भाजपा-जदयू के सीएम नीतीश कुमार का कार्यकाल बिहार की बर्बादी के लिए याद किया जाएगा, कांग्रेस का आरोप

भाजपा-जदयू सरकार पर राज्य के निवासियों का जीवन बर्बाद करने का आरोप कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता असित नाथ तिवारी ने लगाया है। कांग्रेस का आरोप है देश मे जहां 6.70 फीसद बेरोजगारी है वहीं बिहार में 14 फीसद युवा बेरोजगार हैं।

Akshay PandeyWed, 28 Jul 2021 05:19 PM (IST)
बिहार कांग्रेस ने नीतीश सरकार पर आरोप लगाया है। प्रतीकात्मक तस्वीर।

राज्य ब्यूरो, पटना : कांग्रेस ने सूबे की भाजपा-जदयू सरकार पर राज्य के निवासियों का जीवन बर्बाद करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस का आरोप है देश मे जहां 6.70 फीसद बेरोजगारी है वहीं बिहार में 14 फीसद युवा बेरोजगार हैं। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता असित नाथ तिवारी ने सीएमआईई की रिपोर्ट का हवाला देकर कहा कि 2010 के बाद सरकार ने जानबूझकर हर साल सरकारी नौकरियों में भारी कटौती की है। ताजा अध्ययन यह भी बताता है कि साल 2011 से बिहार में निजी क्षेत्र का आकार भी छोटा हुआ है और उसमें रोजगार का अवसर शून्य से नीचे हो गए हैं। 

सीएमआईई की रिपोर्ट बताती है कि बिहार में बेरोजगारी दर 14% से भी ज्यादा है जबकि राष्ट्रीय औसत 6.70 प्रतिशत है। मतलब राष्ट्रीय औसत से दो गुना से भी ज्यादा बिहार में बेरोजगारी दर है। सबसे ज्यादा बेरोजगारी का दंश बिहार के ग्रामीण इलाके झेल रहे हैं‌। मनरेगा मजदूर और राजमिस्त्री समेत सभी ग्रामीण मजदूरों की बेरोजगारी दर 17% के करीब है। जबकि, ऊंची डिग्रियां लेकर नौकरियों की तलाश में नौकरी की उम्र सीमा गंवाते लोगों की बेरोजगारी दर 12.6 फीसद है।

लाखों नौकरी पाने की उम्र सीमा खो चुके

 

तिवारी ने कहा कि पिछले 10 सालों में लाखों पढ़े-लिखे लोग नौकरी पाने की उम्र सीमा खो चुके हैं। सरकारी नौकरियों में हुई साल दर साल कटौती की वजह से पढ़े-लिखे लोगों के सामने कोई विकल्प नहीं बचा है‌। सरकार की दमनकारी नीतियों ने बिहार में निजी क्षेत्र का बड़ा नुकसान किया है। इस रिपोर्ट का पूरा विश्लेषण करने पर यह पता चलता है कि बिहार में गरीबी बढ़ी है, कुपोषण बढ़ा है और इलाज के अभाव में मौत के आंकड़ों में बढ़ोतरी हुई है। यह इसलिए हुआ है क्योंकि लोगों के पास कमाई का कोई जरिया नहीं है। तिवारी ने कहा कि भाजपा-जदयू के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का कार्यकाल बिहार की बर्बादी काल के तौर पर याद किया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.