top menutop menutop menu

आलमगंज, मनेर के थानेदार और एक सिपाही सस्पेंड, सचिवालय थानेदार लाइन हाजिर Patna News

पटना, जेएनएन। आलमगंज में इसी माह चार नवंबर को दो गुटों में आगजनी और मारपीट के मामले में की जांच में थाना स्तर पर बड़ी लापरवाही बरती गई थी। एसएसपी गरिमा मलिक की अनुशंसा पर आइजी संजय सिंह ने शनिवार को आलमगंज के थाना प्रभारी सीपी गुप्ता को सस्पेंड कर दिया। इसके साथ ही उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई का निर्देश भी जारी कर दिया है।

वहीं शराब बिक्री के मामले में दोषी मिले मनेर के थानेदार प्रवीण कुमार सिंह को भी सस्पेंड कर दिया गया है। जबकि सचिवालय थानेदार राजेश कुमार को एसएसपी ने लाइन हाजिर किया है। एसएसपी ने बताया कि जल्द ही इन थानों में नए थानेदारों की तैनाती की जाएगी। शादी का झांसा देकर यौन शोषण मामले में केस दर्ज कर एक सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया है।

पथराव के बाद हुई थी फायरिंग

चार नवंबर की रात मूर्ति विसर्जन के दौरान आलमगंज में दो गुटों के बीच हिंसक झड़प हो गई थी। दोनों गुटों में पहले जमकर पथराव हुआ और फिर ताबड़तोड़ फायरिंग हुई। असामाजिक तत्वों ने मौके पर एएसपी की गाड़ी और थाने की पेट्रोलिंग जीप को क्षतिग्रस्त कर दिया था। हालात इस कदर बिगड़ गए थे कि एडीजी अमित कुमार, आइजी मुख्यालय नैयर हसनैन खान, सेंट्रल आइजी, डीएम व एसएसपी से लेकर अन्य पुलिस अधिकारियों को भी कैंप करना पड़ा था। अगले दिन सबकुछ सामान्य हुआ। एडीजी ने पूरे मामले की जांच का निर्देश दिया था।

अधूरी तैयारी की बात आई सामने

पड़ताल के दौरान पता चला कि मूर्ति विसर्जन को लेकर आलमगंज के थाना प्रभारी स्तर पर अधूरी तैयारी की गई थी। वह खुद भी नहीं थे और जवानों की तैनाती भी कम थी। संवेदनशील इलाका होने के बावजूद थाना प्रभारी बेफिक्र थे। एसएसपी ने बताया जांच के दौरान कई स्तर पर कमियां पाई गई थीं। एक पुलिस अधिकारी की मानें तो थानेदार अगर सक्रिय होते, तब शायद ऐसी स्थिति नहीं उत्पन्न होती। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद सेंट्रल आइजी ने उन्हें सस्पेंड कर दिया।

छापेमारी के बाद भागे-भागे पहुंचे थे थानेदार

करीब दस दिन पूर्व उत्पाद विभाग की टीम ने मनेर थाना क्षेत्र के कमला गोपालपुर के मुसहरी में छापेमारी कर शराब बरामद की थी। इसकी भनक मनेर थानेदार प्रवीण कुमार सिंह से लेकर वहां तैनात किसी जवान को नहीं मिली। सूचना मिलते ही थानेदार भागकर मौके पर पहुंचे थे। सूत्रों की मानें तो थाना पुलिस को इस बात की पहले से खबर थी कि वहां शराब बन रही और बिक्री भी हो रही है। लेकिन, वे कार्रवाई नहीं कर रहे थे। एसएसपी ने बताया कि शराब मामले में मनेर थानेदार को सस्पेंड कर दिया गया है।

यौन शोषण करने के मामले में सिपाही सस्पेंड

दानापुर एसडीओ के अंगरक्षक राजेश कुमार के खिलाफ स्थानीय थाने में शुक्रवार को शादी का झांसा देकर यौन शोषण मामले में केस दर्ज हुआ था। एसएसपी ने शनिवार को अंगरक्षक राजेश कुमार को सस्पेंड कर दिया है। उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई का भी निर्देश दिया गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.