जल, जीवन व हरियाली अभियान पर तीन साल में होंगे 24,524 करोड़ खर्च : उपमुख्यमंत्री

पटना। पंजाब में 300 मीटर नीचे जलस्तर चला गया है। बिहार में 30 मीटर पर जल मिलने के बाद भी जलस्तर को बचाने के लिए दो अक्टूबर से जल जीवन हरियाली अभियान की शुरुआत की जा रही है। तीन साल में 1.36 लाख आहर, पईन, पोखर, तालाब आदि जल स्रोतों और 2.94 लाख कुएं का जीर्णोद्धार किया जाएगा। इस पर 24, 524 करोड़ रुपये खर्च होंगे। जियो टैगिंग भी की जा रही है।

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सोमवार को विश्व गैंडा दिवस के अवसर पर संजय गाधी जैविक उद्यान में चेन्नई के वेंडालूर जू से एक मादा गैंडा और 3 घड़ियाल के बदले लाए गए बाघ, ऑस्ट्रीज, पैथन, भेड़िया सहित 22 वन्यप्राणियों को आमजन के दर्शनार्थ लोकार्पित किया।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि जल स्त्रोतों के पुनर्जीवित करने के लिए इस साल 5,870 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। जल स्त्रोतों को अतिक्रमण से मुक्त करने के साथ ही जल का संचय व संरक्षण भी किया जाएगा। वर्षा जल से भू-जल स्तर को बनाए रखने के उपाय किए जाएंगे। इस साल डेढ़ करोड़ पौधे लगाए गए हैं जबकि अगले साल 2.51 करोड़ पौधारोपण का लक्ष्य है।

पर्यावरण के प्रदूषण में प्लास्टिक का सबसे ज्यादा योगदान है। नल के 82 प्रतिशत पानी में प्लास्टिक के अंश पाए गए हैं। एकल उपयोग वाले प्लास्टिक के इस्तेमाल के खिलाफ जन जागरण अभियान चलाने के बाद उसे पूरी तरह से प्रतिबंधित करने पर सरकार विचार कर रही है। पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के प्रधान सचिव दीपक कुमार सिंह, प्रधान मुख्य वन संरक्षक एसएस चौधरी, मुख्य वन्य प्राणी प्रतिपालक राकेश कुमार, परिस्थितिकी निदेशक संतोष तिवारी, उद्यान निदेशक अमित कुमार आदि मौजूद थे। गैंडा प्रजनन केंद्र के अंदर लगेंगे सीसीटीवी कैमरे सुशील कुमार मोदी ने नवनिर्मित गैंडा प्रजनन केंद्र का निरीक्षण करने के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिया कि प्रजनन केंद्र के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे तथा गैंडा के प्राकृतिक वातावरण में भ्रमण का दृश्य बाहर मॉनीटर लगाकर दिखाया जाएगा।

जल्द वियतनाम से आएगा दो सिंग वाला गैंडा उपमुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही वियतनाम से दो सिंग वाला एक जोड़ा गैंडा पटना जू में लाया जाएगा। इसके बदले में एक जोड़ा गैंडा दिया जाएगा। मार्च माह तक राजगीर में जू सफारी अगले साल मार्च तक राजगीर जू सफारी बन कर तैयार हो जाएगा। यहां वन्य प्राणी खुले में भ्रमण करेंगे और दर्शक देख सकेंगे। वन महोत्सव में 42 किए गए सम्मानित बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. रामेश्वर सिंह, एनसीसी ब्रिगेडियर प्रवीण कुमार, पीरमुहानी कब्रिस्तान प्रबंधन व पूर्व एमएलए मो. अनवर, पूर्व मध्य रेल के एजीएम अरुण कुमार शर्मा, दानापुर रेलमंडल एडीआरएम अरविंद रजक, समस्तीपुर डीआरएम अशोक महेश्वरी, सशस्त्र सीमा बल के आरक्षी महानिरीक्षक संजय कुमार, सीआरपीएफ के डीआइजी एचएस मल, होमगार्ड प्रशिक्षण के कमांडेंट जयंत कुमार, डीएम अरवल रविशंकर, डीएम जमुई धर्मेद्र कुमार, एम्स निदेशक, आइजीआइएमएस निदेशक, एएन कॉलेज के प्राचार्य प्रो. एसपी शाही, दिल्ली पब्लिक स्कूल के निदेशक, नूरसराय हरियाली मिशन, तरूमित्र, जेपी विश्वविद्यालय के राकेश प्रसाद, दैनिक जागरण के वरीय संवाददाता मृत्युंजय मानी सहित 42 लोगों को सम्मानित किया गया।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.