डीएम ने दनियावां पहुंचकर बाईपास निर्माण का लिया जायजा

डीएम ने दनियावां पहुंचकर बाईपास निर्माण का लिया जायजा

जिलाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने प्रखंड सह अंचल कार्यालय संपतचक का निरीक्षण किया।

JagranFri, 12 Feb 2021 01:13 AM (IST)

फुलवारीशरीफ, दनियावां : जिलाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने प्रखंड सह अंचल कार्यालय संपतचक, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र संपतचक एवं निर्माणाधीन दनियावा बाईपास और पाटलिपुत्र बस टर्मिनल बैरिया का निरीक्षण कर कई आवश्यक निर्देश दिए।

दनियावां में बाईपास निर्माण कार्य का डीएम ने गुरुवार को निरीक्षण किया। उन्होंने किसानों को आश्वासन दिया कि भूमि का दर निर्धारण कर शीघ्र मुआवजा का भुगतान कर दिया जाएगा। चार दिनों से किसानों और निर्माण कार्य एजेंसी के बीच चल रहे गतिरोध को समाप्त करने का अनुरोध किसानों से किया। बुधवार दोपहर महिलाओं ने कार्यस्थल पर आकर कार्य को बंद करने को लेकर हंगामा किया था।

दनियावां बाजार के पश्चिमी भाग में बन रहे फोरलेन का निर्माण दो वर्ष से किसानों और प्रशासन के बीच भूमि अधिग्रहण दर को लेकर पेच फंसा है।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में ड्यूटी से नदारद दो डॉक्टर और दो कर्मी का रोका गया वेतन

संपतचक प्रखंड परिसर की होगी चारदीवारी, बनेगा चबूतरा : जिलाधिकारी

जमीन मिलते ही अंचल कार्यालय के नए भवन को होगा निर्माण

मतपेटी रूम और मतगणना कक्ष देखने के साथ पैक्स चुनाव का भी लिया जाएगा

जिलाधिकारी का काफिला गुरुवार को संपतचक प्रखंड पहुंचा। प्रखंड, अंचल कार्यालय के साथ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया। स्वास्थ्य केंद्र की जमीन पर चल रहे अंचल कार्यालय के जर्जर भवन को देख जिलाधिकारी ने अंचलाधिकारी को नया भवन निर्माण के लिए जमीन तलाश कर रिपोर्ट करने का आदेश दिया तो वहीं प्रखंड कार्यालय परिसर की चारदीवारी के साथ आने वाले ग्रामीणों के बैठने के लिए चबूतरा निर्माण कराने का आदेश दिया। परिसर में फैली गंदगी को जल्द साफ करने का भी आदेश दिया। जिलाधिकारी के संपतचक पहुंचने की भनक लगते ही कई ग्रामीण महिला राशन और पेंशन योजना की शिकायत लेकर पहुंच गई। जिलाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को जल्द ग्रामीणों की शिकायत के समाधान करने को कहा।

सात दिनों से गायब थे डीएमई

प्रखंड कार्यालय परिसर से निकलकर जिलाधिकारी बगल के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंच गए। जिलाधिकारी के स्वास्थ्य केंद्र पहुंचते ही कर्मियों में हड़कंप मच गया। जिलाधिकारी ने उपस्थिति रजिस्टर से मिलान कर डॉक्टर और कर्मियों की उपस्थिति को देखा तो भौंचक रह गए। अस्पताल का डीएमई अनील कुमार आठ दिनों से ड्यूटी से नदारद पाए गए। वहीं डाटा ऑपरेटर जयकिशन भी गायब थे। डॉ. अमरजीत और डॉ. रेखा जिनकी ड्यूटी सुबह 8 बजे से थी, लेकिन दोपहर 12 बजे तक ड्यूटी से गायब थे। गायब सभी डॉक्टर और कर्मी को अगले आदेश तक वेतन रोकने का आदेश दिया। इस मौके पर एसडीओ सदर, अंचलाधिकारी मुकुंद कुमार झा प्रखंड विकास पदाधिकारी उषा कुमारी मौजूद रहीं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.