top menutop menutop menu

Bihar: कांग्रेस का बड़ा बयान, चुनाव अधिसूचना के पहले महागठबंधन कर देगा सीएम चेहरे का एेलान

राज्य ब्यूरो, पटना। कांग्रेस ने दावा किया है बिहार विधान सभा चुनाव की अधिसूचना होने के पहले ही मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा, इसका ऐलान कर दिया जाएगा। पार्टी ने यह दावा भी किया है कि सीटों को लेकर सहयोगियों के बीच कोई मनमुटाव नहीं है। समय आने पर मीडिया को तमाम जानकारी दी जाएगी। गोहिल गुरुवार को कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में मीडिया से बात कर रहे थे।

घटक दलों के साथ होती रहती हैं बातें

शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि उनकी लगातार सहयोगियों और घटक दल के नेताओं के साथ बात होती है। उन्होंने कोरोना काल में समय पर चुनाव कराने की बात पर कहा कि चुनाव फर्जी तरीके से ना हो और जनता के कोरोना से बचाव की तमाम व्यवस्था आयोग करे। इससे पहले शक्ति सिंह गोहिल ने कहा था कि बिहार की जनता हमारे गठबंधन को बड़ी उम्मीद से दिख रही है। हमारी कोशिश सिर्फ शासन करना नहीं, बल्कि अच्छा शासन करने की होगी। कोरोना को लेकर राहुल गांधी ने काफी पहले सचेत किया था, लेकिन सरकार नहीं जागी। 

महागठबंधन में सबकुछ ठीक-ठाक है

गोहिल ने कहा कि महागठबंधन में सब ठीक है। ना तो यहां चेहरे की चिंता करनी है और न ही कोर्डिनेशन की चिंता करने की जरूरत है। यहां समय आने पर सब हो जाएगा। वहीं उन्होंने एनडीए पर निशाना साधते हुए कहा कि परेशानी तो एनडीए के गठबंधन में होगी। रामविलास पासवान और नीतीश कुमार का क्या होगा वो वही जानेंगे? 

राबड़ी आवास पर भी हुई बात 

कांग्रेसी नेता शक्ति सिंह गोहिल बुधवार की देर रात अचानक नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से मिलने उनके आवास पहुंच गए। गोहिल के साथ बिहार कांग्रेस अध्यक्ष डॉक्टर मदन मोहन झा विधायक दल के नेता सदानंद सिंह अभियान समिति के अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह के साथ प्रभारी सचिव विरेंद्र सिंह राठौर भी थे। 

दो घंटे चली बैठक

महागठबंधन के नेताओं की यह बैठक करीब दो घंटे चली। बैठक में कोरोना के बीच होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों, सीटों के बंटवारे और महागठबंधन की समन्वय समिति जैसे मसलों पर बातचीत हुई। गोहिल ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को सुझाव दिए कि महागठबंधन में आपसी सहमति के लिए आवश्यक है कि जल्द से जल्द समन्वय समिति बना दी जाए। इसके साथ ही उन्होंने सीटों के बंटवारे को लेकर भी पार्टी आलाकमान क्या सोचती है, इस बारे में भी अवगत कराने की कोशिश की। बैठक के बाद गोहिल कांग्रेस विधायक दल के नेता सदानंद सिंह की आवास पर गए। वहां उनके लिए रात्रि भोज की व्यवस्था की गई थी।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.