मनमानी करने वाले कपड़ा, रेडिमेड की छह दुकानों को सीओ ने किया सील

मनमानी करने वाले कपड़ा, रेडिमेड की छह दुकानों को सीओ ने किया सील

नवादा रविवार को लॉकडाउन के 5वें दिन पुलिस-प्रशासन की टीम ने रजौली में मनमानी कर अपनी

JagranSun, 09 May 2021 11:32 PM (IST)

नवादा : रविवार को लॉकडाउन के 5वें दिन पुलिस-प्रशासन की टीम ने रजौली में मनमानी कर अपनी दुकान खोलने वाले कपड़ा व रेडिमेड समेत 6 दुकानों को सील कर दिया। मनमानी करने वाले दुकानदारों पर रविवार की सुबह सीओ अनिल कुमार, प्रशिक्षु डीएसपी सह प्रभारी थानाध्यक्ष फिरोज आलम व इंस्पेक्टर दरबारी चौधरी ने कड़ी कार्रवाई की। पुरानी बसस्टैंड व रजौली बाजार के 6 दुकानों को सील कर दिया। सील किए गए इन दुकानों में कुंदन साड़ी हाउस, सोना रेडिमेड आदि शामिल है।

गौरतलब है कि शनिवार को रजौली बीच बाजार स्थित शारदा मार्केट के पास कपड़ा व्यवसायी अशोक राम के दुकान में कपड़ा खरीदने वाले ग्राहकों के होने के बाद भी दुकान को सील करने के बजाय छोड़ दिया गया था। जिसके कारण पुलिस-प्रशासन की काफी फजीहत हुई थी। इस घटना से झल्ला कर सीओ के नेतृत्व में निकली अधिकारियों की टीम ने रविवार की सुबह से ही कपड़ा दुकानों पर कार्रवाई करनी शुरू की। जहां भी कपड़ा व रेडिमेड की दुकानें खुली मिली। प्रशासन ने उसे सील कर दिया। अधिकारियों ने बताया कि जिन भी दुकानों को सील की गई है। वे सभी दुकानें लॉक डाउन के बाद खुलेगी।

एसडीओ चन्द्रशेखर आजाद ने बताया कि कोरोना की दूसरी लहर काफी खतरनाक है। बावजूद लोग संक्रमण से बचने के बजाय दुकान खोल कर लोगों के बीच संक्रमण पैदा करने का प्रयास रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे लापरवाह लोग प्रशासन की बातों को गंभीरता से समझें। अगर उन्होंने स्वेच्छा से दुकानें बंद नहीं कि तो उनके विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि लोग निजी स्वार्थ से उपर उठकर सार्वजनिक रुप से लोगों के स्वास्थ्य के बारे में सोचें। उन्होंने लोगों से अपील की कि लॉक डाउन के दौरान लोग घर पर ही रहें, जरूरी काम होने पर ही घर से बाहर निकलें। खुद भी सुरक्षित रहें और लोगों को भी सुरक्षित रहने के लिए जागरूक करें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.