सुशील मोदी ने तेजस्‍वी पर बोला बड़ा हमला, मधुबनी कांड के साजिशकर्ता राजेश यादव को संरक्षण देने का आरोप

तेजस्‍वी यादव और सुशील कुमार मोदी। फाइल फोटो

Bihar Politics वरिष्‍ठ भाजपा नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने इस मसले पर सीधे तेजस्‍वी पर बड़ा हमला बोल दिया है। उन्‍होंने कहा है कि महमदपुर (मधुबनी) गोलीकांड के असली साजिशकर्ता राजेश यादव को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का संरक्षण प्राप्त है।

Shubh Narayan PathakSat, 10 Apr 2021 08:55 AM (IST)

पटना, राज्य ब्यूरो। Madhubani Massacre: मधुबनी सामू‍हिक नरसंहार को लेकर बिहार में सियासत थमने का नाम नहीं ले रही है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव (Tejaswi Yadav) और विपक्षी दलों ने इसे लेकर भाजपा के विधायक और पूर्व मंत्री विनोद नारायण झा (BJP MLA Vinod Narayan Jha) पर अपराधियों से संलिप्‍तता का आरोप लगाया था। अब वरिष्‍ठ भाजपा नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने इस मसले पर सीधे तेजस्‍वी पर बड़ा हमला बोल दिया है। उन्‍होंने कहा है कि महमदपुर (मधुबनी) गोलीकांड के असली साजिशकर्ता राजेश यादव को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का संरक्षण प्राप्त है। नेता प्रतिपक्ष बताएं कि यह राजेश यादव कौन हैं? क्या राजेश यादव के साथ नेता प्रतिपक्ष महमदपुर नहीं गए थे?

सुशील मोदी बोले- राजेश यादव ही असली साजिशकर्ता

मोदी ने कहा कि यह राजेश यादव ही महमदपुर गोलीकांड का असली साजिशकर्ता है। बेनीपट्टी राजद का प्रखंड अध्यक्ष व प्रखंड प्रमुख का पति राजेश यादव का मछुआरा समिति के डमी सदस्यों के माध्यम से थोड़े समय पहले तक विवादित तालाब पर कब्जा था। वह विगत विधानसभा का चुनाव बेनीपट्टी से लड़ा और उसे 10 हजार वोट मिले थे। अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा की पूर्ति के लिए उसने जातीय तनाव भड़काने की साजिश रची थी।

दोनों पक्षों से लगातार संपर्क में रहने का लगाया आरोप

पुलिस राजेश यादव को अविलंब गिरफ्तार कर उसके कॉल डिटेल्स को खंगाले, क्योंकि वह लगातार प्रवीण झा, सुरेंद्र सिंह और तेजस्वी यादव के संपर्क में रहा है। विवादित तालाब पर अपना वर्चस्व बरकरार रखने के लिए ही उसने  सुरेंद्र सिंह और प्रवीण झा के परिवारों को लड़ाई के लिए उकसाया। उसकी साजिश थी कि दोनों परिवार लड़े- मरे तो तालाब पर उसका वर्चस्व कायम रहेगा।

भाजपा नेता ने लगाया जानबूझ कर तनाव भड़काने का आरोप

मधुबनी और घटना स्थल के आसपास कहीं भी जातीय तनाव नहीं है, मगर राजद इसी राजेश यादव के माध्यम से पूरे जिले में जातीय तनाव भड़काने की कोशिश कर रहा है। इसीलिए जब तेजस्वी यादव महमदपुर गए तो राजेश यादव भी उनके साथ था। आपराधिक चरित्र के राजेश यादव पर पहले से ही संज्ञेय अपराधों में आधा दर्जन मुकदमे दर्ज हैैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.