धनरुआ में मामूली विवाद में युवक को मारी गोली, आरोपित फरार

कादिरगंज थाना क्षेत्र के डेवां गांव में मामूली विवाद में सोमवार को युवक को गोली मार दी।

JagranPublish:Tue, 01 Jun 2021 12:38 AM (IST) Updated:Tue, 01 Jun 2021 12:38 AM (IST)
धनरुआ में मामूली विवाद में युवक को मारी गोली, आरोपित फरार
धनरुआ में मामूली विवाद में युवक को मारी गोली, आरोपित फरार

धनरुआ : कादिरगंज थाना क्षेत्र के डेवां गांव में मामूली विवाद में सोमवार को युवक को गोली मार जख्मी कर दिया गया। जख्मी युवक अंजनी कुमार (25 वर्ष) को ग्रामीण आनन-फानन में पटना लेकर चले गए। गोली उसकी कमर व पीठ के बीच में लगकर आर-पार हो गई है। सूचना मिलने पर मसौढ़ी डीएसपी सोनू कुमार व कादिरगंज थानाध्यक्ष संतोष कुमार दलबल के साथ पहुंचे और छानबीन की।

बताया जाता है कि सोमवार की दोपहर डेवां गांव में दुर्गा मंदिर के चबूतरे के पास दर्जनों लोग बैठे थे, जिसमें अंजनी कुमार पुत्र राम कुमार सिंह और आरोपित युवक शिवम कुमार भी था। इसी बीच शिवम व अंजनी में किसी बात को लेकर तू-तू, मैं-मैं होने लगी। थोड़ी ही देर में विवाद मारपीट में तब्दील हो गया। मंदिर के प्रांगण में ही जमकर मारपीट हुई। उपस्थित ग्रामीणों ने बीचबचाव कर दोनों को वहां से हटा दिया। जख्मी अंजनी घर जाने लगा, इसी बीच आरोपित शिवम ने नाइन एमएम की पिस्टल निकाल पीछे से गोली चला दी। गोली कमर व पीठ के बीच में लगते हुए निकल गई। गोली चलते ही अफरातफरी मच गई। आनन-फानन में जख्मी युवक को इलाज के लिए पटना ले जाया गया, जहां उसकी हालत गंभीर बनी है। घटना के बाद आरोपित शिवम फरार हो गया। शिवम ताज गैंग का मुख्य सदस्य बताया गया है। उस पर मसौढ़ी व कादिरगंज में कई मामले दर्ज हैं। कादिरगंज में एससी-एसटी का मामला दर्ज है और फरार है। ग्रामीणों ने बताया कि जख्मी युवक मोतिहारी में किसी निजी कंपनी में कार्यरत है और लॉकडाउन के कारण घर पर था। सूचना मिलने पर एसडीपीओ सोनू कुमार व कादिरगंज थानाध्यक्ष मौके पर पहुंचे और पूछताछ की। पुलिस ने आरोपित के पिता धनंजय को हिरासत में लिया है। क्या कहते हैं थानेदार :

अब तक के अनुसंधान में विवाद का कोई संतोषजनक कारण नहीं मिला है। मामूली विवाद में किसी को गोली मारना समझ से परे है। विवाद का असल कारण पता लगाया जा रहा है। युवक आपराधिक प्रवृत्ति का है। वह कई काडों में फरार चल रहा है। फिलहाल, जख्मी युवक से बयान लेने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

-संतोष कुमार, थानाध्यक्ष