सैदपुर नाले का सुरक्षा घेरा ध्वस्त, बारिश से बढ़ेगी मुसीबत

नगर निगम के बांकीपुर और अजीमाबाद अंचल अन्तर्गत करीब तीन किलोमीटर लंबे सैदपुर नाले की दीवार ध्वस्त हो गई।

JagranPublish:Tue, 08 Jun 2021 01:01 AM (IST) Updated:Tue, 08 Jun 2021 01:01 AM (IST)
सैदपुर नाले का सुरक्षा घेरा ध्वस्त, बारिश से बढ़ेगी मुसीबत
सैदपुर नाले का सुरक्षा घेरा ध्वस्त, बारिश से बढ़ेगी मुसीबत

पटना सिटी : नगर निगम के बांकीपुर और अजीमाबाद अंचल अन्तर्गत करीब तीन किलोमीटर लंबे सैदपुर-रामपुर नाला का किनारा कई जगहों पर ध्वस्त हो गया है। बड़े गड्ढे बन गए हैं। इस कारण नाला के उत्तर और दक्षिण की सड़क संकीर्ण हो गयी है। कई जगहों पर यह सड़क नीचे खोखली होकर गिरने के कगार पर है। सड़क पर चलने वाले वाहनों एवं राहगीरों के लिए खतरा काफी बढ़ गया है।

बरसात में यह नाला पानी से भर जाने के बाद घेरा न होने के कारण सड़क पर उबल पड़ता है। आसपास की कॉलोनियों एवं मोहल्लों में नाला का पानी भर जाने से समस्या उत्पन्न हो जाती है। सड़क और नाला के बीच का अंतर समाप्त हो जाने से नाला के जलमग्न होने पर दुर्घटना का खतरा बढ़ जाता है। चालक समेत कई वाहनों के नाला में गिरने से डूब कर कई लोगों की मौत तक हो चुकी है। स्थानीय नागरिकों द्वारा बरसात आरंभ होने से पहले नाला किनारे बालू की बोरी से सुरक्षा घेरा बनाने की मांग की जा रही है। पाटलिपुत्रा नगर विकास समिति के अध्यक्ष बबलू कुमार ने बताया कि निगम द्वारा जेसीबी या बड़ी मशीन से नाला उड़ाही करने के दौरान नाला के उत्तर व दक्षिण कर सुरक्षा घेरा अधिकांश जगहों पर टूट कर नाला में गिर गया है। एक-दो जगहों पर निगम द्वारा नाला में बल्ला लगा कर टीन के शीट से घेराबंदी की गयी है। नागरिकों का कहना है कि इस बार यदि नाला किनारे सुरक्षा घेरा नहीं बनाया गया तो बरसात में न्यू अजीमाबाद, अलका कॉलोनी, संदलपुर, महावीर कॉलोनी, पंचवटी नगर, कस्तूरबा नगर, साकेतपूरी, बहादुरपुर गांव, बैंक ऑफ बड़ौदा गली, श्याम मंदिर, मर्वारी कॉलोनी, मैक्डोवेल गोलंबर, नंद नगर गांवी, रामपुर गांव, बाजार समिति, गायघाट आदि इलाकों में नाला का पानी भर जाएगा।

---

सैदपुर-रामपुर नाला के दोनों किनारे के ध्वस्त हुए सुरक्षा घेरा का निर्माण करने की फिलहाल कोई योजना नहीं है। नाला से सटे मोहल्लों में पानी भरने से निगम के लिए भी समस्या बढ़ जाती है। ढह रही सड़क को बचाने के लिए निगम में चर्चा है।

राकेश कुमार सिंह, कार्यपालक पदाधिकारी, अजीमाबाद अंचल