दीवार गिरने से एक ही परिवार के तीन लोग हुए जख्मी

नवादा। नारदीगंज बाजार में शनिवार की सुबह अचानक एक दीवार गिरने से दो महिला व एक बच्चा कुल तीन लोग मलबे में दब गए। संयोग अच्छा रहा कि किसी की जान नहीं गई।

JagranSat, 12 Jun 2021 11:40 PM (IST)
दीवार गिरने से एक ही परिवार के तीन लोग हुए जख्मी

नवादा। नारदीगंज बाजार में शनिवार की सुबह अचानक एक दीवार गिरने से दो महिला व एक बच्चा कुल तीन लोग मलबे में दब गए। संयोग अच्छा रहा कि किसी की जान नहीं गई। इलाज के बाद सभी खतरे से बाहर हैं। आसपास के लोगों ने मलबा हटाकर उसमें दबे लोगों को बाहर निकालकर अस्पताल में भर्ती कराया।

सूचना के बाद थाना से एएसआइ बड़ेलाल यादव पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचककर मामले की जांच-पड़ताल किया।

बताया गया कि राजगीर-बोधगया राजमार्ग 82 पर नारदीगंज बाजार में नवलेश यादव का कोयला की दुकान है। दुकान से सटे विदेशी मांझी का घर है। अचानक इस दौरान कोयला डीपो का दीवार भर-भराकर गिर पड़ा। मिट्टी से जोड़ा गया ईंट का दीवाल पर कोयला का दबाव बना हुआ था। उपर से हुई बारिश से दीवार वजन को बर्दाश्त नहीं कर पाया। फलत: दीवार गिर गया। फलत: घर के अंदर रही विदेशी मांझी की पत्नी 55 वर्षीया रामपड़ी देवी, 30 वर्षीया पुत्री संगीता देवी और 2 वर्षीया नातिन ज्योति कुमारी मलबे में दब गए। जिस वक्त हादसा हुआ विदेशी के घर में चूल्हा पर खाना बनाया जा रहा है।

दीवार गिरने की खबर के बाद बड़ी संख्या में लोग वहां जुट गए। आसपास के लोगों ने कड़ी मशक्कत कर सभी को निकाला और सीएचसी नारदीगंज पहुंचाया। जहां इलाज के बाद सभी की स्थिति खतरे से बाहर बताई गई। सीएचसी के चिकित्सक डॉ विजय कृष्ण परमेश्वरम ने कहा कि चिता जैसी कोई बात नहीं है। सभी हालत में सुधार हो रहा है।

घटना की खबर के बाद मुखिया रणविजय पासवान, सरपंच प्रवेश रविदास आदि ने पीड़ित परिजनों का हालचाल लिया। जख्मियों की हालत खतरे से बाहर होने की खबर के बाद लोगों ने राहत की सांस ली।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.