Guru Govind Singh Jayanti: कोहरे के बीच तख्त श्री हरिमंदिर से पांच बजे भोर में निकली बड़ी प्रभातफेरी

तख्‍त श्रीहरिमंदिर से निकली प्रभातफेरी में शामिल लोग। जागरण

354 वें साल में गुरु के घर चलिए... से गूंजी गुरु की नगरी कोहरे के बीच तख्त श्री हरिमंदिर से पांच बजे भोर में निकली बड़ी प्रभातफेरी मंगलवार को गायघाट गुरुद्वारा से दोपहर में निकलेगा नगर कीर्तन बुधवार को तख्त श्री हरिमंदिर में मनाया जाएगा प्रकाश पर्व का मुख्य समारोह

Publish Date:Mon, 18 Jan 2021 11:04 AM (IST) Author: Shubh Narayan Pathak

पटना सिटी, जागरण संवाददाता। 354 वें साल में गुरु के घर चलिए..., तही प्रकाश हमारा भयो पटना शहर बिखै भव लयो..., नूरी मुखड़ा दिखा जा बाजावाले..., मैं तरती हां आनंदपुरी... जैसे धार्मिक भजनों से सोमवार की भोर गुरु की नगरी पटना साहिब गूंज उठी। झारखंड के विक्की छाबड़ा ने संगतों को भक्ति के गीतों में झूमने को मजबूर किया। वहीं स्त्री साध संगत कीर्तनी जत्था की गुरचरन कौर ने चमकेगी तलवार, खड़ा खड़केगा... से संगतों को भाव-विभोर किया। मौका था सिख पंथ के दसवें गुरु श्री गुरु गोविंद के 354 वें प्रकाशोत्सव के पूर्व तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब गुरुद्वारा से पांच बजे भोर में कोहरे के बीच निकली बड़ी प्रभातफेरी का। श्रद्धा व आस्था के साथ प्रभातफेरी में शामिल महिला-पुरूष संगतों ने श्री गुरु गोविंद सिंह महाराज के बताए मार्ग पर चलने का संकल्प दोहराया। मंगलवार को गायघाट गुरुद्वारा से दोपहर नगर कीर्तन निकलेगा। वहीं बुधवार को तख्त श्री हरिमंदिर में प्रकाश पर्व का मुख्य समारोह मनाया जाएगा।

बैंड-बाजा पर बज रहे थे धार्मिक धुन

बड़ी प्रभातफेरी के आगे-आगे तीन बैंड-बाजा पर देहि शिवावर मोहे इहै,शुभ करमन ते कभु न टरू...के धुन बज रहे थे। सिख संगत व स्त्री साध संगत की महिलाओं द्वारा पंथ की जीत हो, वाहिगुरु जी का खालसा, वाहिगुरु जी की फतेह... आदि धार्मिक नारे, भजन-कीर्तन प्रस्तुत कर रहे थे। महाराष्ट्र के नांदेड़ से आई कीर्तनी जत्था दशमेश गुरु के जीवनी पर आधारित भजन प्रस्तुत कर रहे थे।

जगह-जगह हुआ पंच-प्यारों का स्वागत

तख्त श्री हरिमंदिर जी से निकली प्रभातफेरी अशोक राजपथ मार्ग होते हाजीगंज पहुंची। जहां पंजाब एंड सिंध बैंक की प्रबंधक नूतन कुमारी ने पंच-प्यारों को सिरोपा देकर स्वागत किया। अरदास के बाद संगतों ने नाश्ता किया। इसके बाद प्रभातफेरी प्रबंधक समिति के पूर्व महासचिव सरदार सरजिंदर सिंह के यहां पहुंची। यहां पंच-प्यारों का स्वागत के बाद अरदास हुआ और संगत ने लंगर छके। इसके बाद प्रभातफेरी सरदार महेन्द्र सिंह के यहां से होते पर्यटन विभाग के पटना साहिब कार्यालय पहुंची। जहां पंच-प्यारों का फूल-माला पहनाकर स्वागत किया गया। पटना साहिब स्टेशन पर बाललीला गुरुद्वारा के संत बाबा कश्मीर सिंह भूरिवाले की ओर से पंच-प्यारों का स्वागत किया गया। अरदास के बाद संगतों ने नाश्ता किए। चौकशिकारपुर आरओबी होते बड़ी प्रभातफेरी श्रभ् गुरु गोविंद सिंह पथ, चौक, झाउगंज होते लगभग नौ बजे तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब पहुंची। यहां पंच-प्यारों का स्वागत किया गया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.