कारोबारियों की समस्या के समाधान के लिए हर जिले में होंगे नोडल पदाधिकारी, उप मुख्‍यमंत्री ने दिया भरोसा

बिहार के उप मुख्‍यमंत्री तार किशोर प्रसाद। फाइल फोटो

बैठक में 250 व्यापारी शामिल हुए। छपरा के वरुण प्रकाश ने कहा कि उन्होंने कैट के माध्यम से छपरा में 100 बेड का क्वारंटाइन सेंटर बनाने की अनुमति मांगी थी। जिला प्रशासन ने नहीं दी। उपमुख्यमंत्री ने इसपर संज्ञान लेते हुए सारण डीएम को तुरंत समाधान का निर्देश दिया।

Shubh Narayan PathakWed, 05 May 2021 11:04 AM (IST)

पटना, जागरण संवाददाता। कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) के साथ वर्चुअल संवाद में मंगलवार को उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद (Deputy Chief Minister Tarkishore Prasad) ने व्यावसायिक समस्याओं के समाधान के लिए हर जिले में नोडल पदाधिकारी नियुक्त करने का आश्वासन दिया। इसकी जानकारी कैट के बिहार अध्यक्ष अशोक कुमार वर्मा ने दी है। उपमुख्यमंत्री के समक्ष कैट के सदस्यों के साथ ही अन्य कारोबारियों ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से अपनी समस्याएं रखीं। चेयरमैन कमल नोपानी व कटिहार के व्यापारी अनिल ने भी अपनी बात रखीं। उप मुख्‍यमंत्री ने सबकी बातें गंभीरता से सुनीं।

250 व्‍यवसायियों से रूबरू हुए तार किशोर प्रसाद

बैठक में 250 व्यापारी शामिल हुए। छपरा के वरुण प्रकाश ने कहा कि उन्होंने कैट के माध्यम से छपरा में 100 बेड का क्वारंटाइन सेंटर बनाने की अनुमति मांगी थी। जिला प्रशासन ने नहीं दी। उपमुख्यमंत्री ने इसपर संज्ञान लेते हुए सारण डीएम को तुरंत समाधान का निर्देश दिया। ऑल इंडिया रिटेल मोबाइल एसोसिएशन के प्रदेश महासचिव कमलेश ङ्क्षसह, राजीव केजरीवाल, महावीर बिदेसरीया, मुंगेर से मनोज शाह, ललन ठाकुर, बिनोद पोद्दार, इंदू अग्रवाल, गणेश खेमका, शशि शेखर रस्तोगी, बासु सर्राफ, मुकेश नंदन, पूर्णिया से प्रहलाद आदि शामिल हुए।

जर्नलिस्ट हेल्प ग्रुप से घर पहुंचेगी राहत

पटना। कोरोना संक्रमण की चपेट में आने वाले मीडियाकर्मी व उनके परिवार को राहत पहुंचाने के लिए जर्नलिस्ट हेल्प ग्रुप बनाया गया है। किसी साथी के कोरोना से संक्रमित होने की आशांका पर उसके घर से ही जांच करवाने की व्यवस्था की गई है। वैसे पत्रकार जिनके संक्रमित होने पर दवा लाने वाला भी कोई नहीं है, उनके घर या अस्पताल में दवा भी पहुंचाने की व्यवस्था की गई है। फोन पर डॉक्टरों की सलाह, जरूरत पडऩे पर ऑक्सीजन सिलेंडर और पारा मेडिकल स्टॉफ की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। समाजसेवी रमेश मिश्रा ने बताया कि हेल्पलाइन नंबर 9431381653 पर अपना नाम और संस्थान का नाम भेजने पर ग्रुप में शामिल हो जाएंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.