राहुल गांधी की सभा के लिए कांग्रेस ने झोंकी ताकत, चप्पे-चप्पे से आएंगे कार्यकर्ता

पटना [राज्य ब्यूरो]। राहुल गांधी के पटना दौरे के बहाने कांग्रेस ने अपनी ताकत दिखाने की पूरी तैयारी कर ली है। अभी से जिलास्तर पर कार्यकर्ताओं से संपर्क साधने में जुट गई है। इसके लिए जिलावार पर्यवेक्षकों की भी नियुक्ति कर दी गई है। 3 फरवरी को पटना के गांधी मैदान में राहुल की सभा होनी है। जन आकांक्षा रैली नाम दिया गया है।इसे सफल बनाने में प्रदेश कांग्रेस कमेटी पुरजोर ढंग से जुट गई है। कांग्रेस की मानें तो इस रैली को यादगार रखा जाएगा।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने रैली की सफलता एवं संगठन की मजबूती के लिए कांग्रेस नेताओं को जिला वार पर्यवेक्षक नियुक्त किया है। वहीं रैली में दूर-दराज से आने वाले लोगों को ठहराने के लिए पार्टी विधायकों एवं विधान पार्षदों को अहम जिम्मेवारी दी गई है। पर्यवेक्षकों को अपने-अपने जिलों का दौरा कर रैली में कांग्रेसजनों एवं आम जनता की भागीदारी को सुनिश्चित करने का अनुरोध किया गया है।

डॉ मदन मोहन झा ने बताया कि 3 फरवरी को ऐतिहासिक गांधी मैदान में जन आकांक्षा रैली की तैयारी सभी जिलों में जोरों पर हैं। उन्होंने दावा किया कि 24 साल के बाद होने वाली कांग्रेस की रैली को ऐतिहासिक और अभूतपूर्व बनाने के लिए सभी कांग्रेस कार्यकर्ता जी-जान से जुटे हैं। पूरे देश में बदलाव की लहर चल रही है। इस बदलाव के वाहक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लोकसभा चुनाव का बिगुल बिहार की धरती से फूंकेंगे।

शुक्रवार को सदाकत आश्रम के पूरे परिसर में सफाई अभियान चलाया गया। परिसर में कई टेंट लगाए जाएंगे जहां 10-12 हजार लोगों के ठहराने की व्यवस्था रहेगी। इसके अलावा पार्टी के सभी विधायक, विधान पार्षद और नेताओं के यहां भी रैली में आने वाले लोगों के अलग अलग ठहराने का इंतजाम होगा। रिसर्च सेल एवं घोषणापत्र सलाहकार समिति के चेयरमैन आनंद माधव एवं पार्टी प्रवक्ता राजेश राठौर की देखरेख में सदाक़त आश्रम में व्यापक सफाई अभियान चलाया गया।

उधर गांधी मैदान में कांग्रेस प्रस्तावित जन आकांक्षा रैली के लिए पार्टी ने प्रत्येक जिला के लिए पर्यवेक्षक की नियुक्ति कर दी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा की सहमति के बाद इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं। पार्टी प्रवक्ता एचके वर्मा ने बताया कि प्रत्येक जिले के लिए कम से कम दो और बड़े जिलों में तीन-तीन पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए हैं। पर्यवेक्षकों को दायित्व सौंपा गया है कि वे अपने-अपने प्रभार वाले जिलों में घूम-घूमकर लोगों को प्रस्तावित रैली में शामिल होने का आमंत्रण देंगे। बता दें कि तीन फरवरी को गांधी मैदान में प्रस्तावित जन आकांक्षा रैली में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी शिरकत करेंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.