Bihar Weather Forecast : आंधी-बारिश के बाद मौसम सुहावना, कई जिलों में आज भी गरज-चमक के साथ पड़ेंगी बौछारें

Bihar Weather Forecast बिहार में मंगलवार की दोपहर तीन बजे के बाद अचानक मौसम ने करवट ली। आंधी के साथ झमाझम बारिश शुरू हो गई। इससे गर्मी और उमस से राहत मिली। लेकिन आम व लीची की फसल पर इसका बुरा असर पड़ा।

Sumita JaiswalWed, 02 Jun 2021 07:56 AM (IST)
आंधी के साथ झमाझम बारिश हुई, सांकेतिक तस्‍वीर ।

पटना, जागरण संवाददाता। Bihar Weather Forecast :  राज्य में तूफान व बारिश के बाद बुधवार (2 जून) को मौसम सुहाना रहा। बुधवार को सुबह से धूप निकलने के साथ लोगों को राहत मिली है। मंगलवार को अचानक मौसम के बदले तेवर, तेज हवा और बारिश के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया था। मौसम विज्ञानी के अनुसार मंगलवार को राजधानी में 15 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। ऐसे ही स्थिति अगले दो दिनों तक बने रहने की संभावना है। मौसम विज्ञानी की मानें तो इन दिनों प्री मानूसन का सीजन चल रहा है। ऐसे में तेज धूप होने के बावजूद राज्य के कई जगहों पर तेज बारिश होने की संभावना रहती है।

अगले दो दिनों तापमान रहेगा सामान्‍य, आज यहां होगी बारिश

राज्य के कई जगहों पर बुधवार के दिन आंशिक रूप से बादल छाए रहे। तापमान में अगले दो दिनों के दौरान तापमान में कोई बड़ा बदलाव देखने को नहीं मिलेगा। मौसम विज्ञान केंद्र पटना की ओर से राज्य के उत्तर पूर्व बिहार के सुपौल, अररिया, किशनगंज, मधेपुरा, सहरसा, पूर्णिया आदि जगहों पर बुधवार को एक या दो स्थानों पर 30-40 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से तेज हवा चलने के साथ मेघ गर्जन और आकाशीय बिजली चमकने की संभावना है। राज्य के दक्षिण मध्य बिहार, दक्षिण पूर्व बिहार आदि जगहों पर एक या दो स्थानों पर मेघ गर्जन के साथ हल्की बारिश हो सकती है। ऐसे में लोगों को अपने घरों में रहने की सलाह दी जा रही है।  माैसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार राज्य व इसके आसपास इलाकों पर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पश्चिम बंगाल और पड़ोस के उत्तरी भागों पर बना है। माैसम विज्ञानी की मानें तो सूबे में प्री मानसून सीजन में इस बार रिकॉर्ड बारिश हुई है।

अचानक मौसम ने ली करवट, गर्मी से राहत

बिहार में मंगलवार की दोपहर तीन बजे के बाद अचानक मौसम ने करवट ली। आसमान में काले-काले बादल घिर आए। दिन में ही बिल्‍कुल अंधेरा हो गया। तेज आंधी (storm)  के साथ बारिश (Rain) शुरू हो गई। इससे गर्मी और उमस (hot and humid) से लोगों को राहत मिली। बारिश से मौसम सुहावना (weather become pleasant) हो गया, लेकिन आम व लीची की फसल (crop of mango and Litchi)  पर इसका बुरा असर पड़ा। वहीं, आंधी के कारण कई जगह पेड़ टूट गए। बिजली के पोल भी क्षतिग्रस्त होने से बिजली आपूर्ति (Electricity Supply) बाधित हो गई। बदले मौसम में राजधानी में 15 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। इस तरह की स्थिति आज, बुधवार और गुरुवार को भी बने रहने की उम्मीद है।

प्री-मानसून की पड़ी फुहारें

मंगलवार की शाम चार बजे से आंधी के साथ झमाझम बारिश शुरू हो गई। करीब दो घंटे तक यह स्थिति बनी रही। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानी संजय कुमार का कहना है कि प्री-मानसून का सीजन चल रहा है। ऐसे में आंधी और बारिश आना सामान्य बात है। पिछले दिनों राज्य में तूफान के दौरान भारी बारिश हुई है, जिससे वातावरण में खासी नमी है। इस हालात में तेज धूप होने पर कभी भी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के शैलेंद्र कुमार पटेल ने बताया कि मंगलवार की शाम को लगभग 60 किलोमीटर की गति से हवा चली तो कई पेड़ गिर गए।

आंधी-पानी से आम और लीची बर्बाद :

हालांकि आंधी से आम और लीची की फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है। 60 किलोमीटर की गति से आंधी चलने के कारण आम की लगभग तीस फीसद फसल बर्बाद हो गई। विशेषज्ञों का कहना है कि पटना जिले में केवल आम की फसल को तीन करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ है। जिले में 700 हेक्टेयर में आम के बगीचे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.