Bihar Politics: स्‍पीकर ने दी मास्‍क लगाने की नसीहत तो खीझ गए तेजस्‍वी यादव, कहा-12 फीट पर तो बैठाए है न

नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव की तस्‍वीर ।

Bihar Politics विधानसभा अध्यक्ष ने सदन में कई बार तेजस्‍वी को मास्‍क के लिए टोका तो खीझते हुए जवाब दिया । उन्‍होंने एक विधायक को आसन की ओर उंगुली दिखाने पर भी कड़ाई से टोका। विशेष सत्र में इस बार कई परंपराएं टूटी।

Publish Date:Fri, 27 Nov 2020 03:04 PM (IST) Author: Sumita Jaiswal

पटना, राज्य ब्यरो। Bihar Politics:  कोरोना के बढ़ते खतरे को लेकर सरकार गाइडलाइन के पालन को लेकर सख्‍त हो गई है। इसका असर कल (27 नवंबर) को सदन में भी दिखा। 17वीं विधानसभा के गठन के लिए बुलाया गया विधानमंडल का विशेष सत्र शुक्रवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित हो गया। इस दौरान पांच दिनों तक विधानसभा की कार्यवाही चली और दो दिनों तक विधान परिषद की। विधानसभा के नवनिर्वाचित सदस्यों ने शपथ ली। इस दौरान सदन में कई परंपराएं टूटीं, सियासी मर्यादाएं भंग हुईं और आरोप-प्रत्यारोपों के स्तर ने भी हद पार की।

जब खीझ गए तेजस्‍वी

विधानसभा के आखिरी दिन आसन यानी विधानसभा अध्यक्ष के स्तर पर मास्क से जुड़ी नसीहतें कई बार आयीं। वे बार-बार सदस्‍यों से मास्‍क लगाने की अपील कर रहे थे। एक समय तो उन्होंने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को अपने साथ लाए गए मास्क को दिखाने तक को कहा। तेजस्वी ने अपनी जेब से मास्क निकालकर सदन में दिखाया। इस पर उन्होंने नेता प्रतिपक्ष को कहा कि सदन चाहता है कि आप इसे पहनकर बोलें। तेजस्वी ने खीझते हुए कहा-अजीब स्थिति है। फिजिकल डिस्टेंस तो है ही।  बारह फीट की दूरी पर बिठाए हैं न? तो मास्‍क की क्‍या जरूरत।

तेजस्वी के समीप राजद के ललित यादव बैठे थे। वह उस वक्त बगैर मास्क के थे। उन्हें देखते ही विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि खतरा  ललित बाबू से है।

मास्‍क लगाने की अपील करते रहे

मास्क को लेकर विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कई बार सदन में नियमन दिया। उन्होंने जब यह देखा कि कुछ लोग बगैर मास्क के हैं तो उन्होंने कहा कि मास्क जरूर लगा कर आएं। केवल बोलने के समय ही मास्क उतारें। उन्होंने यह भी कहा कि जो लोग मास्क पहनकर नहीं आए थे उन्हें मास्क  दिया भी गया है।

स्पीकर बोले, ललित जी आप आसन को उंगली नहीं दिखा सकते

बिहार विधानसभा में सभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने ललित यादव को कड़ाई से कहा, आप आसन की ओर उंगली नहीं दिखा सकते हैं।

असल में तेजस्वी यादव सदन में राज्यपाल के अभिभाषण पर हुए वाद-विवाद पर बोल रहे थे। सभा अध्यक्ष विजय सिन्हा तेजस्वी यादव को मर्यादा में रह कर बोलने की ताकीद कर रहे थे जबकि पीछे से राजद विधायक ललित यादव आसन की ओर लगातार उंगली दिखाकर कुछ कहने की कोशिश कर रहे थे। इस पर सभापति ने उन्हें टोका और कहा कि आप आसन की ओर उंगली नहीं दिखा सकते हैं। पुराने सदस्य हैं ऐसा ना करें। आप दो-दो बार उंगली दिखा चुके हैं। जिसके बाद ललित यादव ने अपने हाथ नीचे कर लिए।

नए सदस्‍यों को दी नसीहत

पहली बार विधानसभा पहुंचे विधायकों को लगातार नसीहत देते रहे। कहा कि आप नए आए हैं। सत्ता पक्ष और विपक्ष के वरीय सदस्यों को श्रवण करें। बीच में टोका-टोकी उचित नहीं है। भाकपा (माले) के एक विधायक जब उठे तो उन्हें लगभग डपटते हुए कहा- आप चौथी बार उठे हैं, यह अच्छी बात नहीं है। वरिष्ठ सदस्यों से सीखना चाहिए।

विधानमंडल का सत्र अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा और विधान परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह ने सहयोग के लिए सदस्यों का आभार जताया और उन्हें नकारात्मक राजनीति से परहेज करने का आग्रह किया। विजय सिन्हा ने अपने संबोधन में सदन को बताया कि 23 नवंबर से 27 नवंबर के बीच सदन में पांच बैठकें हुईं। इस दौरान विधानसभा के नए सदस्यों का शपथ ग्रहण, विधानसभा के नए अध्यक्ष का चयन, राज्यपाल द्वारा दोनों सदनों के सदस्यों को संबोधन और सरकार का जवाब हुआ। विधानसभा अध्यक्ष ने यह यह जानकारी देने के बाद सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किए जाने की घोषणा कर दी। इसके पूर्व उन्होंने सदस्यों को नववर्ष की शुभकामनाएं भी दी।

यह भी पढ़ें:   Bihar Politics: मुख्‍यमंत्री पर तेजस्‍वी की निजी टिप्‍पणी के बाद सदन में शुरू हुआ हंगामा

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.