Bihar Coronavirus: बिहार में कोरोना जांच में बड़ी गडबड़ी, मधुबनी में मिले संक्र‍मितों ने बिगाड़ा स्‍वास्‍थ्‍य विभाग का गणित

Bihar Coronavirus Update News बिहार का स्‍वास्‍थ्‍य विभाग पिछले कुछ हफ्तों से रोजाना कोरोना वायरस के सात से आठ नए केस मिलने का ही दावा कर रहा है जबकि अकेले मधुबनी में ही पिछले कुछ दिनों में 60 से अधिक केस मिले हैं। जानिए आखिर क्‍या है मामला

Shubh Narayan PathakWed, 22 Sep 2021 06:56 AM (IST)
पटना के एक स्‍टेशन पर लगी यात्रियों की भीड़। प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

पटना, जागरण टीम। Bihar Coronavirus Update News: बिहार में कोविड टेस्टिंग और आंकड़ा संग्रह के तरीके पर गंभीर सवाल खड़ा हो गया है। ऐसा हुआ है मधुबनी स्‍टेशन पर कोरोनावायरस टेस्टिंग के दौरान मिले संक्रमितों की वजह से। बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने मंगलवार की शाम रिपोर्ट जारी कर पूरे प्रदेश में 24 घंटे के अंदर केवल छह नए संक्रमित मिलने का दावा किया। सोमवार की शाम ऐसी ही रिपोर्ट में केवल सात नए संक्रमित मिलने का दावा किया गया था। पिछले करीब हफ्ते भर से पूरे प्रदेश में मिलने वाले नए संक्रमितों की संख्‍या इतनी ही बताई जा रही है। लेकिन इस आंकड़े के गणित पर अकेले मधुबनी रेलवे स्‍टेशन पर मिलने वाले नए संक्रमितों ने सवाल खड़ा कर दिया है। रविवार से सोमवार के बीच केवल इसी स्‍टेशन पर 65 नए कोविड संक्रमित मिलने की बात कही जा रही है।

मधुबनी में मिले संदिग्‍धों पर स्‍वास्‍थ्‍य विभाग को शक

मिली जानकारी के अनुसार मधुबनी से मिले कोरोना के 65 संदिग्धों के लेकर स्‍वास्‍थ्‍य विभाग संशकित है। विभाग को इन यात्रियों की जांच पर ही शक है, इसलिए इनकी दोबारा जांच कराई जा रही है। शायद इसलिए ही विभाग इन आंकड़ों को कोविड पोर्टल पर अपलोड नहीं कर रहा है। सरकार ने बड़ी संख्या में कोरोना पाजिटिव मिलने के बाद जिलाधिकारी और सिविल सर्जन को इन संदिग्धों की आरटीपीसीआर जांच के निर्देश दिए थे। जिसमें से समाचार लिखे जाने तक आठ रिपोर्ट प्राप्त हुई है, जो निगेटिव बताई जा रही हैं।

एक साथ 65 संक्रमित मिलने से मच गया हड़कंप

रविवार से सोमवार के बीच विभिन्न हिस्सों से ट्रेनों से जंक्शन पर उतरने वाले यात्रियों की जांच में 65 यात्रियों के एंटीजन टेस्ट पाजिटिव पाए गए थे। इस बात की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को भी मिली। इसके बाद आनन-फानन में जिलाधिकारी मधुबनी और सिविल सर्जन को निर्देश दिए गए कि संदिग्ध कोरोना संक्रमितों की पहले आरटीपीसीआर जांच कराएं। आदेश के बाद मंगलवार को जिला प्रशासन और सिविल सर्जन ने 65 संदिग्धों के साथ कुल 135 यात्रियों के सैंपल लेकर आरटीपीसीआर जांच के लिए भेजे। इनमें से रात साढ़े आठ बजे तक आठ रिपोर्ट मिली थी और सभी निगेटिव थी।

135 यात्रियों की कराई जा रही आरटीपीसीआर जांच

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने मंगलवार को बताया कि शुरुआत से ही अन्य जगह से आने वाले 65 यात्रियों की कोरोना जांच रिपोर्ट को लेकर संशय था। इसके बाद डीएम और सिविल सर्जन को निर्देश दिए गए थे कि इनकी आरटीपीसीआर जांच कराएं। रिपोर्ट स्वास्थ्य मुख्यालय को भी मुहैया कराएं। उन्होंने बताया कि निर्देश के बाद 135 यात्रियों के सैंपल आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए भेजे गए। आठ की रिपोर्ट विभाग को अब तक मिली है। जो निगेटिव है। उन्होंने कहा देर रात तक और भी रिपोर्ट आने की संभावना है। मंत्री पांडेय ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग पूरे मामले पर नजर रख रहा है।

स्टेशन पर पाजिटिव तीन यात्रियों की दूसरी रिपोर्ट निगेटिव : सीएस

सिविल सर्जन डा. सुनील कुमार झा ने बताया कि मधुबनी रेलवे स्टेशन पर कोविड जांच के लिए एंटीजन जांच बैच बदला जाएगा। स्टेशन पर दो दिनों में मिले पाजिटिव मरीजों की  आरटीपीसीआर जांच होगी, ताकि जांच किट में किसी प्रकार की गड़बड़ी की आशंका दूर हो सके। सोमवार को स्टेशन पर हुई जांच में पाजिटिव आने वाले तीन लोगों की मंगलवार को राजनगर में हुई जांच में निगेटिव  रिपोर्ट आई है।

स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के मुताबिक मधुबनी में केवल एक संक्रमित मिला

इधर, स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की ओर से मंगलवार की शाम जारी रिपोर्ट में मधुबनी, बेगूसराय, भोजपुर, दरभंगा, सुपौल और सीतामढ़ी से एक-एक नया संक्रमित मिलने की बात कही गई है। स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन में जानकारी दी कि राज्य में सोमवार और मंगलवार के बीच 134847 कोविड टेस्ट किए गए। इनमें सिर्फ छह की रिपोर्ट पाजिटिव मिली। 32 जिलों में हुई जांच में एक भी रिपोर्ट पाजिटिव नहीं पाई गई। सोमवार से मंगलवार के बीच पहले से कोरोना संक्रमित रहे 15 लोग स्वस्थ भी हुए हैं। राज्य में अब कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या सिर्फ 59 रह गई है।

राज्‍य में अब तक 4.55 लाख लोगों का हुआ टीकाकरण

इधर दूसरी ओर मंगलवार को राज्य में 4.55 लाख लोगों का टीकाकरण किया गया। इसके साथ ही राज्य में टीकाकरण का आंकड़ा 5.14 करोड़ हो गया है। मंगलवार को टीकाकरण के लिए 3860 टीकाकरण केंद्र बनाए गए थे। पटना में आज 30196, गया में 13691, मुजफ्फरपुर में 39857 और भागलपुर में 5401 लोगों का टीकाकरण किया गया। समाचार लिखे जाने तक टीकाकरण का कार्य जारी था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.