नवादा में कोविड गाइडलाइन का पालन कर मनाएं पर्व

समाहरणालय सभागार में शनिवार को जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक हुई। जिसमें चेहल्लुम और दशहरा पर्व को लेकर चर्चा की गई। जिलाधिकारी यश पाल मीणा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में एसपी डीएस सावलाराम सहित कई अधिकारी व शांति समिति के सदस्य उपस्थित रहे। डीएम ने कहा कि कोविड गाइडलाइन का पालन कर पर्व मनाएं।

JagranSat, 25 Sep 2021 10:57 PM (IST)
नवादा में कोविड गाइडलाइन का पालन कर मनाएं पर्व

नवादा । समाहरणालय सभागार में शनिवार को जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक हुई। जिसमें चेहल्लुम और दशहरा पर्व को लेकर चर्चा की गई। जिलाधिकारी यश पाल मीणा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में एसपी डीएस सावलाराम सहित कई अधिकारी व शांति समिति के सदस्य उपस्थित रहे। डीएम ने कहा कि कोविड गाइडलाइन का पालन कर पर्व मनाएं।

कोरोना की तीसरी लहर की संभावना अभी समाप्त नहीं हुई है। इसलिए दशहरा में सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं होगा। डीजे पर भी पूर्व की तरह प्रतिबंध जारी रहेगा। दुर्गा पूजा में छोटी-छोटी प्रतिमा स्थापित करें। विसर्जन में भीड़ कदापि नहीं हो। बड़ा पंडाल का निर्माण नहीं किया जाए। सीमित संसाधनों से सीमित तरीके से त्यौहार को मनाया जाए। उन्होंने कहा कि शांति समिति के सदस्य त्योहार को लाइव टेलीकास्ट करें, ताकि लोग अपने घरों में बैठकर ही पूजा को देख सकें। सभी शांति समिति के सदस्यों से सहयोग की अपील की गई। डीएम ने कहा कि आपका सहयोग मिलेगा तो हम लोग जिला में बेहतर कार्य कर सकेंगे। शांतिपूर्ण वातावरण में त्यौहार को मनाने की अपील की गई। एसपी ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण से बचने के लिए मेला नहीं लगाएं। जुलूस के लिए लाइसेंस नहीं दिया जाएगा। कहीं पर जाम होता है तो धैर्य से काम लें। पंचायत चुनाव हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। कहीं पर भी पंडाल रास्ते पर नहीं लगाएंगे। सभी पंडालों में सीसीटीवी लगाना अनिवार्य है और कोविड गाइडलाइन का भी अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। प्रत्येक पूजा पंडाल में कार्यकर्ताओं का नाम, फोटो, मोबाइल नंबर प्रदर्शित करें। सभी दुकानदार एवं सभी श्रद्धालु पूजा में मास्क लगाएं रखें। पर्व का लाइव टेलीकास्ट दिखाएं, जिससे भीड़ नहीं लगेगी। सभी पूजा समिति के सदस्यों को वेबकास्टिग करने का निर्देश दिया गया, जिससे श्रद्धालु अपने घरों में बैठकर माता दुर्गा का दर्शन कर सकें। शांति समिति के सदस्यों ने भी उपर्युक्त निर्देशों के संबंध में अपनी सहमति दी। कहा कि गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। भीड़ को कम करने के लिए गोद भराई के कार्य को लंबी अवधि चलाया जाए। समिति के सदस्यों ने शहर को जाम से मुक्त करने की मांग की। नेमदारगंज में सुरक्षा के लिए अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की मांग की गई। डीएम ने एसडीएम को पर्व से पूर्व शांति समिति की बैठक करने का निर्देश दिया। मौके पर सदर एसडीएम उमेश कुमार भारती, रजौली एसडीपीओ संजय कुमार पांडेय, पकरीबरावां एसडीपीओ मुकेश कुमार साह, नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी कन्हैया प्रसाद, डीपीआरओ सत्येंद्र प्रसाद मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.