हुजूर, माफिया ने कब्रिस्‍तान के साथ मेरा घर भी बेच दिया है, जनता दरबार में शिकायत सुन चौंके सीएम नीतीश कुमार

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने जनता दरबार में लोगों की फरियाद सुनी। राज्‍य के कई जिले से फरियादी पहुंचे। महीने के पहले सोमवार को मुख्‍यमंत्री ने मुख्‍य रूप से पुलिस व जमीन से जुड़े मामले सुने। इस दौरान उन्‍होंने तुरंत कार्रवाई का आदेश भी दिया।

Vyas ChandraMon, 06 Dec 2021 11:42 AM (IST)
जनता दरबार में शिकायतें सुनते सीएम नीतीश कुमार। फोटो-साभार आइपीआरडी

पटना, आनलाइन डेस्‍क। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने जनता दरबार में लोगों की फरियाद सुनी। राज्‍य के कई जिले से फरियादी पहुंचे। वैशाली की एक महिला की शिकायत पर सीएम ने सीधे डीजीपी को फोन लगाया। महिला ने कहा कि हत्‍या के बाद भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। इस पर सीएम ने डीजीपी को फोन लगाकर कहा है‍ कि नौ महीने हो गए गिरफ्तारी क्‍यों नहीं हुई। एक महिला ने दुष्‍कर्म मामले में कार्रवाई नहीं होने की शिकायत की। 

पटवन करने वाले के बेटे ने किया दुष्‍कर्म 

एक महिला ने सीएम को बताया कि पति पंजाब में रहता है। वहां से फोन कर बोला कि गेहूं का पटवन करवा दो। पटवन करने वाले को कहने गई तो उसके बेटे ने उसके साथ दुष्‍कर्म किया। वीडियो भी बना लिया। उस दिन से धमकी देने लगा। शादी नहीं करने पर वीडियो वायरल करने की धमकी देने लगा। पुलिस से शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। एसटीएफ में कार्यरत एक सिपाही पत्‍नी ने कहा कि शादी को तीन साल हो गए। पति पुलिसवाला है। एसटीएफ में है। शादी की  लेकिन नाम सर्विस बुक पर नहीं चढ़ा है। अब वह दूसरी शादी करने की धमकी दे रहा है। 

अवैध संबंध के चलते किसी और के नाम पिता ने लिख दी जमीन 

एक फरियादी ने बताया कि पिता उससे सौतेला व्‍यवहार कर रहे हैं। अवैध संबंध के चक्‍कर में उन्‍होंने सारी संपत्ति दूसरे के नाम कर दी है। वे और उनकी मां इस वजह से दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं। मधेपुरा से आए युवक ने बताया कि उसे अपराधियों ने चार गोलियां मारी थी। एफआइआर भी हुई लेकिन अपराधी खुलेआम घूम रहा है। वह धमकाता है। एसपी के रीडर पर युवक ने मामले को दबाने का आरोप लगाया। तुरंत ही सीएम ने डीजीपी को फोन लगाकर मामले में कार्रवाई करने को कहा।  

नींबू और खस्‍सी चोरी की शिकायत लेकर पहुंची बुजुर्ग महिला

कई ऐसे फरियादी हैं जो बिना रजिस्‍ट्रेशन कराए पहुंच गए हैं। ऐसी ही एक बुजुर्ग महिला कैमूर जिले से आई। उनकी फरियाद थी कि दबंगों ने नींबू, सब्‍जी, खस्‍सी और भैंस चुरा ली है। कई जगह इसकी शिकायत की लेकिन कोई ध्‍यान नहीं दिया गया इसलिए वे सीधे सीएम से शिकायत करने पहुंची हैं। हालांकि, रजिस्‍ट्रेशन नहीं होने की वजह से उन्‍हें जनता दरबार में नहीं जाने दिया गया। वह निराश होकर लौट गई। 

नालंदा से पहुंची एक महिला ने पति पर दूसरी शादी कर घर से निकालने का आरोप लगाया। सीएम ने इस मामले को भी डीजीपी के पास भेजा। फर्जी शिक्षकों की नियुक्ति मामले में शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं होने की शिकायत अरवल से आए एक फरियादी ने की। बता दें कि महीने के पहले सोमवार को तय विभाग के अनुरूप सीएम मुख्‍य रूप से पुलिस व जमीन से जुड़े मामले सुन रहे हैं। पहले सोमवार को गृह विभाग, राजस्‍व एवं भूमि सुधार, कारा, मद्य निषेध, उत्‍पाद एवं निबंधन, निगरानी आदि से जुड़ी शिकायतें सुनी जाती है। आज भूमि विवाद के मामले ज्‍यादा आ रहे हैं। एक फरियादी ने बताया कि कब्रिस्‍तान के साथ ही निजी जमीन को भूमि माफिया ने बेच दिया है। अब उसे धमकी दी जा रही है। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.