बीएसएससी ऑफिस पहुंचा कोरोना, 12140 पदों के लिए होने वाली परीक्षा को लेकर बड़ा निर्णय

कोरोना का बीएसएसी परीक्षा पर असर पड़ा है। प्रतीकात्मक तस्वीर।

बीपीएससी की ओर से इसी महीने टाइपिंग टेस्ट लेने की तैयारी की जा रही थी लेकिन आयोग के एक सदस्य परीक्षा प्रशाखा के उप सचिव सहित करीब आधा दर्जन कर्मचारी अधिकारी के संक्रमित होने के बाद टाइपिंग टेस्ट अगले महीने लेने की प्रक्रिया की जा रही है।

Akshay PandeyFri, 16 Apr 2021 04:59 PM (IST)

नलिनी रंजन, पटना: कोरोना संक्रमण के बढ़ते कहर का शिकार अब नियुक्ति प्रक्रिया पर होने लगी है। बिहार कर्मचारी चयन आयोग (बीएसएससी) कार्यालय में कोरोना का कहर दिखने लगा है। बीपीएससी की ओर से इसी महीने टाइपिंग टेस्ट लेने की तैयारी की जा रही थी लेकिन आयोग के एक सदस्य, परीक्षा प्रशाखा के उप सचिव सहित करीब आधा दर्जन कर्मचारी अधिकारी के संक्रमित होने के बाद टाइपिंग टेस्ट अगले महीने लेने की प्रक्रिया की जा रही है। आयोग के सचिव ओम प्रकाश पाल ने बताया कि टाइपिंग टेस्ट पहले अप्रैल महीने में ही संभावित था। कोरोना संक्रमण का केस अचानक तेजी से बढ़ने के कारण अब टाइपिंग टेस्ट मई में संभावित किया जा रहा है। टेस्ट लेने के लिए पाटलिपुत्र स्थित टीसीएस को परीक्षा केंद्र बनाने की संभावना है। इस पर जल्द ही आयोग की ओर से निर्णय लिया जाएगा।

12140 पदों पर चल रही है नियुक्ति प्रक्रिया

बिहार कर्मचारी चयन आयोग की ओर से 12140 पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया की जा रही है। इसके लिए आयोग की ओर से शारीरिक जांच परीक्षा, टाइपिंग टेस्ट लिया जाना है। आयोग की ओर से कुल 32 प्रकार के पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया की जा रही है। इसमें पर्यावरण एवं जलवायु विभाग में वन रक्ष्री पद पर नियुक्ति के लिए शारीरिक परीक्षा लेने के लिए विभाग को 3465 अभ्यर्थियों की सूची भेजी जा चुकी है। पुलिस विभाग के विभिन्न पदों पर नियुक्ति के लिए 1430 अभ्यर्थियों की सूची भी पहले ही दी जा चुकी है। लगभग एक हजार पदों पर शारीरिक जांच परीक्षा आयोजित होने है, जबकि राजस्व कर्मचारी के चार हजार पदों पर टाइपिंग टेस्ट नहीं होने है। पंचायत सचिव के पद पर टाइपिंग के लिए आयोग की बैठक में निर्णय होने है। इस पर विभाग के साथ मंत्रणा की बात कहीं जा रही है।

टाइपिंग स्पीड व मेधा सूची पर भी बोले सचिव

सचिव ने बताया कि टाइपिंग स्पीड भी निर्धारित है। हिंदी के लिए 30 वर्ड प्रति मिनट रहेगा। अंग्रेजी के लिए 40 वर्ड प्रति सेकेंड रहेगा। 10 फीसद गलती को माफ किया जाएगा। मेधा सूची के बात पर उन्होंने बताया कि मेधा सूची फाइनल रिजल्ट के समय ही जारी किया जाएगा। परिणाम जून-जुलाई में जारी होने की संभावना है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.