मोबाइल के 13 हजार रुपए के लिए पटना में दोस्‍त को चौथी मंजिल से गिराया, बावजूद सलामत है युवक

मोबाइल के बकाया 13 हजार रुपए नहीं देने पर दोस्‍तों ने युवक को चार मंजिला फ्लैट की छत से धक्‍का दे दिया। लेकिन इसके बाद जो हुआ वह आपको हैरान कर देगा। यह पूरा मामला पटना के अगमकुआं थाना क्षेत्र के बहादुरपुर हाउसिंग कॉलोनी के एमआईजी फ्लैट का है।

Shubh Narayan PathakThu, 17 Jun 2021 10:43 PM (IST)
पटना के दोस्‍तों ने किया खतरनाक काम। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

पटना सिटी, जागरण संवाददाता। मोबाइल के बकाया 13 हजार रुपए नहीं देने पर दोस्‍तों ने युवक को चार मंजिला फ्लैट की छत से धक्‍का दे दिया। लेकिन इसके बाद जो हुआ, वह आपको हैरान कर देगा। यह पूरा मामला पटना के अगमकुआं थाना क्षेत्र के बहादुरपुर हाउसिंग कॉलोनी के एम आई जी फ्लैट का है। बहादुरपुर हाउससिंग कॉलोनी में युवकों के बीच झगड़ा शुरू हुआ और वे झगड़ते हुए ही चारमंजिला फ्लैट की छत पर चले गए। इसके बाद सभी ने मिलकर राहुल नाम के युवक को छत से धक्‍का देकर नीचे गिरा दिया।

छत से सीधे कूड़े के ढेर पर गिरा युवक

घटना अगमकुआं थाना क्षेत्र के बहादुरपुर हाउसिंग कॉलोनी की है। बताया जाता है, कि तीन चार की संख्या में युवक मोबाइल के बकाया 13 हजार रुपए के विवाद को लेकर झगड़ा करते हुए रोहित नाम के युवक को कॉलोनी के चार तल्ला पर ले गए। इस बीच विवाद काफी बढ़ गया। इसी बीच दो युवकों ने रोहित को छत से धक्का दे कर गिरा दिया। रोहित जहां गिरा वहां पर कूड़े कचरे का ढेर था, जिस कारण उसे अधिक चोट नहीं लगी।

पुलिस ने कहा- अब तक नहीं मिली शिकायत

अगमकुआं के प्रभारी थानाध्यक्ष मुकेश वर्मा ने बताया कि इस संबंध में किसी ने आवेदन रात तक नहीं दिया है। पीड़ित युवक के स्वजन भी कोई शिकायत दर्ज नही कराए हैं। प्रभारी थाना अध्यक्ष ने बताया कि मीडिया से मिली जानकारी के बाद जांच की जा रही है।

मोबाइल चोरी के शक में की युवक की पिटाई

इधर, पटना के ही कोतवाली थाना क्षेत्र में कैफे में अंदर मोबाइल चोरी के शक में लोगों ने एक शख्स की जमकर पिटाई कर दी। बाद में उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया। उसकी पहचान अनीसाबाद निवासी वरुण के रूप में हुई है। कोतवाली थाना पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

जानकारी के मुताबिक बंदर बगीचा स्थित कैफे सह केक दुकान में गुरुवार को मोबाइल चोरी के शक में दुकानदार व कर्मियों ने एक युवक की पिटाई कर दी। बाद में उसे कोतवाली थाना पुलिस के हवाले कर दिया. जबकि युवक का कहना था कि वह केक खरीदने आया था। उसने खुद को निर्दोष बताते हुए पुलिस से दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को देखने का आग्रह किया। युवक एक निजी कंपनी का कर्मचारी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.