HIGHLIGHTS Bihar CoronaVirus News: बिहार सरकार 18 से अधिक उम्रवालों को देगी फ्री कोविड वैक्‍सीन, सीएम नीतीश ने की घोषणा

बिहार के सीएम नीतीश कुमार की तस्‍वीर ।

HIGHLIGHTS Bihar Coronavirus News बिहार में कोविड ने कोहराम मचा रखा है। इस बीच सियासत भी उबाल पर है। फिलहाल पंचायत चुनाव भी टल गया है। राहत भरी खबर यह है कि नीतीश कुमार ने 18 वर्ष व इसके उपर के सभी लोगों के मुफ्त टीकाकरण की घोषणा की है।

Sumita JaiswalWed, 21 Apr 2021 06:00 AM (IST)

पटना, ऑनलाइन डेस्‍क। HIGHLIGHTS Bihar Coronavirus News Update: बिहार में कोविड संक्रमण के दूसरे लहर की स्थिति विस्‍फोटक होती जा रही है। हर दिन नए संक्रमितों का रिकॉर्ड ध्‍वस्‍त हो रहा है। आज बुधवार फिर12,222 नए संक्रमित मिले हैं। इसमें पटना से 2919 कोविड पॉजिटिव पाए गए। मंगलवार को 10,455 संक्रमित मिले। एक साल में पहली बार संक्रमितों का आंकड़ा चार अंक को पार कर पांच अंकों तक पहुंच गया है। इसके साथ ही कोविड के सक्रिय मामलो की संख्‍या 56 हजार से ज्‍यादा हो गई। पिछले 24 घंटे में 51 लोगों की मौत हो गई। विगत एक वर्ष में कोरोना संक्रमण की वजह से 1841 लोगों की जान जा चुकी है। कोविड की बिगड़ती स्थिति के बीच पटना के पास बिहटा के इएसआइ अस्‍पाल की कमान सेना के डॉक्‍टरों ने संभाल ली है।

वहीं दूसरी तरफ कोविड से बिगड़ते हालात के बीच सियासत उबाल पर है। पक्ष-विपक्ष जमकर राजनीतिक बयानबाजी में मशरूफ हैं।

HIGHLIGHTS Bihar Coronavirus News Update:

10:01 PM -  सीएम नीतीश कुमार ने बुधवार देश शाम ट्वीट कर घोषणा की है कि बिहार सरकार 18 वर्ष व इसके उपर के सभी लोगों को मुफ्त टीकाकरण कराएगी। बता दें कि पीएम मोदी ने एक मई से 18 वर्ष से सभी लोगों के टीकाकरण की घोषणा की थी। इसपर बिहार में असमंजस था कि टीकाकरण मुफ्त होगा या फिर कुछ शुल्‍क लगेंगे। इसपर सीएम ने सारी स्थिति स्‍पष्‍ट की है।

 

09: 12 PM - आज 75,671 लोगों ने लिए कोविड वैक्‍सीन

राज्य में एक ओर जहां नए संक्रमित मिलने का सिलसिला जारी है, वहीं दूसरी ओर टीकाकरण के अभियान में भी भी तेजी है। बुधवार को राज्य में 75671 लोगों ने कोरोना से बचाव को टीके लिए। इनमें 55211 लोगों ने टीके की पहली और 20460 लोगों ने दूसरी डोज ली।

राज्य स्वास्थ्य समिति से प्राप्त जानकारी के अनुसार 21 अप्रैल को 45-59 उम्र के 30454 और 60 वर्ष से ऊपर के 23312 लोगों को पहली डोज दी गई। आज ही 45-59 उम्र के 5338 और 60 से अधिक उम्र के 23359 लोगों को टीके की दूसरी डोज दी गई। इसके साथ ही राज्य में टीकाकरण कराने वालों की संख्या 62,67,491 हो गई है।

08: 15 PM -  फिलहाल टला पंयाचत चुनाव ,15 दिन में होगी घोषणा

बिहार में कोविड के बेतहाशा बढ़ते संक्रमण के बीच राज्‍य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव के लिए 22 अप्रैल से होनेवाली निर्वाची अधिकारियों का प्रशिक्षण स्‍थगित कर दिया है। हालांकि कोविड के कोहराम के बीच निर्वाची अधिकारियों से जुड़े संगठन पहले से ही पंचायत चुनाव टालने की मांग कर रहे थे।  आयोग के उप मुख्‍य निर्वाचन अधिकारी बैजू कुमार सिंह ने आज बुधवार को सभी जिलाधिकारियों को पत्र लिखकर निर्वाची अधिकारियाें के प्रशिक्षण को स्‍थगित करने का निर्देश दिया है। कहा है कि पूरा प्रशासन फिलहाल कोविड की चुनौतियों से निपटने में जुटा हुआ है। 15 दिनों बाद स्थिति की समीक्षा कर प्रशिक्षण की नई तारीख की घोषणा की जाएगी।

07: 30 PM -कोविड संकट को देखते हुए पंचायत चुनाव टालने की मांग

राष्ट्रीय शिक्षक महासंघ ने पूरे राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए  स्थिति सामान्य होने तक आसन्न पंचायत निर्वाचन को स्थगित करने की मांग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से की है। राष्ट्रीय शिक्षक महासंघ के जिलाध्यक्ष सुधांशुशेखर पाण्डेय ने कहा कि नामांकन, प्रचार, मतदान तथा मतगणना आदि कार्यों में वास्तविक सामाजिक दूरी का अक्षरश: पालन सम्भव नहीं हो पाएगा। ऐसे में निर्वाचन कार्य मे लगने वाले शिक्षकों, कर्मियों तथा पदाधिकारियों के साथ मतदाता, मतदान दल, अभिकर्ता, प्रत्याशी आदि के व्यापक रूप से संक्रमित होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि प्रदेश नेतृत्व द्वारा इस  संबंध में राज्य निर्वाचन प्राधिकार को पत्र भी लिखा गया है। पत्र में कहा गया है कि जबतक स्थिति सामान्य न हो जाए, चुनाव कराना किसी भी दृष्टि से मानवता के हित में नहीं है।

07: 01 PM - बिहार में कोविड का कोहराम जारी है। कोविड का दूसरा लहर हर दिन संक्रमितों और मौत के आंकड़े का रिकॉर्ड ध्‍वस्‍त कर रहा है। एम्‍स, पटना में अब तक 384 डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ कोरोना संक्रमित हो चुके हैं।  एम्‍स को कोविड अस्‍पताल बनाया गया है।

06: 33 PM - एनटीपीसी बाढ़  के आधा दर्जन अधिकारियों हुए कोविड पॉजिटिव

 बाढ़ स्थित एनटीपीसी की उत्पादन इकाई से सीधे तौर पर जुड़े जीएम व डीजीएम स्तर के आधा दर्जन अधिकारी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। कई इंजीनियर भी प्रभावित हैं। जीएम हृदेश गुप्ता की स्थिति गंभीर होने के बाद उन्हें एयर लिफ्ट कर यूपी िस्थत दादरी में एनटीपीसी अस्पताल ले जाने की अनुमति एनटीपीसी को जिला प्रशासन से मिल गयी है। गुरुवार की सुबह उन्हें ले जाया जाएगा।

एनटीपीसी के अधिकारियों ने कहा कि उत्पादन इकाई में लोग डर गए हैं। इसके बावजूद भी उत्पादन में एक मेगावाट की कमी नहीं आयी है।

06: 15 PM -  शहाबुद्दीन कोविड पॉजिटिव

बिहार के बाहुबली व सिवान के पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन दिल्‍ली के तिहाड़ जेल में कोविड संक्रमित पाए गए हैं। तिहाड़ जेल संख्‍या दो में उम्रकैद की सजा काट रहे शहाबुद्दीन की हालत पर फिलहाल जेल के डॉक्‍टर नजर बनाए हुए हैं। जरूरत पड़ने पर उन्‍हें जेल के अस्‍पताल से डीडीयू अस्‍पताल भेजा जा सकता है। शहाबुद्दीन के काेविड पॉजिटिव होने के बाद जेल प्रशासन में हडकंप है। जेल संख्‍या दो परिसर को पूरी तरह सैनिटाइज कराया गया है। जेल संख्‍या दो में कोविड संक्रमण जिस तरह पैर पसार रहा, उससे जेल प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। इसी जेल में अंडरवर्ल्‍ड डॉन छोटा राजन और दिल्‍ली का कुख्‍यात नीरज बवानिया भी बंद है।

04: 57 PM- उपेंद्र कुशवाहा ने ट्वीट कर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को दी नसीहत

जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष  व पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने बुधवार को ट्वीट कर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल को खरी-खरी सुनाते हुए लिखा है- जायसवाल अभी -अभी राजनीतिक बयानबाजी का वक्त नहीं है। उपेंद्र कुशवाहा के इस तल्ख ट्ववीट से यह स्पष्ट है कि जदयू को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष की वह बयानबाजी अच्छी नहीं लगी जिसके तहत उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नाइट कर्फ्यू फैसले पर व्यंग्यात्मक अंदाज में यह कहा था कि कोरोना रोकने में नाइट कर्फ्यू से किस तरह से फायदा होगा यह बात समझ में नहीं आ रही।

04: 30 PM- खुद अस्‍पतालों रूई-सूई नहीं दे पाए, आज नीतीश सरकार पर तंज कस रहे :  सुशील मोदी

पूर्व उप मुख्यमंत्री और राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने कहा कि डबल इंजन सरकार पीडि़त मानवता की सेवा के लिए युद्धस्तर पर लगी है, लेकिन कांग्रेस-राजद के राजकुमारों को कुछ भी होता नहीं दिखता। जो लोग बिहार के अस्पतालों में रूई-सूई का भी इंतजाम नहीं कर पाए थे, वे आज कोविड स्पेशल अस्पताल और नए मेडिकल कॉलेज खोलने वाली सरकार पर तंज कस रहे हैं।  

04: 15 PM-  ये क्‍या कह डाला पप्पू यादव ने

जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने यह क्‍या कह डाला?  उन्‍होंने कहा है कि

 एम्स के निदेशक कह चुके हैं कि रेमडेसिविर दवा कोरोना का इलाज नहीं है, फिर इस पर बैन क्यों नहीं लग रहा है। गलत जानकारी के कारण लोग 20-30,000 रुपए तक देकर इस दवा को खरीद रहे हैं। इस दवा पर रोक लगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किए जाने चाहिए और ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था की जानी चाहिए। बिहार में इतनी बुरी स्थिति है कि कल्पना नहीं की जा सकती है। कोरोना वार्ड में मरीजों को खाना खिलाने वाला कोई नहीं है। वार्ड के शौचालयों की सफाई नहीं हो रही है। बीमार व्यक्ति अगर वहां जाएगा तो और बीमार हो जाएगा। उन्होंने एंबलेंस का मनमाना किराया लेने का भी आरोप लगाया।

03: 50 PM-  बिहार महामारी से जूझ रहा और तेजस्वी प्रवास पर : संजय

जदयू विधान पार्षद व पार्टी के मुुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव पर पलटवार करते हुए कहा है कि बिहार महामारी से जूझ रहा है और नेता प्रतिपक्ष बिहार से बाहर प्रवास पर हैं। बिहार के लोगों की फिक्र किए बगैर पलायन कर गए। वह बिहार से आने वाले सांसदों के ऊपर सवाल उठा रहे हैं। लगे हाथ यह भी बता देते कि लोकसभा में उनकी पार्टी के कितने सांसद हैं।

संजय ने कहा कि जिन सांसदों को बिहार की जनता ने चुना, उनमें कई को केंद्र में मंत्री बनने का गौरव हासिल हुआ। उनके द्वारा नाक रगडऩे की बात कह नेता प्रतिपक्ष जनता का अपमान कर रहे हैं। आपदा के समय सभी सांसद अपने सामर्थ्‍य के मुताबिक लोगों की मदद में जुटे हैं औैर नेता प्रतिपक्ष सियासत में व्यस्त हैं। वह कब तक अवसरवादी राजनीति करते रहेंगे? केवल ट्विटर पर कब तक बयानबाजी करेंगे?

03: 45 PM-  बिहार में 40 में से 39 सांसद एनडीए के, मगर कोविड संकट में सब बेकार: तेजस्वी

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा है कि बिहार के 40 में से 39 सांसद राजग के हैैं। केंद्र में पांच मंत्री भी हैैं। किंतु संकट की घड़ी में कोई जनता के काम नहीं आ रहा है। तेजस्वी ने कहा कि सभी सांसदों को बिहार निवासियों से माफी मांगनी चाहिए।  केंद्र पर भी उन्होंने बिहार की जनता से भेदभाव करने का आरोप लगाया और कहा कि गुजरात, उत्तर प्रदेश में डीआरडीओ एवं रक्षा मंत्रालय के जरिए जरूरी दवाएं, ऑक्सीजन एवं डॉक्टर की व्यवस्था की जा रही है, लेकिन बिहार के लिए नहीं। बिहार के सांसद और मंत्री भी चुप हैैं।

सवाल किया कि क्या बिहार की डबल इंजन सरकार आपदा के वक्त भी केंद्र सरकार से जरूरी मदद नहीं मांग सकती या हैसियत और साख देखकर केंद्र सरकार मदद नहीं करना चाहती है? इसके बारे में मुख्यमंत्री को स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। बिहार राजग के सभी सांसद क्या झाल बजा रहे हैैं। उन्हें जनता ने क्या चुप रहने के लिए चुना था।

03: 13 PMजेडीयू कार्यकर्ता ने सीएम नीतीश को दिखाई सच्‍चाई

जेडीयू के कार्यकर्ता ने आइजीआइएमएस अस्‍पताल में कोविड जांच की पोल खोल दी। सुबह से ही घंटों कतार में अपनी बारी का इंतजार करते सब्र जवाब दे गया तो एक वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। वीडियो में सीएम नीतीश कुमार को अस्‍पताल की स्थिति बताते हुए कहा कि ये लोग आपकी सरकार को डूबा देंगे। यहां आम जनता कोविड महामारी की मार से बेहाल है, मगर उनकी सुननेवाला कोई नहीं है। घंटों कतार में लगने के बावजूद आरटीपीसीआर जांच की पर्ची तक कर्मचारी नहीं काट रहे। जेडीयू कार्यकर्ता अवधेश लाल अतिपिछड़ा प्रकोष्‍ठ के पूर्व प्रदेश महासचिव और वर्तमान में दरभंगा जिला कार्यकारिणी के सदस्‍य व मधुबनी के बिस्‍फी विधान सभा क्षेत्र के प्रभारी हैं।

02 :48 PM- बक्‍सर के नावानगर व केसठ प्रखंड के विभिन्न बाजारों में कोरोना से संबंधित गाइडलाइंस की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। प्रशासन की उदासीनता से सतर्कता को ताक पर रख लोग खरीदारी करने में व्यस्त हैं। उन्हें न तो प्रोटोकॉल की कोई फिक्र है और न सोशल डिस्टेंसिंग से कोई मतलब। बाजार में खरीदारी करने वाले अधिकांश लोग बिना मास्क पहने ही एक-दूसरे से धक्‍का-मुक्‍की करते हुए खरीदारी करने में व्यस्त हैं, जिससे कोरोना संक्रमण के विस्‍फोटक होने की संभावना बढ़ती जा रही है।

02 :20 PM-  आज रामनवमी के मौके पर पटना जंक्शन स्थित महावीर मंदिर, राजवंशी नगर के पंचरूपी हनुमान मंदिर समेत अन्य मंदिराें के बाहर भक्तों की भीड़ सुबह से ही दिखाई पड़ रही थी। हालांकि मंदिरों के पट बंद कर दिए गए थे। गेट पर गार्ड की तैनाती कर दी गई थी। कोविड संक्रमण को देखते  पटना महावीर मंदिर, कंकड़बाग मंदिर, बोरिंग रोड पंचमुखी मंदिर सहित अन्य मंदिरों ने गाइडलाइन का पालन किया। रामनवमी पर सिर्फ मंदिरों के पुजारियों ने अकेले ही विधि विधान के साथ प्रभु श्रीराम की पूजा अर्चना की।

1:25 PM- राज्‍य में बड़ी संख्‍या में चिकित्‍सक और स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी कोरोना की चपेट में आ गए हैं। कई अस्‍पतालों में तो एकाध को छोड़ अधिकांश संक्रमित हो गए हैं। पीएमसीएच के प्रिंसिपल समेत 30 डॉक्‍टर व करीब 50 कर्मी कोरोना पॉजिटिव हैं। एनएमसीएच, एम्‍स का हाल भी बुरा है।

12:55 PM- पटना जिले में कोरोना के मामले बड़ी संख्‍या में बढ़ते जा रहे हैं। मौत का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। इस बीच खबर आई है कि स्‍वास्‍थ्‍य विभाग में अपर निदेशक के पद से सेवानिवृत्‍त डॉ टीएन सिंह का निधन कोरोना से हो गया। वे पांच दिनों से एम्‍स में भर्ती थे। पटना के बाद गया में सबसे ज्‍यादा संक्रमित हैं। पटना में 24 घंटे में 2186 संक्रमित मिले वहीं गया में 1081 लोगों में कोरोनावायरस पाया गया। इसके अलावा सारण जिले में 530 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। जांच का दायरा बढ़ने के साथ संक्रमितों का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ रहा है। 

12:05 PM - बिहार में मंगलवार को करीब 93 हजार लोगों ने कोरोना वैक्‍सीन की खुराक ली। राज्‍य में अब तक 61 लाख लोग वैक्‍सीन की डोज ले चुके हैं। आठ लाख से अधिक लोग वैक्‍सीन की दूसरी खुराक भी ले ली है। डॉक्‍टरों का दावा है कि कोरोना वैक्‍सीन की दूसरी खुराक लेने के बाद कोरोना वायरस का असर काफी कम हो जाता है। इस वैक्‍सीन को लेने के बाद आदमी संक्रमित तो हो सकता है, लेकिन उसकी स्थिति गंभीर  नहीं होगी।

11:15 AM - बिहार स्‍टेट बार काउंसिल के सदस्‍य शशि एस किशोर की मौत ऑक्‍सीजन नहीं मिलने के कारण होने की सूचना है। उनका इलाज पीएमसीएच में हाे रहा था। हालांकि अभी अस्‍पताल प्रशासन से इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। बिहार के अस्‍पतालों में ऑक्‍सीजन की कमी दूर करने का दावा प्रशासन लगातार कर रहा है।

10:35 AM - एनएमसीएच में मंगलवार को कोरोना पॉजीटिव सात मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई और 21 नए मरीजों को भर्ती किया गया। साथ ही 117 मरीजों को ऑक्सीजन पर रखा गया है। 16 कोरोना विजेताओं को अस्पताल से छुट्टी दी गई। यह जानकारी नोडल पदाधिकारी डॉ. मुकुल कुमार सिंह ने दिया। उन्होंने बताया कि मरने वालों में एनएमसीएच के पूर्व कर्मी 75 वर्षीय पुरुष, आशियाना नगर के 67 वर्षीय पुरुष, बोरिंग रोड के 65 वर्षीय पुरुष, वैशाली स्थित बिशनपुरा निवासी 50 वर्षीय पुरुष, सारण निवासी 65 वर्षीय पुरुष, बक्सर स्थित डुमरांव की 65 वर्षीया महिला शामिल हैं।

10:00 AM - एनएमसीएच के अधीक्षक डॉ. विनोद कुमार सिंह और उपाधीक्षक डॉ. सरोज कुमार मंगलवार की देर रात अस्पताल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सामने आई कमियों को दूर करने का निर्देश सभी स्वास्थ्य प्रबंधकों को दिया। अधीक्षक ने बताया कि शाम से लेकर देर रात तक में लगभग 60 नए मरीज भर्ती हुए हैं। उन्होंने कहा कि मरीजों की संख्या बढ़ जाने के कारण अब विभाग में भर्ती होने वाले सभी मरीजों की जिम्मेदारी विभागाध्यक्ष की होगी। उन्होंने ऑक्सीजन की व्यवस्था का भी जायजा लिया।

09:20 AM - राजधानी पटना सहित आसपास के इलाके में मंगलवार को 2594 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। इसमें 214 दूसरे जिले के रहने वाले हैं। अब जिले में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 14,467 हो गई है। पटना सदर क्षेत्र में एक्टिव केस की संख्या 10,466 पहुंच गई।

08:40 AM - पटना जिले के मोकामा रेफरल अस्पताल में मंगलवार को 390 लोगों को कोरोना निरोधी टीका लगाया गया। इसमें प्रथम व दूसरा डोज शामिल बताई गई है। वहीं 150 लोगों ने आरटीपीसीआर विधि से जांच कराई। अस्पताल प्रभारी रविशंकर शरण सिंह ने कहा कि किसी के पॉजिटिव होने की सूचना नहीं मिली है।

08:10 AM - बिहार सरकार ने कोविड मरीजों की सहायता के लिए जिला स्‍तर पर 24 घंटे और सातों दिन काम करने वाली हेल्‍पलाइन शुरू की है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय ने जरूरतमंद लोगों को इन नंबरों पर संपर्क करने की अपील की है। हर जिले के लिए टॉल फ्री नंबर सरकार ने जारी किया है। पटना जिले के लिए यह नंबर 18003456019 है। संजीवन एप के जरिये भी लोग मदद ले सकते हैं।

07:35 AM - बिहार में कोरोना वायरस लगातार बेलगाम हो रहा है। बिहार सरकार की ओर से जारी आंकड़े के मुताबिक पिछले 24 घंटे में केवल 3577 मरीज कोरोना वायरस को हराकर स्‍वस्‍थ हुए हैं। इसके उलट इसी दौरान कोरोना के 10 हजार से भी अधिक मरीज मिले हैं। इस तरह मरीजों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है। बिहार में संक्रमण की दर कई गुना बढ़ गई है, जबकि रिकवरी रेट लगातार गिरता जा रहा है।

07:00 AM - बिहार में कोरोना की रफ्तार थामने के लिए सरकार जांच की तादाद को लगातार बढ़ाने में जुटी है। मंगलवार की शाम जारी आंकड़े के अनुसार 24 घंटे में एक लाख छह हजार 156 लोगों की जांच की गई। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि अब तक दो करोड़ रुपए 54 लाख से अधिक लोगों की जांच की जा चुकी है।

06: 30 AM - सेना के डॉक्टरों ने संभाली ईएसआइ अस्पताल बिहटा की कमान

राज्य में कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच सेना के डॉक्टरों की टीम ने बिहटा के ईएसआइ अस्पताल की कमान संभाल ली है। सेना के ये डॉक्टर रांची से आए हैं। फिलहाल यहां 50 बेड कोविड मरीजों के लिए रिजर्व किए गए हैं। अब उम्मीद है कि जल्द ही यहां ज्यादा से ज्यादा बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित होंगे।

06: 15 AM - यहां भी शुरू होगा कोविड मरीजों का इलाज

राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने मंगलवार को बताया कि यह भी फैसला लिया गया है कि राजेंद्र नगर के नेत्र अस्पताल में बुधवार से 70 बेड कोविड मरीजों के लिए आरक्षित रहेंगे। यह सभी बेड ऑक्सीजन युक्त होंगे। इसके अलावा आइजीआइएमएस में कैंसर अस्पताल बनकर तैयार है। संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए इस अस्पताल में भी 70 बेड चालू किए जा रहे हैं जहां कोरोना मरीजों का इलाज होगा।

06: 00 AM - आरएमआरआइ में आधे से अधिक कर्मी संक्रमित, आज नहीं होगी जांच

अगमकुआं स्थित राजेंद्र स्मारक चिकित्सा विज्ञान अनुसंधान संस्थान (आरएमआरआइ) की वायरोलॉजी लैब में कार्यरत आधे से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों के संक्रमित हो जाने के कारण बुधवार को कोरोना के नमूनों की जांच नहीं होगी। निदेशक डॉ. कृष्णा पांडेय ने मंगलवार को बताया कि यहां के आठ कर्मी संक्रमित हो गए हैं। इस कारण एक दिन कार्यालय भी बंद रहेगा। लैब को बंद रखकर सैनिटाइज किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह निर्णय आइसीएमआर की स्वीकृति के बाद लिया गया है। निदेशक ने बताया कि प्रतिदिन यहां की लैब में प्रदेशभर से आने वाले पांच हजार से अधिक कोरोना नमूनों की जांच की जाती है।

05: 30 AM - 29 जिलों से तीन अंकों में मिले संक्रमित

पटना 2186, गया, 1081, सारण 530, मुजफ्फरपुर 544, भागलपुर 449, नालंदा 375, वैशाली 334, प. चंपारण 232, औरंगाबाद 350, अरवल 144, बेगूसराय 346, भोजपुर 157, बक्सर 232, पू. चंपारण 168, गोपालगंज, 118, जमुई 156, जहानाबाद 180, कटिहार 228, लखीसराय 103, मधेपुरा 153, मधुबनी 114, मुंगेर 317, नवादा 150, पूर्णिया 294, रोहतास 139, सहरसा 163, समस्तीपुर 157, सिवान 228 और सुपौल से 144 संक्रमित मिले हैं। 

यह भी पढ़ें- औरंगाबाद में दो दिनों तक पड़ा रहा महिला का शव, इस वजह से स्‍वजन व ग्रामीण नहीं कर रहे थे अंत्‍येष्टि

पूर्व मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा, हॉस्‍टल में बैठे जूनियर डॉक्‍टरों को लगाएं कोरोना मरीजों के उपचार में

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.