पटना में भोजपुर से आई बारात का ऐसा स्‍वागत, दुल्‍हन की बजाय दूल्‍हे के भाई का शव लेकर लौटे बाराती

Bihar Crime झूठी शान में गई जान बिहार के भोजपुर जिले से पटना गई बारात लौटी मनहूस खबर लेकर दुल्‍हन की बजाय दूल्‍हे के भाई का शव आया घर पूरे मामले की पड़ताल करने में जुट गई है पुलिस

Shubh Narayan PathakSun, 05 Dec 2021 09:52 AM (IST)
अरवल में शादी समारोह के दौरान फायरिंग में गई दूल्‍हे के भाई की जान। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

पटना/भोजपुर, जागरण टीम। पुलिस मुख्‍यालय के तमाम दावों और निर्देशों के बावजूद बिहार की शादियों में फायरिंग का सिलसिला थम नहीं रहा है। सबसे हैरानी की बात तो यह है कि एक के बाद एक लगातार हादसों के बावजूद लोग खुद भी सबक लेने को तैयार नहीं हैं। पटना से आज ऐसी ही खबर आई है, जहां शादी में झूठी शान दिखाने के लिए फायरिंग में और किसी की नहीं, बल्कि दूल्‍हे के भाई की जान चली गई है। इस घटना के बाद शादी वाले घर में कोहराम मच गया है। यह घटना अरवल जिले से सटे मुरारचक गांव में हुई है। यह गांव पटना जिले के सिगोड़ी थाना क्षेत्र में पड़ता है, जहां भोजपुर जिले के चांदी थाना क्षेत्र के सलेमपुर से बारात गई थी। दूल्‍हे के भाई की मौत के बाद दोनों ही गांवों में माहौल गमगीन हो गया है।

जयमाला कार्यक्रम के दौरान ही लग गई गोली

मिली जानकारी के अनुसार भोजपुर जिले के चांदी थाना के सलेमपुर निवासी जयमंगल यादव के पुत्र अप्पू यादव की बारात गत बुधवार की रात पटना जिले के मुरारचक गांव गई थी। जयमाल के समय  हर्ष फायरिंग हो रही थी। उसी दौरान दूल्हे के भाई अमरेन्द्र कुमार उर्फ पप्पू को गोली लग गई। इसके बाद इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। जहां पर मौत हो गई। मृतक दो भाई था और सबसे छोटा था। बड़ा भाई जिसकी शादी थी, वह रेलवे में कार्यरत बताया जा रहा है। वहीं मरने वाला युवक सिविल कोर्ट में बतौर स्‍टेनोग्राफर तैनात था।

इलाज के दौरान दानापुर के अस्‍पताल में हुई मौत

दूल्‍हे के भाई को गोली लगने के तुरंत बाद पटना के रुबन अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। यहां युवक की हालत में सुधार नहीं होने पर स्‍वजन उसे लेकर दानापुर के एक निजी अस्‍पताल में लेकर चले गए, जहां आज उसकी मौत हो गई। युवक के शव का पोस्‍टमार्टम दानापुर के अस्‍पताल में कराया गया है।

जैसे-तैसे पूरी हुई थी शादी की रस्‍म

इस दुखद घटना के बाद शादी की रस्‍म जैसे-तैसे पूरी की गई थी। दूल्‍हे के स्‍वजनों ने बताया कि जयमाला के ठीक बाद सिंदूरदान की रस्‍म पूरी कर बाराती उसी दिन लौट आए थे। शादी की रस्‍म आधी-अधूरी ही रह गई थी। दुल्‍हन भी अपनी ससुराल नहीं आ पाई है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.