बिहारः बक्सर में लगे महाजाल में फंसे यूपी से बहकर आए पांच शव, कराया गया अंतिम संस्कार

बक्सर के चौसा में लगाया गया महाजाल। जागरण।

बक्सर में बुधवार को उसमें यूपी से बहकर आए तीन शव फंसे मिले जबकि मंगलवार को प्रशासन द्वारा महाजाल लगाने के बाद भी उसमें दो शव फंसे हुए थे। इस तरह बुधवार की दोपहर तक यूपी से बहकर आए पांच शव महाजाल में फंस गए।

Akshay PandeyWed, 12 May 2021 07:05 PM (IST)

जागरण संवाददाता, बक्सर: गंगा में शव प्रवाह का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। शवों को गंगा में प्रवाह करने का मामला सामने आने के बाद प्रशासन ने भले ही चौकसी बरतनी शुरू कर दी है लेकिन उसके बाद भी गंगा में शव बहाने वाले शव का प्रवाह कर दे रहे हैं। इसकी तस्दीक प्रशासन द्वारा लगाए गए महाजाल से हुई। बुधवार को उसमें यूपी से बहकर आए तीन शव फंसे मिले जबकि, मंगलवार को प्रशासन द्वारा महाजाल लगाने के बाद भी उसमें दो शव फंसे हुए थे। इस तरह बुधवार की दोपहर तक यूपी से बहकर आए पांच शव महाजाल में फंस गए।

शवों को निकालकर कराया अंतिम संस्कार

चौसा के अंचलाधिकारी नवलकांत एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी अशोक कुमार ने बताया कि सभी शवों को महाजाल से निकालकर उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस दौरान उन्हें गड्ढा खोदकर उसमें दफना दिया गया। जिला सूचना एवं जनसंपक पदाधिकारी कन्हैया कुमार ने बताया कि इससे यह साबित हो गया कि गंगा किनारे जो भी शव आकर लग रहे थे वे यूपी से ही बहकर आ रहे थे। डीपीआरओ ने बताया कि इस घटना के बाद प्रशासन ने 24 घंटा गंगा घाटों की निगरानी एवं विधि व्यवस्था के संधारण के लिए वहां दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति कर दी है। इसके तहत चौसा श्मशान घाट पर कृषि समन्वयक मनोज कुमार सिंह, रामपुकार तिवारी एवं प्रखंड तकनीकी प्रबंधक धर्मेन्द्र कुमार सिंह की प्रतिनियुक्ति की गई है। इनकी प्रतिनियुक्ति क्रमश: सुबह 6 बजे से दोपहर दो बजे तक तथा दोपहर दो बजे से रात्रि दस बजे एवं रात्रि दस बजे से सुबह 6 बजे तक के लिए प्रतिनियुक्त किया गया है। वहीं, पुलिस पदाधिकारियों में मोहन लाल प्रसाद एवं महेन्द्र राम की प्रतिनियुक्ति सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे एवं शाम छह बजे से सुबह छह बजे के लिए की गई है।

मुक्तिधाम में भी तीन शिफ्ट में लगी अधिकारियों की ड्यूटी

जिला मुख्यालय स्थित चरित्रवन श्मशान घाट में भी जिला प्रशासन ने अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति कर दी है ताकि, वहां विधि व्यवस्था का संधारण ठीक से हो सके और शवदाह करने आने वाले लोगों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े। चरित्रवन मुक्तिधाम में कृषि समन्वयक चंद्रदेव उपाध्याय, मनीष दूबे एवं पंकज कुमार सिंह समेत पुलिस पदधिकारियों में उदयशंकर प्रसाद एवं फूलचंद राम की प्रतिनियुक्ति की गई है। इनमें दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति तीन शिफ्ट में तथा पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति दो शिफ्ट में की गई है।

जन प्रतिनिधि चलाएं मुहिम : एसडीओ

सभी पंचायत स्तरीय जनप्रतिनिधियों से अनुरोध है कि वे अपने - अपने वार्ड में अपनी-अपनी पंचायतों में आज से निकलें और यह मुहिम चलाएं कि कोई भी व्यक्ति गंगा जी में लाश नहीं फेके। बक्सर के किसी भी व्यक्ति की बहती गंगा में लाश नहीं दिखे। यह भी सबको प्रण लेने के लिए अपील करिए कि कोई भी व्यक्ति गंगा में न तो लाशों को फेंकें और न ही प्रवाहित करें। यही नहीं, कोई मृत पशुओं को भी गंगा में प्रवाहित न करें। इससे न केवल गंगा जी प्रदूषित होती हैं बल्कि हमारी आदि काल से चली आ रही परंपरा भी दूषित होती है। सदर अनुमंडल पदाधिकारी कृष्ण कुमार उपाध्याय ने यह अपील जन प्रतिनिधियों से की है। उन्होंने कहा कि हम सभी को यह प्रण लेना होगा कि किसी भी स्थिति में चाहे जितनी परेशानी हो, चाहे जितनी गरीबी हो, हम गंगा जी में अपने परिजनों के शवाें को नहीं फेकेंगे। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.