Bihar Flood: भारी बारिश से उफनाने लगीं नदियां, बिहार के बाढ़ प्रभावित जिलों में भेजी जा रहीं NDRF की 10 टीमें

Bihar Flood मूसलाधार बारिश और नेपाल से नदियों में छोड़े जा रहे पानी को देखते हुए राज्‍य सरकार अलर्ट मोड में है। आपदा प्रबंधन एवं जल संसाधन विभाग को भी सतर्क कर दिया गया है। इसी बीच NDRF की 10 टीमें बाढ़ प्रभावित जिलों के लिए रवाना हो गईं हैं।

Vyas ChandraThu, 17 Jun 2021 08:00 AM (IST)
बिहार के बाढ़ प्रभावित जिलों के लिए एनडीआरएफ की टीम रवाना। संकेतात्‍मक तस्‍वीर

पटना, जागरण संवाददाता। Bihar Flood राज्य की नदियां उफान पर हैं। इसको देखते हुए बाढ़ से बचाव कार्य के लिए नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स (एनडीआरएफ) की बिहटा यूनिट से 10 टीम को अलग-अलग जिलों में भेजा जा रहा है। बाढ़ बचाव उपकरण, कटिंग टूल्स व उपकरण संचार उपकरण, मेडिकल किट, डीप डाइविंग सेट, इनफ्लैटेबल लाइटिंग टावर आदि से सभी टीम लैस हैं। टीम के साथ कुशल गोताखोर तैराक और मेडिकल स्टाफ भी मौजूद रहेंगे। किसी भी विपरीत स्थिति से निपटने के लिए टीम पूरी तरह तैयार है। 

आपदा प्रबंधन विभाग की मांग पर टीम की तैनाती 

कमांडेंट विजय सिन्हा ने बताया कि बिहार राज्य आपदा प्रबंधन विभाग (Disaster Management Deparment) की मांग पर एनडीआरएफ, नई दिल्ली की सहमति से नौवीं वाहिनी की टीम अररिया, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, मोतिहारी, बेतिया तथा पटना जिलों में तैनात की जा रही हैं। वहीं बेतिया, अररिया, किशनगंज तथा झारखंड के जमशेदपुर जिले में टीम की तैनाती की जा चुकी है। 

बाढ़ की संभावना को देखते हुए सरकार सजग

इस वर्ष यास चक्रवातीय तूफान के कुछ ही अंतराल के बाद मानसून का आगमन हो गया। मानसून के आने से पहले प्री मानसून में भी अच्‍छी बारिश हुई। इधर नेपाल की तरफ से नदियों में पानी छोड़ने का सिलसिला जारी है। इस वजह से बाढ़ की आशंका है। इसको देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग शुरू से सक्रिय है। बाढ़ पूर्व सभी एहतियाती कदम उठाने का निर्देश दिया जा चुका है। 

मुख्‍यमंत्री ने तटबंधों की निगरानी का दिया है निर्देश 

बीते दिन सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने भी जल संसाधन विभााग (Water Resources Department )एवं आपदा प्रबंधन विभाग  के अधिकारियों के साथ बैठक कर सिथति की समीक्षा की थी। तटबंधों की निगरानी का निर्देश सीएम ने दिया था। साथ ही एनडीआरएफ व एसडीआरएफ की टीम को मुस्‍तैद रहने को कहा था। खासकर पूर्वी एवं पश्चिमी चंपारण के अलावा गोपालगंज को विशेष अलर्ट पर रहने को कहा गया था।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.