Bihar Flood: वैशाली में पानी के दबाव की वजह से बांध टूटा, इलाके में भारी तबाही

Bihar Flood News बिहार के वैशाली के महनार में स्लुइस गेट के निकट बना बांध पानी के दबाव की वजह से टूट गया। बांध टूटने की वजह से बाढ़ की स्थिति बहुत भयावह हो गई है। नदी का पानी वैशाली सहित समस्तीपुर जिले के कुछ पंचायतों में फैल रहा है।

Rahul KumarWed, 15 Sep 2021 02:04 PM (IST)
महनार के सरमस्तपुर में स्लुइस का फ्लैंक टूटने के बाद बहता बाया नदी का पानी। जागरण

जागरण संवाददाता, महनार(वैशाली)। वैशाली जिले के महनार प्रखंड अंतर्गत सरमस्तपुर पंचायत के बाजीतपुर में वाया नदी के पानी के दबाव के कारण मंगलवार की सुबह स्लुइस गेट के निकट बने बांध के टूट जाने के कारण बाढ़ की स्थिति बहुत भयावह हो गई है। नदी से पानी निकल कर तेजी से वैशाली जिले के सरमस्तपुर पंचायत सहित समस्तीपुर जिले के कुछ पंचायतों में फैल रहा है। टूटे हुए हिस्से की मरम्मत का कार्य शाम में शुरू किया गया। प्रशासनिक देखरेख में मरम्मत का काम काफी तेज गति से चल रहा है। महनार से एसडीओ खुद इसकी मानिटरिंग कर रहे हैं। 

पानी के दबाव से टूटा बांध

मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार की अहले सुबह लगभग 4 बजे सरमस्तपुर पंचायत अंतर्गत बाजीतपुर में बाया नदी के किनारे स्लुइस गेट के निकट बना फ्लैंक पानी के दबाव से धराशायी हो गया। स्थानीय लोगों के अनुसार लगभग 15 फीट में फ्लैंक पूरी तरह टूटकर पानी के साथ बह गया। इस कारण बाया नदी का पानी सरमस्तपुर पंचायत सहित समस्तीपुर जिले के कुछ पंचायतों को प्रभावित कर रहा है। इन क्षेत्रों में बाढ़ का पानी फैलने से लोगों की परेशानी बढ़ गई है। 

मरम्मत का काम जारी

स्थानीय मो. मुख्तार आलम ने बताया कि सुबह में जब फ्लैंक टूटा उसके बाद मस्जिद के माइक से लोगों को इसकी सूचना दी गई। ताकि कोई दुर्घटना का शिकार ना हो। उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों ने पेड़ काटकर एवं बांस आदि डालकर पानी के बहाव को रोकने का हरसंभव प्रयास किया, लेकिन पानी नहीं रुका। उन्होंने यह भी बताया कि सूचना देने के कई घंटे बाद प्रशासन पानी के बहाव को रोकने के लिए सक्रिय हुआ। 

स्थानीय लोगों के अनुसार मंगलवार दोपहर करीब 3 बजे के बाद से जल निस्सरण विभाग, बाढ़ नियंत्रण विभाग एवं स्थानीय प्रशासन के स्तर पर टूटे हुए हिस्से में बालू भरी बोरी आदि रखने का काम शुरू किया गया। बताया कि जितनी गहराई और लंबाई में फ्लैंक टूटा है, उसे भरने में पूरी रात निकल जाएगी। उल्लेखनीय है कि बाया नदी के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि के कारण पहले से ही महनार प्रखंड की कई पंचायत बाढ़ से प्रभावित है। इससे जनजीवन अस्त-व्यस्त है। इस बीच यहां स्लुइस का फ्लैंक टूट जाने से लोगों की परेशानी और बढ़ गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.