ज्यादा होती हैं। इनसे बचाव के लिए ठंड में माश्चुराइजर का इस्तेमाल ज्यादा करना चाहिए। बालों को एंटीफंगल शैंपू से धोएं और दिन भर में कम से कम 10 गिलास पानी पीएं। जिन लोगों के हाथ-पांव ज्यादा फटते हों वे मोजा ज्यादा समय पहनें और पैरों को गीला नहीं छोड़ें। मोजे साफ रखें और जूतों को समय-समय पर धूप दिखाते रहें। रात में गर्म सरसों का तेल हाथ में लगाने से भी आराम होता है। 

-पत्नी के बाल तेजी से झड़ रहे हैं, क्या करूं?

राजेश कुमार मेहता, पटनासिटी 

सुबह का नाश्ता समय पर करें और चाय-बिस्किट आदि के बजाय रोटी-सब्जी या अन्य पौष्टिक चीजें लें। सुबह के नाश्ते और रात के भोजन के बीच 11 घंटे से अधिक का अंतर नहीं रहे। हर दिन कम से कम एक चम्मच घी का सेवन करें और बाहर के बजाय घर का बना गर्म पौष्टिक आहार लें। ठंड में भी दस गिलास पानी जरूर पीएं। 

- 27 साल में ही बाल जा रहे हैं, कैसे रुकेंगे?

प्रदीप कुमार, मोकामा 

उम्र के पहले बाल जाना एलोपेसिया के कारण होता है। यह 80 प्रतिशत में आनुवंशिक और 20 प्रतिशत में अन्य कारणों से होता है। पीएमसीएच में गुरुवार को आकर दिखाएं, छह माह दवाएं चलने पर बाल आने की काफी संभावना है। अभी एक एंटीफंगल शैंपू का इस्तेमाल शुरू कर दें और पौष्टिक आहार लें। 

-खुजली व चकत्ते की समस्या कई वर्षों से है। दवा लेने पर आराम होने के बाद फिर हो जाता है। 

आदित्य पांडेय लोहानीपुर पटना, अजय पंडित बेउर, अनुष्का मनेर 

यह दिनाय है। इसके लिए कम से कम दो से तीन माह दवा खानी होगी और क्रीम लगानी होगी। शरीर को सुखाकर ही कपड़े पहनें। शरीर के सीधे संपर्क में आने वाले कपड़े सूती या खादी के हलके रंग के साथ बहुत कसे नहीं हों। इन्हें गर्म पानी से धोकर उल्टा कर धूप में ठीक से सुखाएं। अंडरवियर आदि पहनने के पहले कैंडिड आदि फंगल पाउडर का प्रयोग करें। डेक्सोना या एविल जैसी इमरजेंसी दवाएं खुद या दवा दुकानदार के कहने पर नहीं लें। इससे अन्य दवाएं बेअसर हो सकती हैं। मेडिकेटेड साबुन की जगह डब, पियर्स जैसे साबुन का इस्तेमाल करें और अधिक गर्म पानी से नहीं नहाएं। 

इन्होंने भी किया फोन  

नीतू पटना, संजय कुमार दानापुर, विनय कुमार सिंह पीरो आरा, सीमा पटना, आदर्श कुमार पांडेय बख्तियारपुर, रागिनी पटना, अखिलेश कुमार सिंह सगुना मोड़, रामचंदर ठाकुर दरभंगा, शैलेंद्र प्रताप सिंह रामकृष्णा सिंह, बीरेंद्र कुमार सिन्हा पटना, शुभम कुमार ब्रह्मपुर बक्सर, ज्ञान प्रकाश बाढ़, रविंद्र प्रसाद मसौढ़ी, मनोहर जमुई, कमला प्रसाद फुलवारीशरीफ, दिलीप कुमार महतो सरिस्ताबाद, विमल कुमार राजीव नगर, ओम ठाकुर पटना, राम प्रसाद मखनिया कुआं पटना, मोहम्मद शोएब मुसल्लहपुर हाट आदि।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.