Bihar Assembly Winter Session: मंत्री मुकेश सहनी को मिला था 24 घंटे का समय, छह घंटे में ही पूरा किया वादा

Bihar Assembly Winter Session मंत्री मुकेश सहनी ने कहा था कि 24 घंटे तो बहुत हैं वे सदन से बाहर निकलते ही काम करेंगे। मंत्री ने विधान मंडल में जो वादा किया था उसे पूरा किया। क्‍या है मामला जानिए इस खबर में।

Prashant KumarPublish:Fri, 03 Dec 2021 02:35 PM (IST) Updated:Fri, 03 Dec 2021 04:17 PM (IST)
Bihar Assembly Winter Session: मंत्री मुकेश सहनी को मिला था 24 घंटे का समय, छह घंटे में ही पूरा किया वादा
Bihar Assembly Winter Session: मंत्री मुकेश सहनी को मिला था 24 घंटे का समय, छह घंटे में ही पूरा किया वादा

पटना, आनलाइन डेस्‍क। Bihar Assembly Winter Session: बिहार सरकार में मत्‍स्‍य एवं पशुपालन विभाग के मंत्री मुकेश सहनी (Mukesh Sahani) ने बिहार विधान मंडल के शीतकालीन सत्र (Winter Session of Bihar Legislature) के दौरान एक विधायक के सवाल पर त्‍वरित कार्रवाई की। विधायक‍ ने पूछा था कि क्‍या इस काम को मंत्री 24 घंटे में कर देंगे? जवाब में मुकेश सहनी ने कहा कि 24 घंटे तो बहुत हैं, वे इस सत्र से बाहर निकलते ही करेंगे। मंत्री ने विधान मंडल में जो वादा किया था, उसे पूरा किया। मात्र छह घंटे में उन्‍होंने मत्‍स्‍यजीवी सहयोग समिति की प्रबंध समिति का प्रभार नवनियुक्‍त प्रशासन को हस्‍तगत करा दिया। औपचारिक पत्र के साथ मुकेश सहनी की पार्टी वीआइपी (विकासशील इंसान पार्टी) की दरभंगा जिला इकाई ने फेसबुक पेज पर पोस्‍ट करते हुए लिखा, मंत्री ने जाे कहा, वो किया।

सदन में सवाल पर की त्‍वरित कार्रवाई

मालूम हो कि गुरुवार को विधान मंडल में शीतकालीन सत्र के दौरान एक सदस्‍य ने वीआइपी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष मुकेश सहनी से मत्‍स्‍य एवं पशुपालन विभाग का मंत्री होने के नाते एक सवाल किया था। सवाल में कहा गया था कि एक माह पहले दरभंगा के प्रखंड मत्‍स्‍य पदाधिकारी को मत्‍स्‍यजीवी सहयोग समिति का प्रशासक के रूप में बहाल किया गया है। लेकिन नवनियुक्‍त अधिकारी को अब तक पूरा प्रभार नहीं मिला है। क्‍या मंत्री ये आश्‍वस्‍त करेंगे कि नए प्रशासक को 24 घंटे के भीतर पूरा प्रभार मिल जाएगा। सवाल सुनते ही मंत्री मुकेश सहनी ने उठकर माइक थामा और कहा कि प्रशासक को योगदान करते ही सारे अधिकार मिल गए। विलंब क्‍यों हुआ, ये पता लगाया जाएगा। 24 घंटे का समय तो बहुत हो गया, मैं यहां (सदन) से निकलते ही ये काम पूरा करुंगा।

सत्र समाप्‍त होने के बाद सदन की गरिमा रखते हुए उन्‍होंने विधान मंडल में किए वादे को पूरा किया। बताते चलें कि बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में मुकेश सहनी की पार्टी के टिकट पर चार उम्‍मीदवार जीते। आगामी उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर वीआइपी लगातार संघर्ष कर रही है।