सिवान में एटीएम काटकर 20 लाख रुपए ले उड़े बदमाश, टहलने निकले लोगों ने देखा तो दी पुलिस को खबर

एटीएम के एक कर्मी ने जानकारी दी कि कल यानी शनिवार को ही एटीएम के चेस्ट में 21 लाख रुपये डाले गए थे। रुपयों की निकासी नहीं हुई थी। चोरी की घटना के बाद क्षेत्र में सनसनी है। बता दें कि यह एटीएम मुख्य पथ पर ही स्थित है।

Shubh Narayan PathakSun, 05 Dec 2021 09:09 AM (IST)
सिवान में एटीएम में चोरी का मामला। जागरण

तरवारा (सिवान), संवाद सूत्र। बिहार के सिवान जिले में एक एटीएम को काटकर करीब 21 लाख रुपए चोरी किए जाने का मामला सामने आया है। हालांकि चोरी गई रकम का आधिकारिक आंकड़ा अभी नहीं मिल पाया है। बैंक से रिकार्ड का मिलान करने के बाद पता चल सकेगा कि चोरों के हाथ वास्‍तव में कितनी रकम लगी है। यह घटना जीबी नगर तरवारा थाना क्षेत्र स्थित एसएच 73 पर पोस्ट आफिस  के सामने स्थित इंडिया वन एटीएम में हुई। एटीएम में शनिवार की शाम ही कैश डाला गया था। बीती रात इस एटीएम को काट कर चोरों ने इसे पूरी तरह खाली कर दिया।

टहलने निकले देखा तो पुलिस को दी खबर

घटना की जानकारी रविवार की सुबह हुई। सड़क किनारे से गुजर रहे लोगों ने एटीएम को क्षतिग्रस्त देखा। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना पर पहुंचे जीबी नगर थाना के इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार ने जांच पड़ताल की। उन्होंने बताया कि चोरी की सूचना पर पहुंचे इंडिया वन एटीएम के एक कर्मी ने जानकारी दी कि कल यानी शनिवार को ही एटीएम के चेस्ट में 21 लाख रुपये डाले गए थे। रुपयों की निकासी नहीं हुई थी। हालांकि कितने रुपयों की चोरी की गई है, इसकी पुष्ट जानकरी पटना से एटीएम का मेंटेनेंस कार्य देखने वाले कर्मी जब आएंगे, तो स्पष्ट हो पायेगा। चोरी की घटना के बाद क्षेत्र में सनसनी है। बता दें कि यह एटीएम मुख्य पथ पर ही स्थित है।

लूट की घटना को बीते दो माह, नहीं हो सकी गिरफ्तारी

इधर, हुसैनगंज थाना क्षेत्र के महुवल-बडऱम नहर पुल के पास  11 अक्टूबर को 1:30 बजे दिन में बाइक सवार तीन लुटेरों ने सीएसपी संचालिका से 1 लाख रुपये नगदी व मोबाइल की छिनतई के मामले में गिरफ्तारी अब तक नहीं हो सकी है। इस मामले में सीएसपी संचालिका महुवल बाजार निवासी राजेश कुमार की पुत्री सुंदरी कुमारी ने थाने में आवेदन देते हुए तीन लुटेरों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी, लेकिन घटना के दो महीने बीत जाने के बाद भी मामले में किसी बदमाश की गिरफ्तारी पुलिस नहीं कर पाई। पुलिस इस मामले में किसी संदिग्ध को भी हिरासत में लेकर पूछताछ नहीं कर पाई। इस कारण यह मामला ठंडे बस्ते में पड़ा हुआ है। मामले में थानाध्यक्ष रामबालक यादव ने बताया कि कुछ संदिग्ध ठिकानों पर छापेमारी की गई थी, लेकिन किसी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी। जल्द ही कांड में शामिल बदमाशों को गिरफ्तार किया जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.