बिहार विधानसभा के सभी दलों ने किया वादा, अध्यक्ष बोले- विपक्ष भी सरकार का अंग

विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने बुधवार को अपने कार्यालय कक्ष में सभी दलों के साथ बैठक की। सत्र 29 नवंबर से तीन दिसंबर तक चलेगा। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि सत्र छोटा जरूर है लेकिन इसका महत्व बड़ा है।

Akshay PandeyThu, 25 Nov 2021 05:28 PM (IST)
बिहार विधासभा के सभी दलों ने सदन को सुचारू रूप से चलाने का निर्णय लिया है। सांकेतिक तस्वीर।

राज्य ब्यूरो, पटना : बिहार विधानमंडल के शीतकालीन सत्र के दौरान सदन को सभी दलों ने सुचारू रूप से मर्यादा के साथ चलाने का वादा किया है। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने बुधवार को अपने कार्यालय कक्ष में सभी दलों के साथ बैठक की। सत्र 29 नवंबर से तीन दिसंबर तक चलेगा। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि सत्र छोटा जरूर है, लेकिन इसका महत्व बड़ा है। सदन में लोकहित के विषयों पर अधिकाधिक बहस होगी तो विमर्श की सार्थकता बढ़ेगी। जनहित के फैसले लिए जा सकेंगे। जनमानस का जीवन सरल-सुगम बनेगा। विकास तेज होगा। विधायिका का सकारात्मक संदेश भी जाएगा। 

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के इस पवित्र मंदिर की तरफ जनता की निगाह है। इसलिए सदन की मर्यादा का ख्याल रखते हुए जनता की आवाज बननी होगी, ताकि अपने आचरण से हम बड़ी लकीर खींच सकें। विपक्ष भी सरकार का अंग है। दोनों पक्ष के लोग सार्थक विमर्श करें। सदन के समय का सदुपयोग करें। इस दौरान सभी दलों के सदस्यों ने सदन को चलाने में सकारात्मक सहयोग देने का वादा किया। 

विधानसभा अध्यक्ष ने सभी नेताओं को बताया कि गुरुवार (25 नवंबर) को डा. राजेंद्र प्रसाद की धरती सिवान में युवा संसद का आयोजन किया गया है। इसी दिन जीरादेई में सामाजिक एवं नैतिक संकल्प अभियान का कार्यक्रम होगा। उसमें शामिल होने के लिए विधानसभा अध्यक्ष बुधवार शाम में पटना से सिवान के लिए रवाना हो गए। 

नेताओं ने आग्रह किया कि जनहित के सवालों का जवाब समय पर उपलब्ध करा दिया जाए। पिछले सत्र में कई विभागों ने 90-95 प्रतिशत जवाब दिए। इस बार शत प्रतिशत लक्ष्य है। वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिया जा चुका है। विधानसभा अध्यक्ष ने शिमला में पीठासीन पदाधिकारियों की बैठक में लिए गए संकल्पों के बारे में जानकारी दी। इसके आधार पर विधानसभा द्वारा भविष्य में होने वाले कार्यक्रमों की रूप रेखा से भी अवगत कराया। 

बैठक में उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, उर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव, विपक्ष के मुख्य सचेतक ललित यादव, सत्तारूढ़ दल के उपमुख्य सचेतक जनक सिंह एवं विधानसभा सचिव शैलेंद्र सिंह मौजूद थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.