लालू यादव की जमानत पर CM नीतीश ने कही बड़ी बात, जदयू बोला- शेर पिंजड़े में क्‍यों था ये भी तो बताएं

लालू प्रसाद यादव और नीतीश कुमार। फाइल फोटो

Bihar CM Nitish on Lalu Prasad Yadav Bail राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को जमानत मिलने पर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि यह उनका और कोर्ट के बीच का मामला है। इधर जदयू प्रवक्‍ता संजय सिंह ने राजद पर बड़ा हमला बोला है।

Shubh Narayan PathakSun, 18 Apr 2021 08:39 AM (IST)

पटना, राज्य ब्यूरो। Bihar Politics: राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को चारा घोटाले (Fooder Scam) के दुमका कोषागार (Dumaka Treasury Case) मामले में जमानत (Lalu Prasad Yadav Bail from Ranchi Highcourt) मिलने से बिहार की स‍ियासत में हलचल है। सरकार में शामिल भाजपा (BJP) और जदयू (JDU) जैसे दलों का कहना है कि लालू की जमानत से बिहार की राजनीति में कोई फर्क नहीं पड़ेगा, लेकिन राजद समर्थक और कार्यकर्ता ऐसा नहीं मानते। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) से प्रतिक्रिया पूछी गई तो उन्होंने इसपर टिप्पणी से इन्कार किया। उन्होंने कहा कि मुझे क्या बोलना है। यह तो लालू प्रसाद और न्यायालय के बीच का मामला है।

लालू प्रसाद को जमानत मिली है, बरी नहीं हुए हैं : संजय

जदयू विधान पार्षद व पार्टी के मुख्य प्रदेश प्रवक्ता संजय सिंह ने शनिवार को कहा कि पता नहीं, राजद के लोग किस बात से खुश हैं। चारा घोटाले से न्यायालय ने उन्हें बरी नहीं किया है। उन्हें जमानत मिली है। जब अगले केस की सुनवाई होगी तो फिर से लालू प्रसाद को जेल जाना होगा। संजय ने कहा कि लालू प्रसाद को शेर कहने वाले को यह बताना चाहिए कि शेर आखिर पिजड़े में क्यों था?

चारा घोटाले के लिए लालू को दोषी मान चुका है न्‍यायालय

जदयू के प्रवक्‍ता अभिषेक झा ने कहा कि जमानत मिलना एक न्‍यायिक प्रक्रिया है। इसका मतलब दोषमुक्‍त हो जाना कतई नहीं है, जैसा कि राजद के कार्यकर्ता और नेता प्रदर्शित कर रहे हैं। लालू ने चारा घाेटाला किया है और कोर्ट भी उन्‍हें इस चीज के लिए दोषी मान चुकी है। वह कोई आजादी की लड़ाई के लिए जेल नहीं गए थे। उन्‍हें उनके अपराध की सजा मिल रही है।

भाजपा का बयान भी ऐसा ही, वीआइपी चुप, हम खुश

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने भी ऐसा ही बयान दिया था। उन्‍होंने कहा कि लालू को अपने कर्मों के लिए पश्‍चाताप करना चाहिए। एनडीए के एक और घटक दल वीआइपी के किसी नेता ने लालू की जमानत पर कुछ भी बयान नहीं दिया है। दूसरी तरफ हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा ने उनकी जमानत पर खुशी जताई है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.