बीपीएससी दे रहा सरकारी अधिकारी बनने का मौका, 60 हजार रुपये महीना मिलेगी सैलरी

बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) के माध्यम से सरकारी नौकरी का सुनहरा मौका है। पटना हाई कोर्ट के आदेश के आलोक में बिहार लोक सेवा आयोग ने सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में सहायक निदेशक सह जन संपर्क पदाधिकारी प्रतियोगिता परीक्षा के लिए आवेदन की तिथि बढ़ा दी है।

Akshay PandeySun, 13 Jun 2021 06:04 PM (IST)
बीपीएससी के माध्यम से सरकारी नौकरी का सुनहरा अवसर है। प्रतीकात्मक तस्वीर।

नलिनी रंजन, पटना : बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) के माध्यम से सरकारी नौकरी का सुनहरा मौका है। पटना हाई कोर्ट के आदेश के आलोक में बिहार लोक सेवा आयोग ने सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में सहायक निदेशक सह जन संपर्क पदाधिकारी प्रतियोगिता परीक्षा के लिए आवेदन की तिथि बढ़ा दी है। अभ्यर्थियों को 11 जून से लेकर पांच जुलाई तक आनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

इसमें वैसे अभ्यर्थी को आवेदन नहीं करना है, जो पहले रजिस्ट्रेशन कर चुके हैं। आवेदक की अधिकतम उम्र सीमा की गणना एक अगस्त 2017 की तिथि से की जाएगी। जबकि, न्यूनतम उम्र की गणना एक अगस्त 2020 से की जाएगी। सूचना एवं जन संपर्क विभाग के नियंत्रणाधीन 31 पदों पर नियुक्ति होनी है। इसमें सामान्य वर्ग के 10, आर्थिक रूप से कमजाेर वर्ग के लिए तीन, अनुसूचित जाति के छह, अनुसूचित जनजाति के लिए एक, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के सात, पिछड़ा वर्ग के तीन एवं पिछड़े वर्ग की महिला के लिए एक सीटें निर्धारित हैं। परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों को 60 हजार रुपये महीना तनख्वाह दी जाएगी। अधिक जानकारी के लिए http://www.bpsc.bih.nic.in/" rel="nofollow पर अभ्यर्थी जा सकते हैं। 

यह है शैक्षिक योग्यता

किसी भी मान्यता प्राप्त विवि या उससे संबद्ध संस्था से स्नातक अथवा इसके समकक्ष डिग्रीधारी तथा मान्यता प्राप्त् विवि या उससे संबंद्ध संस्था से पत्रकारिता-मास कम्युनिकेशन में डिग्री होना अनिवार्य है। सभी शैक्षणिक योग्यता से संबंधित प्रमाण पत्र आनलाइन आवेदन भरने की अंतिम तिथि के पूर्व निर्गत होना चाहिए।

तीन चरण में होगी परीक्षा

बीपीएससी इसमें नियुक्ति के लिए तीन चरणों में परीक्षा लेगा। सबसे पहले प्रारंभिक परीक्षा यानी पीटी का आयोजन होगा। इसमें सफल अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा यानी मेंस परीक्षा में शामिल होना होगा। इसमें सफल होने वाले को मौखिक जांच सह साक्षात्कार परीक्षा में बुलाया जाएगा। साक्षात्कार 100 अंकों की आयोजित होगी। -

आयोग कभी भी मांग सकता है कागजात

आयोग ने स्पष्ट किया है कि अभ्यर्थियों से किसी भी समय मूल कागजात सत्यापन के लिए कागजात मांगे जा सकते हैं। इसमें मैट्रिक का प्रमाण पत्र जन्म तिथि के साक्ष्य के लिए, स्नातक डिग्री प्रमाण पत्र, पत्रकारिता-मास कम्युनिकेशन प्रमाण पत्र, पिछड़ा वर्ग-अतिपिछड़ा वर्ग, क्रीमिलेयर रहित प्रमाण पत्र आदि।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.