बिहार की बेटी ममता को मिलेगा राष्ट्रीय सेवा योजना अवार्ड, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद करेंगे सम्मानित

बिहार के छपरा की बेटी ममता ने सूबे का मान बढ़ाया है। ममता कुमारी का चयन राष्टीय सेवा योजना अवार्ड (2019-2020) के लिए हुआ है।आगामी 27 सितंबर राष्ट्रपति भवन के दरबार हाल में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ममता को सम्मानित करेंगे।

Rahul KumarFri, 17 Sep 2021 04:43 PM (IST)
छपरा की बेटी ममता कुमारी को मिलेगा राष्ट्रीय सेवा योजना अवार्ड। जागरण

छपरा, जागरण संवाददाता। छपरा की बेटी ने एक बार फिर से बिहार का नाम ऊंचा किया है। जिले की बिटिया व जेपी विश्वविद्यालय के स्थानीय जेपीएम कालेज की छात्रा ममता कुमारी का चयन प्रतिष्ठित राष्टीय  सेवा योजना अवार्ड  (2019-2020) के लिए हुआ है। शहर के जटाई पोखरा (44 नंबर ढाला के पास) निवासी रघुनाथ चौधरी व गृहिणी निर्मला देवी की पुत्री को भारत सरकार के युवा कार्यक्रम व खेल मंत्रालय की ओर से राष्ट्रीय सेवा योजना पुरस्कार से सम्मानित किया जायेगा। पूरे देश से 41 कैडेटों का चयन इस पुरस्कार के लिए हुआ है। ममता  के अलावा राज्य के मगध विश्वविद्यालय  के गया कालेज गया के कैडेट विशाल राज भी इस पुरस्कार से नवाजे जायेंगे।

जेपीएम  कालेज में स्नातक  की छात्रा है ममता 

जयप्रकाश महिला कालेज के पार्ट थ्री साइकोलाजी आनर्स की छात्रा ममता को एनएसएस अवार्ड के रूप में प्रमाणपत्र, सिल्वर ट्राफी और 50 हजार रुपये नकद मिलेंगे। 27 सितंबर (राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस)  को राष्ट्रपति भवन के दरबार हाल में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ममता को सम्मानित करेंगे। खेल मंत्रालय की वेबसाइट पर शुक्रवार को चयन संबंधी जानकारी दी गई है।

 सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेती है 

जेपी विश्वविद्यालय के एनएसएस कोआर्डिनेटर डा. हरिश्चंद्र ने बताया कि रक्तदान व इसकी जागरूकता के लिए नुक्कड़ नाटक करने, मतदाता जागरूकता अभियान, दलित बस्ती में स्वच्छता अभियान, एड्स जागरूकता अभियान, महिला सशक्तिकरण ,कोरोना का में समाज सेवा एनएसएस के विभिन्न कार्यक्रमों में सक्रिय भागीदारी को लेकर ममता का चयन किया गया। जेपी विवि को गौरवान्वित करने पर कुलपति  प्रो.(डा ) फारूक अली, प्रतिकुलपति प्रो.(डा.) लक्ष्मी नारायण सिंह, कुलसचिव डा.रविप्रकाश बबलू , जेपीएम की  प्राचार्या डा.मधुप्रभा सिंह, कार्यक्रम पदाधिकारी,डा.अलीना अली,शिक्षिका डा. रेखा श्रीवास्तव जेपीयू के पूर्व एनएसएस के समन्वयक डा. विद्यावाचस्पति त्रिपाठी ने बधाई दी है।

जेपीविवि के सातवीं कैडेट को मिला यह है अवार्ड

जेपी विश्वविद्यालय के सातवीं कैडेट ममता कुमारी को यह उपलब्धि मिली है। राष्ट्रीय स्तर के राष्ट्रीय सेवा योजना अवार्ड इसके पूर्व छह एनएसएस कैडेट को मिल चुका है। जेपीयू  में सबसे पहले वर्ष 2008 में राजेन्द्र कालेज के छात्र जहागीर को इस प्रतिष्ठित पुरस्कार से नवाजा गया था। उसके पांच साल बाद 2013 में राजेन्द्र कालेज के ही छात्र प्रवीण कुमार, 2014 में राजेन्द्र कालेज की छात्रा रितु राज ,2015 में जगदम कालेज के छात्र मंटू कुमार यादव ने अवार्ड हासिल कर विवि को राष्ट्रीय मानचित्र पर ला दिया। 2016 में जेपीएम की छात्रा प्रीति कुमारी,2018 में  जगदम कालेज की छात्रा कुमारी अनिषा एवं 2020 में जय प्रकाश महिला कालेज की छात्रा ममता कुमारी ने कामयाबी की इबारत जारी रखा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.