top menutop menutop menu

पटना में सड़क खोदाई के दौरान टूटी LPG पाइपलाइन, गैस रिसाव के कारण होते-होते टली बड़ी दुर्घटना

पटना, जेएनएन। पटना के बेली रोड पर आरा गार्डेन मोड़ के पास सड़क की खोदाई के दौरान घरेलू गैस की पाइपलाइन (LPG Pipeline) क्षतिग्रस्‍त हो गई। इस कारण गैस के रिसाव से खलबली मच गई। इस घटना ने पथ निर्माण विभाग (Road Construction Department) व गैस ऑथोरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (GAIL) के बीच तालमेल का अभाव दिखा। इससे दोनों विभागों के अधिकारी सवालों के घेरे में हैं। मौके पर तत्‍काल पहुंचे अग्निशमन विभाग व गेल के कर्मियों ने स्थिति को नियंत्रित कर लिया। अन्‍यथा बड़ी दुर्घटना हो सकती थी।

पाइपलाइन क्षतिग्रस्‍त होने से गैस का रिसाव

मिली जानकारी के अनुसार घटनास्‍थल पर देर रात खोदाई कार्य चल रहा था। गैस कंपनी और खोदाई में लगे लोगों के बीच समन्वय नहीं होने के कारण गैस पाइपलाइन को क्षति पहुंची। इससे अचानक गैस का रिसाव होने लगा। इसके बाद खोदाई कर रहे श्रमिक भाग खड़े हुए। तत्‍काल घटना की सूचना गैस कंपनी व अगिनशन विभाग को दी गई। अग्निशमन विभाग के कर्मियों व पास में ही काम कर रहे गेल के कर्मचारियों ने इसे ठीक कर दिया। इससे बड़ी घटना या नुकसान नहीं हो सका।

आइआइटी बिहटा से शहर तक होती गैस की आपूर्ति

घरेलू गैस (एलपीजी) की पाइपलाइन आइआइटी बिहटा से शहर में आपूर्ति के लिए बिछायी गयी है। वर्तमान में इसके माध्यम से एम्स, जगदेव पथ, जलालपुर सिटी अपार्टमेंट, पुनाइचक, आइजीआइएमएस तक घरों में गैस के कनेक्शन दिए गए हैं। इसके आगे के विस्तार प्रक्रिया तेजी से चल रही है।

पास में था वॉल्व, नहीं तो हो सकती थी बड़ी दुर्घटना

घरेलू गैस पाइपलाइन के आपूर्ति को किसी इमरजेंसी घटना के समय बंद करने के लिए हर एक किलोमीटर पर एक वॉल्व दिया गया है। आरा गार्डेन के घटनास्थल के महज 8-9 मीटर की दूरी पर ही यह वॉल्व था, जिसे बंद कर रिसाव को तुरंत रोक दिया गया। यदि ऐसा नहीं होता तो बड़ी दुर्घटना की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता था।

पाइपलाइन को ले सभी विभागों को दी है जानकारी

गेल के बिहार हेड रजनीश गोयल ने बताया कि गैस पाइपलाइन कहां-कहां से गुजरी है, इसकी पूरी जानकारी सभी विभागों को दी गई है, लेकिन शनिवार को सड़क मरम्‍मत की जानकारी पथ निर्माण विभाग की ओर से नहीं दी गई थी। सूचना दी गई होती तो गेल की एक टीम साथ होती।

पथ निर्माण विभाग में जिम्‍मेदारी की फेंका-फेकी

गैस पाइपलाइन क्षतिग्रस्त को लेकर पथ निर्माण विभाग के न्यू कैपिटल डिविजन व पश्चिमी प्रमंडल में फेंका-फेंकी की स्थिति रही। पूछे जाने पर न्यू कैपिटल डिविजन के कार्यपालक अभियंता ने बताया कि बगैर अनुमति के पाइपलाइन का विस्तार किया जा रहा है। ऐसे में सड़क निर्माण को लेकर गेल को सूचना देने की जरूरत नहीं है। वैसे यह इलाका पटना पश्चिमी प्रमंडल के एरिया में है। पटना पश्चिमी प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता ने बताया कि जगदेव पथ पर जंक्शन विकसित करने का कार्य न्यू कैपिटल डिविजन की ओर से किया जा रहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.