बिहार में जाली नोट छापकर यूपी तक खपाता था गिरोह, सिवान से छह लाख रुपए के साथ चार गिरफ्तार

Fake Currency Printing in Bihar यूपी एटीएस और बिहार पुलिस की छापेमारी में सिवान में जाली नोट छापने के धंधे का भंडाफोड़ हुआ है। गिरोह के पास से पुलिस ने छह लाख के जाली नोट बरामद किए हैं। इस मामले में अब तक चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

Shubh Narayan PathakFri, 25 Jun 2021 05:19 PM (IST)
बिहार के सिवान जिले में जाली नोट छापने वाले गिरोह का पर्दाफाश। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

सिवान, जागरण टीम। Bihar Crime: उत्‍तर प्रदेश एटीएस (UP ATS) और बिहार पुलिस (Bihar Police) की संयुक्त छापेमारी में सिवान (Siwan) जिले में जाली नोट छापने के धंधे का भंडाफोड़ हुआ है। गिरोह के पास से पुलिस ने छह लाख के जाली नोट बरामद किए हैं। इस मामले में अब तक चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जाली नोट छापने वाले इस गिरोह के बदमाशों के पास से हथियार भी बरामद किए गए हैं। बताया जा रहा है कि यह धंधा लंबे समय से चल रहा था। यहां छपने वाले जाली नोटों को बिहार के साथ ही यूपी में भी खपाया जा रहा था। इसकी भनक मिलने के बाद यूपी पुलिस ने सिवान पुलिस से संपर्क किया था। कुछ ही दिनों में पहले बिहार के ही बक्‍सर (Buxar) जिले में जाली नोट (Fake indian currency) छापने वाले गिरोह का पता चला था।

सिवान में छह लाख की जाली करेंसी सहित चार गिरफ्तार

सिवान जिला पुलिस और यूपी एटीएस के छापेमारी दल ने गिरोह के चार सदस्यों को करीब छह लाख से अधिक की जाली करेंसी और अर्ध निर्मित रुपये के अलावा प्रिंटर, कागज सहित दबोचा है। इनके पास से एक लोडेड देसी कट्टा भी बरामद किया गया है। एसपी डॉ. अभिनव कुमार ने शुक्रवार को अपने कार्यालय में प्रेस वार्ता कर बताया कि वाराणसी (fake currency in Varanasi) में कुछ दिन पूर्व एटीएस ने छापेमारी कर जाली नोट के कारोबार से जुड़े कुछ अपराधियों को गिरफ्तार किया था।

वाराणसी तक खपा रहे थे जाली नोट

वाराणसी में जाली नोट के मामले में सिवान जिले के गोरेयाकोठी निवासी बंटी कुमार का नाम सामने आया था। इसके बाद यूपी एटीएस और महाराजगंज एसडीपीओ के नेतृत्व में टीम का गठन कर छापेमारी का आदेश दिया गया। छापेमारी के क्रम में गोरेयाकोठी निवासी बंटी कुमार के अलावा इसी थाना क्षेत्र के चमरटोली निवासी सुरेश कुमार, टंडवा पिपरा निवासी रंजीत कुमार एवं गोपालगंज जिला के मांझगढ़ थाना क्षेत्र के मधु सरेया निवासी संदीप कुमार की गिरफ्तारी की गई।

घर में ही जाली नोट छापता था बंटी

बंटी के पास से एक देशी लोडेड कट्टा बरामद हुआ तथा घर की तलाशी लेने पर दो प्रिंटर भी मिले, जिनका इस्तेमाल जाली नोट छापने के लिए किया जा रहा। पुलिस को एक सौ, दो सौ, पांच सौ एवं दो हजार रुपया के अर्धनिर्मित जाली नोट तथा नोट छापने का कागज बरामद हुआ। बंटी के घर की गहन तलाशी लेने पर बैग में बंडल बनाकर रखा हुआ एक सौ, दो सौ, पांच सौ, दो हजार रुपया का काफी मात्रा में जाली नोट बरामद हुआ।

छपरा के एक शख्‍स को तलाश रही पुलिस

बंटी ने बताया कि वह पहले छपरा के बनियापुर के रहने वाले एक व्यक्ति और गोरेयाकोठी के एक व्यक्ति के साथ मिलकर जाली नोट छापकर बाजार में चलाने का काम करता था। कुछ दिन इधर-उधर रहने के बाद नोट छापने की मशीन आदि की व्यवस्था कर स्वयं इस धंधे को शुरू कर दिया। पुलिस इस कांड में छपरा के एक व्यक्ति सहित कुछ अन्य की तलाश कर रही है। जिनकी जल्द ही गिरफ्तारी हो जाएगी। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.