पटना में रथ पर विदा हुए गुरु जी, केंद्रीय विद्यालय में रिटायरमेंट के बाद मिले सम्मान से नम हुईं आंखें

केंद्रीय विद्यालय में गुरुजी को इस तरह दी गई विदाई। जागरण

बिहार की राजधानी पटना के केंद्रीय विद्यालय में 13 शिक्षकों को रिटायर होने पर रथ पर बैठाकर कुछ इस तरह विदाई दी गई कि देखने वालों की भी आंखें नम हो गईं। पटना के बेली रोड स्थित केंद्रीय विद्यालय में आयोजित विदाई समारोह में कई बार भावुक पल आए

Shubh Narayan PathakTue, 02 Mar 2021 10:22 AM (IST)

पटना, जागरण संवाददाता। भारतीय संस्‍कृति में शिक्षकों का कितना सम्‍मान है, यह किसी को बताने की जरूरत नहीं है। बदले दौर में चौतरफा सामाजिक गिरावट का असर कई बार शिक्षा क्षेत्र पर भी देखने को मिलता है, लेकिन अब अभी ऐसे छात्र और ऐसे शिक्षक हैं, जिन्‍होंने भारत की गुरु-शिष्‍य परंपरा को जीवित रखा है। बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Patna) में शिक्षकों के सम्‍मान का एक ऐसा नजारा सोमवार को देखने को मिला, जिसे देखकर हर शख्‍स की आंखें नम हो गईं और सिर श्रद्धा से झुक गए। यह नजारा देखने को मिला पटना एयरपोर्ट (Patna Airport) के पास बेली रोड पर स्थित केंद्रीय विद्यालय (Kendriya Vidyalay) में।

शिक्षक कभी अपने कार्य से अवकाश ग्रहण नहीं करता

बेली रोड स्थित केंद्रीय विद्यालय से रविवार को 13 शिक्षकों को रथ पर बैठाकर काफी भव्य तरीके से विदाई दी गई। विदाई समारोह में कई बार काफी भावुक पल आए, जब शामिल लोगों की आंख नम हो गईं। समारोह में आए अतिथियों का स्वागत स्कूल के प्राचार्य पीके सिंह ने किया। उन्होंने कहा कि शिक्षक कभी अवकाश ग्रहण नहीं करता। जब तक शिक्षा रहेगी, शिक्षकों की उपयोगिता रहेगी। समारोह के मुख्य अतिथि एवं केंद्रीय विद्यालय संगठन के उपायुक्त वाई. अरुण ने कहा कि शिक्षक ही समाज का निर्माण करते हैं। उनकी सेवा एवं समर्पण हर व्यक्ति के लिए अनुकरणीय है।

शिक्षकों के त्‍याग से ही होता सभ्‍य समाज का निर्माण

मौके पर संगठन के सहायक आयुक्त सोमा घोष ने कहा कि शिक्षकों के त्याग से ही सभ्य समाज का निर्माण होता है। आज के समारोह में शिक्षक विजय बहादुर सिंह, सुजीत कुमार मिश्रा, अर्चना झा, चितरंजन जमैयार, अवधेश नारायण सिंह, कमलेश कुमार, अरुण कुमार मिश्रा, शिवचंद्र रॉय, रामाधार सिंह, विनय कुमार सिन्हा, उमाकांत पांडेय, श्याम दयाल यादव एवं जुगेश्वर पासवान को विदाई दी गई। इस अवसर पर केंद्रीय विद्यालय कंकड़बाग के प्राचार्य एमके सिंह सहित कई शिक्षकों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम का संचालन मनोज कुमार उपाध्याय एवं एसपी गुप्ता ने किया।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.