निदेशक ने देखी हकीकत, अब चलेगा कार्रवाई का डंडा, अररिया व किशनगंज में भू सर्वेक्षण का बुरा हाल

भू-अभिलेख एवं परिमाप विभाग के निदेशक जय सिंह सरजमीन पर गए थे अच्छा कम बुरा ज्यादा देखा। भू-सर्वेक्षण की जमीनी हकीकत देखने गए थे। बिना सूचना के गायब थे कई अमीन। कई कर्मियों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई एक से दो माह के वेतन की कटौती

Vyas ChandraWed, 15 Sep 2021 05:55 PM (IST)
भू सर्वेक्षण में लापरवाही पर निदेशक ने की कार्रवाई। सांकेतिक तस्‍वीर

पटना, राज्य ब्यूरो। ग्राउंड रिपोर्ट में सबकुछ ठीक होने के दावे की सरजमीन पर जांच हुई तो पाया गया कि सबकुछ के बदले कुछ ही ठीक है। बाकी गड़बड़ है। भू-अभिलेख एवं परिमाप विभाग (Department of Land Records and Survey) के निदेशक जय सिंह ने किशनगंज और अररिया जिलों का दौरा यह देखने के लिए किया कि भू-सर्वेक्षण की क्या स्थिति है। दौरे से लौटने के बाद बुधवार को उन्होंने कई सर्वे कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए। इनमें एक शिविर प्रभारी और चार विशेष सर्वेक्षण अमीन शामिल हैं। ये अररिया जिले के हैं। किशनगंज में तैनात अमीनों का दूसरे जिलों में तबादला किया गया है। 

हकीकत में दिखी यह स्थिति 

जय सिंह 13 सितंबर को अररिया जिले के रानीगंज अंचल के शिविर संख्या एक और दो में गए। पहले शिविर में गड़बड़ी पकड़ में आई। शिविर प्रभारी शिल्पी प्रिया के एक माह की वेतन कटौती का आदेश दिया। बताया गया कि अमीन विक्की कुमार बिना सूचना के गायब हैं। इनके दो महीने के वेतन कटौती का आदेश दिया गया। शिविर संख्या दो के विशेष सर्वेक्षण अमीन संजीव गुप्ता 19 अगस्त से ही गायब पाए गए। इनके लिए भी दो महीने के वेतन कटौती का आदेश दिया गया। एक अन्य अमीन मणिकांत कुमार सिंह के कामकाज की जांच की गई। बताया गया कि वे जरूरी कागजात की अपलोडिंग नहीं कर रहे हैं। अमीन धीरज कुमार की लापरवाही भी पकड़ी गई। दोनों को एक-एक महीने के वेतन कटौती की सजा दी गई।

किशनगंज का भी वही हाल

जय सिंह 14 सितंबर को किशनगंज जिले के ठाकुरगंज अंचल के शिविर संख्या एक और पांच में गए। हाल देखकर तुरंत 45 अमीनों का दूसरे जिलों में तबादला कर दिया। दोनों जिलों के जिला स्तरीय पदाधिकारियों को निदेश दिया कि वे सभी शिविरों का गहन निरीक्षण करें। उन्होंने बाद में भू-सर्वेक्षण से जुड़े पदाधिकारियों के साथ बैठक की। जय सिंह ने अररिया जिला के सदर अंचल के माडर्न रिकार्ड रूम का मुआयना किया। पाया कि इनके लिए उपस्करों की खरीद हो गई है। इन्हें स्थापित नहीं किया गया है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.