बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने किया बड़ा ऐलान, बोले, ऐसे लोगों के लिए बहुमंजिली इमारत बनवाइए

स्मार्ट सिटी व नगर विकास विभाग की योजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास समारोह में मुख्यमंत्री ने किया बहुमंजिली इमारत बनवाने का ऐलान। बिहारशरीफ मुजफ्फरपुर व भागलपुर स्मार्ट सिटी की योजनाओं का काम भी तेजी से कराने की हिदायत

Vyas ChandraSat, 04 Dec 2021 12:02 PM (IST)
मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार करेंगे योजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्‍यास। फाइल फोटो

पटना, राज्य ब्यूरो। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar)  ने शनिवार को यह ऐलान किया कि शहरी क्षेत्र में फुटपाथ व पुल के नीचे रह रहे आश्रयविहीन लोगों के लिए सरकार की ओर से बहुमंजिली इमारत का निर्माण कराया जाएगा। इसके लिए जमीन को चिह्न‍ित किया जा रहा। सरकार जमीन का क्रय कर इसका निर्माण कराएगी। पटना स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट व नगर विकास विभाग की विभिन्न योजनाओं के उद्घाटन व शिलान्यास समारोह में शनिवार को ख्यमंत्री ने यह बात कही। उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि तीन अन्य स्मार्ट सिटी क्रमश: बिहारशरीफ, मुजफ्फरपुर और भागलपुर की योजनाओं का काम भी तेजी से कराएं।

जहां-जहां जरूरत बनवाइए बहुमंजिली इमारत

मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़क के किनारे और पुल के नीचे रहने का क्या मतलब है? हम तो किसी को हटाते नहीं पर ऐसे लोगों के रहने के लिए सही जगह होनी चाहिए। सरकार की तरफ से ऐसे लोगों को जगह उपलब्ध करायी जाएगी। अधिकारियों को कहा कि जहां-जहां जरूरत है वहां बहुमंजिली इमारत बनाकर दे दीजिए। संबंधित इमारत का रख रखाव भी सरकार की ओर से किया जाएगा। सभी तरह की सुविधाएं भी उपलब्ध करायी जाएगी। अपने पहले कार्यकाल में ही उन्होंने यह कहा था। एक भवन बना भी। वह उसे देखने भी गए पर बाद में नहीं बना। 

केवल नाम का नहीं हो स्‍मार्ट सिटी 

मुख्यमंत्री ने कहा कि केवल नाम स्मार्ट सिटी नहीं रहना चाहिए बल्कि वह स्मार्ट होना भी चाहिए। पटना में स्मार्ट सिटी का काम देरी से आरंभ हुआ पर खुशी है कि अब दिशा में काम हो रहा। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को यह हिदायत दी कि काम तेजी से करें। सूबे के 258 नगर निकायों का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इनके लिए सात निश्चय-2 के तहत ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन के लिए योजना तैयार की जा रही है। वृद्धाश्रम बनाए जाने को ले भी एजेंसी का चयन कर लिया गया है।

कम पैसे में स्मार्ट सिटी नहीं बनेगा

स्मार्ट सिटी की योजनाओं में खर्च होने वाली राशि का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कम पैसे से स्मार्ट सिटी नहीं बन सकता। जितने पैसे की जरूरत है वह खर्च करिए।  मुख्यमंत्री ने राशि के संदर्भ में यह भी कि विगत दो वर्षों से कोरोना की वजह से उसके बचाव आदि पर राज्य व केंद्र सरकार का काफी खर्च हो रहा है। पैसे की कमी होती है इससे विलंब भी होता है। पर सरकार को जो करना है वह करेगी। विकास के काम को निश्चित रूप से आगे बढ़ाएंगे।  राज्य में कोरोना से बचाव को ले हम एक-एक काम कर रहे हैैं। लोगों का सतर्क रहना चाहिए। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.