लक्ष्य के अनुरूप राशि की करें वसूली : एडीएम

नवादा समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में सोमवार को अपर समाहर्ता उज्ज्वल कुमार सिंह ने आंतरिक संसाधन की समीक्षा बैठक की। जिसमें राशि वसूली की विस्तृत समीक्षा की गई।

JagranMon, 23 Aug 2021 11:45 PM (IST)
लक्ष्य के अनुरूप राशि की करें वसूली : एडीएम

नवादा : समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में सोमवार को अपर समाहर्ता उज्ज्वल कुमार सिंह ने आंतरिक संसाधन की समीक्षा बैठक की। जिसमें राशि वसूली की विस्तृत समीक्षा की गई। एडीएम ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्य के अनुसार आंतरिक संसाधन की वसूली करना सुनिश्चित करें। समीक्षा के क्रम में बताया गया कि निबंधन कार्यालय नवादा और रजौली के द्वारा संयुक्त रूप से 1976 लाख रुपये की वसूली जुलाई माह तक कर ली गई है। वहीं वाणिज्यकर पदाधिकारी ने बताया कि 1653 लाख रूपये की वसूली की गई है, जो वार्षिक लक्ष्य का लगभग 18 प्रतिशतत है। इसी प्रकार जिला परिवहन पदाधिकारी नवादा ने बताया कि 1053 लाख रूपये की वसूली की गयी है। चेक पोस्ट रजौली करारोपण पर अधिकारी समेकित जांच चौकी रजौली द्वारा 267.69 लाख रूपया की वसूली की गई है। राष्ट्रीय बचत पदाधिकारी नवादा ने बताया कि जुलाई माह तक 3116 लाख रूपये की वसूली की गई है, जो लक्ष्य का 25 प्रतिशत से अधिक है। जिला सहकारिता पदाधिकारी नवादा ने बताया कि 2 लाख 56 हजार की वसूली की गई है, जो वार्षिक लक्ष्य का 15 प्रतिशत है। कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद वारिसलीगंज ने बैठक में बताया कि 07 लाख 79 हजार रूपये की वसूली की जा चुकी है, जो कुल लक्ष्य का 22 प्रतिशत से अधिक है। जिला मत्स्य पदाधिकारी एवं कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद नवादा के द्वारा रिपोर्ट नहीं दिया गया है।

बर्खास्त कर्मियों का धरना-प्रदर्शन 29 वें दिन भी जारी : नवनियुक्त कर्मचारी संघ नवादा के बैनर तले जिले के 2004 पैनल से बर्खास्त चतुर्थवर्गीय कर्मियों का पुन: पदस्थापित करने की मांग को लेकर समाहरणालय के समीप रैन बसेरा में चल रहा अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन सोमवार को 29 वें दिन भी जारी रहा। संघ के अध्यक्ष मनोज मिश्रा ने कहा कि 2004 पैनल से नियमानुसार बहाली हेतु प्रक्रिया करते हुए वर्ष 2006 में 130 चतुर्थवर्गीय कर्मियों की नियुक्ति चार विभागों में की गई थी। लेकिन अचानक वर्ष अप्रैल 2013 में बिना कोई स्पष्टीकरण एवं वरीय आदेश प्राप्त हुए 2004 पैनल को असंवैधानिक तरीके से रद्द करते हुए 112 कर्मियों को बर्खास्त कर दिया गया। मौके मनोज कुमार पंकज, शिवलाल रविदास,यागेंद्र प्रसाद सिंह, सुखदेव मेहता, नीरा देवी, नवलकिशोर पासवान, रुबी देवी, मो.नसीम उद्दीन, अजय कुमार पांडेय, शैलेंद्र प्रसाद सिंह, सजन प्रसाद रजक, अवधेश पासवान, अशोक कुमार सिन्हा, सुनील कुमार पांडेय, विजय कुमार, संजय प्रसाद समेत अन्य लोग शामिल थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.