बड़ी बहन ने कहा- तुम उससे रिश्‍ता मत रखो, और आरा की लड़की के साथ हो गई बड़ी वारदात; चाची तो मुफ्त में ही फंस गई

अनुसंधान के क्रम में पुलिस को यह जानकारी मिली कि महिला की भतीजी की बड़ी बहन का प्रेम प्रसंग रतनाढ़ निवासी मंजीत कुमार से चल रहा था। इस बीच फरवरी 2021 में ममता ने अपनी ही जाति के एक लड़के राजकुमार से शादी कर ली थी।

Shubh Narayan PathakTue, 07 Dec 2021 11:05 AM (IST)
आरा में रेलकर्मी की पत्‍नी को गोली मारे जाने की घटना का पर्दाफाश। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

आरा, जागरण संवाददाता। Bhojpur Crime: भोजपुर जिले के चरपोखरी थाना के बजेन गांव में पिछले महीने एक रेल कर्मी की पत्नी को गोली मार कर गंभीर रूप से जख्मी करने के मामले का भोजपुर पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसका दूसरा साथी फरार है। गिरफ्तार किया गया आरोपित मंजीत कुमार गड़हनी थाना के रतनाढ़ गांव का निवासी बताया जाता है। इस मामले का दूसरा आरोपी शिवम कुमार फरार है, जो रतनाढ़ गांव का ही निवासी है। मंजीत की गिरफ्तारी आयर थाना के लक्ष्मीपुर गांव से की गई है। पीरो डीएसपी राहुल सिंह ने  प्रेस वार्ता में इसका खुलासा किया।

फायरिंग में रिश्ते की चाची को लग गई थी गोली

डीएसपी ने पत्रकारों को बताया कि गत 25 नवंबर को बजेन गांव निवासी कृष्णा प्रसाद की पत्नी चंद्रावती देवी अपने रिश्ते की एक भतीजी के साथ गांव के बाहर बधार में टहलने के लिए निकली थीं, तभी अपराधियों ने भतीजी को टारगेट कर गोली चला दी थी। लेकिन, गोली भतीजी की जगह चंद्रावती देवी को लग गई थी। इस घटना में चंद्रावती देवी गंभीर रूप से जख्मी हो गई थीं। इस मामले में चंद्रावती देवी के फर्दबयान पर दर्ज प्राथमिकी के बाद अनुसंधान के क्रम में पुलिस को यह जानकारी मिली कि महिला की भतीजी की बड़ी बहन का प्रेम प्रसंग रतनाढ़ निवासी मंजीत कुमार से चल रहा था। इस बीच फरवरी 2021 में ममता ने अपनी ही जाति के एक लड़के राजकुमार से शादी कर ली थी।

बड़ी बहन ने नाता तोड़ने की दी थी नसीहत

इधर, भतीजी का प्रेम प्रसंग अपराधी किस्म के शिवम कुमार से शुरू हो गया था। जब यह बात ममता को पता चला तो उसने अपनी बहन को शिवम से नाता न रखने का सुझाव दिया था। बहन के सुझाव पर किशोरी अपने प्रेमी शिवम से दूरी बनाने लगी तो यह बात शिवम को नागवार लगी और उसने मंजीत कुमार से मिलकर प्र‍ेमिका को ठिकाने लगाने का निश्चय किया। इसके लिए दोनों ने सुबह के समय टहलने जाते समय प्रेमिका को मारने के लिए गोली चलाई थी, लेकिन संयोग से गोली चंद्रावती को लग गई थी। अनुसंधान के दौरान पूछताछ के क्रम में प्रेमिका ने पुलिस को सबकुछ बता दिया। जिसके आधार पर थानाध्यक्ष प्रशांत सिंह के नेतृत्व में लगी पुलिस ने मंजीत को घर दबोचा। पुलिस ने गिरफ्तार अपराधी को जेल भेज दिया है। फरार शिवम की गिरफ्तारी का प्रयास जारी है

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.