ललन सिंह का तेजस्वी पर हमला, बोले- धंधा करवा रहे हैं आतंकराज के युवराज, शराबबंदी से हैं व्याकुल

सिवान सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष रामायण चौधरी की शराब मामले में गिरफ्तार के बाद राजनीति शुरू हो गई है। रामामयण चौधरी आरजेडी नेता बताए जा रहे हैं इस पर जेडीयू अध्यक्ष ललन सिंह ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का नाम लिए बिना बड़ा हमला किया है।

Rahul KumarPublish:Wed, 08 Dec 2021 12:11 PM (IST) Updated:Wed, 08 Dec 2021 12:11 PM (IST)
ललन सिंह का तेजस्वी पर हमला, बोले- धंधा करवा रहे हैं आतंकराज के युवराज, शराबबंदी से हैं व्याकुल
ललन सिंह का तेजस्वी पर हमला, बोले- धंधा करवा रहे हैं आतंकराज के युवराज, शराबबंदी से हैं व्याकुल

पटना, आनलाइन डेस्क। बिहार में शराबबंदी कानून को सख्ती से लागू करने को लेकर हुई समीक्षा के बाद प्रशासन पूरी तरह अलर्ट मोड में है। शराब तस्करों पर नकेल कसने के लिए लगातार छापेमारी अभियान जारी है। पुलिस ने कई बड़े लोगों पर भी शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इसी सिलसिले में मंगलवार को सिवान सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष रामायण चौधरी को पुलिस ने शराब के मामले में अरेस्ट किया। इसके बाद से बिहार में सियासत शुरू हो गई है। जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष और मुंगेर के सांसद ललन सिंह (Lalan Singh) ने बिहार विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) पर बड़ा हमला किया है। 

'धंधा करवा रहे हैं आतंकराज के युवराज'

शराब मामले में सिवान सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक के अध्यक्ष रामायण चौधरी को राजद नेता बताया जा रहा है। रामायण चौधरी की तस्वीर भी आरजेडी के बड़े नेताओं के साथ वायरल है। इसको लेकर ललन सिंह ने तेजस्वी यादव पर जोरदार हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि, मद्यनिषेध से बिहार की जनता लाभान्वित हो रही हैं। शराबबंदी के बाद नशे में घटित अपराधों, सड़क हादसों और गृह क्लेश के कमी आई है। राज्य की महिलाएं सुरक्षित हैं लेकिन राज्य को बर्बाद करने की फिराक में आतंकराज के युवराज धंधा करवा रहे हैं। उन्होंने तेजस्वी यादव का नाम लिए लिखा है कि शराबबंधी के विरोध में व्याकुल हैं। 

लालू-राबड़ी पर बोला हमला

जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष ललन सिंह ने राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू यादव ( Lalu Prasad yadav) पर भी हमला किया है। उन्होंने लालू और राबड़ी राज को आंतक राज बताया है। ललन सिंह ने ट्वीट किया है कि,पति-पत्नी राज में आतंक, नरसंहार, संस्थागत अपराध और अपहरण उद्योग से डरा हुआ था। आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार समृद्धि की राह पर आगे बढ़ रहा है। अब देश-विदेश के लोग छुट्टियां मनाने लिए बिहार आने लगे हैं।